Home Blog

ड्रग्स तस्करी का आरोपित गिरफ्तार, ब्राउन शुगर बरामद

0

बरपेटा (असम), 19 जून (उदयपुर किरण). जिले की बरपेटारोड पुलिस ने ड्रग्स तस्करी के एक आरोपित को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से आठ कंटेनर ब्राउन शुगर बरामद किया है. साथ ही उसकी बाइक भी जब्त कर ली गई है.

पुलिस ने बुधवार को बताया है कि मंगलवार रात बरपेटारोड स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग-31 पर बेकी नदी पुल पर तलाशी अभियान के दौरान चिरांग जिले के एक नंबर माझराबारी गांव निवासी फैजाइल हुसैन को गिरफ्तार किया गया है. उसके पास से ब्राउन शुगर के आठ कंटेनर बरामद हुए हैं. साथ ही उसकी अपाची बाइक भी जब्त कर ली गई है.

पुलिस ने बताया है कि आरोपित चिंराग से बाइक से बरपेटा रोड पर युवाओं को ड्रग्स आपूर्ति करने के लिए जा रहा था. वह बेकी नदी पर बने पुल पर ग्राहकों का इंतजार कर रहा था. इस बीच उसे दबोच लिया गया. इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर आरोपित से पूछताछ की जा रही है.

 

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

घर में चोरी होने को लेकर सुरेंद्र शर्मा ने प्राथमिकी दर्ज कराई

0
धनबाद, 19 जून (उदयपुर किरण).धनबाद  जिले में   बिरला ढाल निवासी सुरेंद्र शर्मा ने निरसा थाना में घर में चोरी होने को लेकर बुधवार को प्राथमिकी दर्ज कराई है. अपने लिखित शिकायत में भुक्तभोगी सुरेंद्र शर्मा ने कहा कि सोमवार की  सुबह पूरे परिवार के साथ 8:30 बजे जगन्नाथ मंदिर गोपालगंज के लिए निकले थे. जहां पूजा पाठ कर  प्रसाद लेकर मंगलवार देर रात घर पहुंचे तो देखा कि  अंदर का दरवाजा टूटा हुआ है. इसके साथ ही   गोदरेज का ताला टूटा हुआ था  और घर का पूरा सामान बिखरा पड़ा हुआ था.  गोदरेज में रखे कान का बाली, चैन, अंगूठी,मनटिका, चांदी का पायल, एक मोबाइल, दो घड़ी कासा का बर्तन और 20 हजार नगद समेत कुल एक  लाख 80 हजार  रूपये  मूल्य की संपति की  चोरी कर ली गई. सूचना पाकर निरसा पुलिस पहुंचकर चोरी की घटना की छानबीन कर रही है.

 

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

डंडे से पीटकर हत्या कर दी पत्नी की

0
कोंडागांव, 19 जून  (उदयपुर किरण). शराब के नशे में धुत पति ने बीती रात अपनी पत्नी को डंडे से ऐसा मारा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई. पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है.
मिली जानकारी के मुताबिक फरसगांव ब्लाक मुख्यालय से महज 3 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम पंचायत गट्टीपलना के प्लाटपारा में 40 वर्षीय राजूराम मरकाम का किसी बात को लेकर उसकी 34 वर्षीय पत्नी सामोबाई मरकाम से विवाद हो गया. मामूली सी बात से शुरू हुआ यह विवाद इतना बढ़ गया कि राजूराम ने नशे की हालत में अपनी पत्नी को पहले हाथ से मारा और बाद में घर में रखे डंडे से इतना मारा कि उसकी पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई.

 

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

थाने में बंद युवक की मौत पर हंगामा, परिजनों ने पुलिस पर लगाया हत्या का आरोप

0
भोपाल, 19 जून (उदयपुर किरण). पुलिस की कार्यशैली इन दिनों सुर्खियों में है. दिल्ली पुलिस की बर्बरता पर मचे बवाल के बाद अब भोपाल की बैरागढ़ पुलिस पर गंभीर आरोप लगे हैं. सड़क हादसे के बाद हिरासत में लिए गए युवक की थाने की हवालात में मौत हो गई. परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने उनके बच्चे की पीट-पीटकर हत्या कर दी है. मृतक का दोस्त भी पुलिस की पिटाई से अधमरा हो गया, जिसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सूचना पर पुलिस के आलाधिकारी भी हमीदिया अस्पताल पहुंच गए हैं. युवक की मौत पर परिजनों ने हमीदिया मर्चुरी के बाहर जमकर हंगामा किया और दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग पर अड़े हैं.
जानकारी के अनुसार शिवम मिश्रा नामक युवक अपने दोस्त गोविंद के साथ मंगलवार रात खाना खाने ढाबा पर गया था. खाना खाने के बाद दोनों देर रात करीब ढाई बजे अपनी एक्सयूवी कार से घर लौट रहे थे. रात होने के कारण शिवम ने कार को बीआरटीएस काॅरिडोर से निकाल रहा था. बीआरटीएस कॉरिडोर में निकलने के दौरान उनकी कार रेलिंग से टकरा गई. इस दौरान वहां मौजूद लालघाटी पुलिस दोनों को बैरागढ़ थाने ले गई. इसके बाद बुधवार सुबह शिवम की मौत की खबर परिजनों को मिली तो हंगामा शुरू हो गया. शिवम के परिवार ने पुलिस पर उनके बेटे की हत्या करने का आरोप लगाया है. उनका कहना है पुलिस की मारपीट के कारण शिवम की मौत हुई है.
 मृतक के मामा संजय भार्गव ने आरोप लगाया कि पुलिस ने पीट-पीट कर शिवम की जान ले ली. उन्होंने उसकी सोने की चेन भी लूटने के आरोप लगाया है. परिजनों का कहना है कि मृतक ने करीब 15 तोले सोने की चेन और अंगूठी पहनी हुई थी जो पुलिस ने लूट ली. मृतक शिवम मिश्रा के पिता साइबर सेल में हैं. मृतक का दोस्त गोविंद घायल है, जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. परिजन हमीदिया अस्पताल पहुंचे जहां मोर्चुरी के बाहर जमकर हंगामा किया. परिजन दोषी पुलिस कर्मियों पर हत्या और लूट का प्रकरण दर्ज करने की मांग कर रहे हैं. मामला गरमाने के बाद आला अधिकारी हमीदिया अस्पताल पहुंच गए हैं. डीआईजी इरशाद वली बैरागढ़ थाने पहुंचे हुए हैं और मामले की जानकारी कर रहे हैं. भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा भी पहुंचे हैं और उन्होंने पुलिस और सरकार पर हमला बोला है.

 

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

हरियाणा में पकड़ी गई प्रेमी संग फरार विवाहिता

0

गुवाहाटी, 18 जून  (उदयपुर किरण). बंगाईगांव जिले से प्रेमी संग फरार हुई विवाहित महिला को पुलिस ने हरियाणा से पकड़ लिया है. पुलिस ने महिला और उसके प्रेमी को हिरासत में लेकर असम वापस ले आई है.

पुलिस ने मंगलवार को बताया है कि बंगाईगांव की एक महिला फेसबुक के माध्यम से हरियाणा के जोगेंद्र टोनी वर्मा के संपर्क में आई. दोनों के बीच प्यार हो गया. महिला ने उसके साथ घर से भागने का फैसला कर लिया. दोनों गत 29 मार्च को बंगाईगांव रेलवे स्टेशन से हरियाणा के रोहतक जिले के लिए ट्रेन में सवार हुए.

महिला के परिवार को जब उसके गायब होने की जानकारी मिली तो उन्होंने बंगाईगांव थाना में एक प्राथमिकी दर्ज कराई. शिकायत के आधार पर पुलिस ने महिला की तलाशी शुरू की. आखिरकार दोनों को हरियाणा से पकड़ लिया गया. टोनी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि उसकी महिला से फेसबुक पर मुलाकात हुई. दोनों ने फोन नंबरों का आदान-प्रदान किया. समय के साथ उनका रिश्ता प्यार में तब्दील हो गया. फिलहाल, पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

वाराणसी: अवकाश प्राप्त कर्मचारी की धारदार हथियार से मारकर हत्या

0
वाराणसी,19 जून (उदयपुर किरण). बड़ागांव थाना क्षेत्र के इंदरपुर (गोरी) गांव में  पोस्ट आफिस से अवकाश प्राप्त (65) कर्मचारी की धारदार हथियार से मार कर हत्या कर दी गई. बुधवार की सुबह घटना की जानकारी मिलने पर क्षेत्रीय पुलिस,  डाग स्क्वायड और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट टीम मौके पर पहुंच कर छानबीन में जुट गई.
पोस्ट आफिस से अवकाश प्राप्त करने के बाद राम प्रसाद यादव इंदरपुर गांव में परिवार के साथ रहते थे. बीते मंगलवार की देर शाम राम प्रसाद और उनके परिजन भोजन के बाद सोने चले गये. गरमी महसूस होने पर राम प्रसाद अपने घर के पास स्थित खेत में चारपाई लेकर सोने चले गये. सुबह उधर से गुजर रहे ग्रामीणों ने राम प्रसाद का रक्त रंजित शव देखा तो परिजनों को सूचना दी. सूचना पाते ही परिजन आनन-फानन में खेत में पहुंच गये. राम प्रसाद के सिर और चेहरे पर धारदार हथियार से वार देख परिजनों ने बड़ागांव पुलिस को सूचना दी. तब तक बड़ागांव थानाध्यक्ष के साथ मौके पर एसपी ग्रामीण,सीओ बड़ागांव अर्जुन सिंह भी पहुंच गये. उन्होंने मौके पर फिंगर प्रिंट टीम और डाग स्क्वायड टीम को बलवाया. छानबीन में खोजी कुत्‍ता घटना स्थल से कुछ दूर नदी के किनारे जाकर रूक गया. सम्भावना जताई गई कि हत्यारे नदी किनारे किसी वाहन से भाग निकले. पूछताछ और छानबीन के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

चिकित्सक गए खाना खाने तो परिजनों ने काटा हंगामा

0
फर्रुखाबाद,19 जून (उदयपुर किरण). मंगलवार की देर रात लोहिया अस्पताल में कुछ लोगों ने हंगामा कर दिया और डाक्टरों के साथ बदसलूकी की. मरीज के परिजनों का आरोप है कि भर्ती कराने के बाद भी डाक्टर खाना खाने चले गये, जबकि फार्मासिस्ट इलाज करता रहा. मरीज को ले जाते समय आक्रोशित अस्पताल के उपकरण भी उठा ले गए. भयभीत डाक्टरों ने काम करना बंद कर दिया. पुलिस ने दो लोगों को इस मामले में बुधवार को हिरासत में ले लिया है. बताया जाता है कि हंगामा करने वाले लोग भाजपा सासंद के समर्थक थे.
लोहिया अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष में बीती रात डाक्टर प्रशांत कुमार सिंह फार्मासिस्ट सुधा कांत मिश्रा एवं वार्ड बॉय हरिकिशन ड्यूटी पर मौजूद थे. थाना कमालगंज के मोहल्ला अंबेडकर नगर निवासी शक्ति राजपूत अपने बड़े भाई राजकिशोर के पुत्र आकाश (30) को लेकर इमरजेंसी कक्ष पहुंचे. फार्मासिस्ट श्री ने आकाश को इंजेक्शन लगा कर ऑक्सीजन देना शुरु कर दिया. इसी दौरान शोले ठाकुर बब्बा दुबे आदि कई लोग लोहिया अस्पताल पहुंचे. उस समय डाक्टर प्रशांत इमरजेंसी कक्ष के पास ही कमरे में खाना खा रहे थे. इमरजेंसी कक्ष में डाक्टर को न देखकर परिजन नाराज हो गए. उन्होंने डाक्टर पर मौज मस्ती का आरोप लगा कर साथ गाली गलौज शुरू कर दी. डाक्टरों का कहना है कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने इसी दौरान डाक्टर की सांसद के भतीजे से फोन पर बात कराई. विवाद होने के कारण परिजन आकाश को रेफर करा कर ले गए. जाते समय आकाश के परिजन इमरजेंसी कक्ष के आवश्यक उपकरण भी जबरन ले गए.

इंस्पेक्टर व सीएमएस पहुंचे मौके पर

 घटना की जानकारी मिलने पर सीएमएस डाक्टर एस पी सिंह और इंस्पेक्टर संतोष कुमार मिश्रा मौके पर पहुंचे. तब तक कर्मचारियों को धमकाने वाले लोग जा चुके थे. डाक्टर प्रशांत कुमार सिंह ने सोनू ठाकुर, बब्बा दुबे शक्ति कटियार व कई अज्ञात व्यक्तियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई. मुकदमे की जांच उपनिरीक्षक राम केस सिंह को सौंपी गई. दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा गया है कि शक्ति मरीज आकाश को इमरजेंसी लेकर आया. तभी सोनू ठाकुर,बब्बा दुबे तथा अन्य कई लोगों ने गाली गलौज तथा अभद्रता शुरु कर दी. इंस्पेक्टर के निर्देश पर चौकी इंचार्ज राजीव कुमार यादव ने बुधवार को कमालगंज में छापा मारकर बब्बा दुबे उर्फ शिवम तथा इसी मोहल्ले के नीरभ दुबे पुत्र संतोष कुमार को पकड लिया.

डाक्टर ने कहा कि सांसद से ही जाकर करा लें इलाज

 पुलिस हिरासत में बब्बा दुबे ने बताया कि वह तथा नीरभ बाबू सिंह ला कालेज से एलएलबी कर रहे हैं. रात खाना खाने के बाद आकाश कटियार को सांस लेने में दिक्कत हुई थी. परिजन उसे एंबुलेंस से लेकर आए, वह भी साथी सहित बाइकों से अस्पताल आए थे. शोले ठाकुर व आकाश का भाई विक्की डाक्टर को बुलाने कमरे में गया था. शोले ने डाक्टर को बताया कि वह सांसद मुकेश राजपूत के करीबी हैं. उन्होंने ही उसे मरीज की मदद के लिए भेजा है. इस बात के जवाब में डाक्टर ने कहा कि वह सांसद से ही जाकर इलाज करा लें. शोले ठाकुर ने कहा कि सांसद डाक्टर नहीं हैं. यदि इलाज नहीं करना है तो मरीज को रेफर कर दो. बब्बा ने बताया कि उन लोगों ने आकाश को डाक्टर जेएम वर्मा के यहां ले जाने के लिए एंबुलेंस की थी.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

गहने चमकाने का झांसा देकर ठगी

0

नई दिल्ली, 19 जून (उदयपुर किरण). पश्चिमी जिले के राजौरी गार्डन इलाके में मंगलवार सुबह सोना-चांदी चमकाने का झांसा देकर ठगों ने एक घर के गहने पर हाथ साफ किया. पुलिस ने पीड़ित महिला के बयान पर केस दर्ज कर लिया है.

जानकारी के अनुसार पीड़ित इन्द्रा आरोड़ा(68) परिवार के साथ सुभाष नगर में रहती है. पीड़िता ने पुलिस को बताया कि मंगलवार सुबह करीब 11 बजे वह घर के बाहर खड़ी थी. तभी दो युवक उसके पास आए. युवकों ने लाल रंग का पाउडर दिखाकर कहा कि इससे बर्तन और सोने के आभूषण साफ होते हैं.

दोनों युवकों ने पीड़िता से एक बर्तन मांगा और फिर पीड़िता से सोने के कड़े मांगे. पीड़िता ने चार सोने के कड़े दोनों युवकों को दिया. युवकों ने चारों कड़े पर लाल रंग का लेप लगाया और पीड़िता से कहा कि इस बर्तन को गैस पर 10 मिनट के लिए रख दो. इतना कहकर दोनों युवक चले गए. इधर पीड़िता ने बर्तन को गैस में रखा और करीब 10 मिनट बाद बर्तन को देखा तो उसमें से सोने के कड़े गायब थे. पीड़िता ने पुलिस को तुरंत मामले की सूचना दी. पुलिस वारदात के आसपास लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगालकर आरोपितों की पहचान करने की कोशिश कर रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

मुठभेड़ के बाद बदमाश गिरफ्तार, दरोगा घायल

0

गाजियाबाद 19 जून (उदयपुर किरण). पुलिस ने मंगलवार की देर रात साहिबाबाद इलाके में लोहिया पार्क के पास से मुठभेड़ के बाद एक कुख्यात बदमाश को गिरफ्तार किया है. मुठभेड़ के दौरान चली गोली से बदमाश व शहीद नगर चौकी इंचार्ज घायल हो गए. दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बदमाश के पास से 4 एंड्रॉइड मोबाइल फोन, एक बिना नंबर की मोटर साईकिल तथा एक तमंचा बरामद हुआ है.

पुलिस क्षेत्राधिकारी राजेश मिश्रा ने बुधवार को बताया मंगलवार की करण गेट पुलिस चौकी पर एक युवक ने पुलिस को सूचना दी कि बदमाश ने उसका मोबाइल फोन लूटने का प्रयास किया और फरार हो गया है. युवक की सूचना पर पुलिस सक्रिय हो गई. लोहिया पार्क के पास पुलिस ने बदमाश को घेर लिया. पुलिस को देख बदमाश ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी. जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई. एक गोली बदमाश के दाहिने पैर में लगी. वह नीचे गिर गया. पुलिस ने उसे दबोच लिया. मुठभेड़ के दौरान शहीद नगर चौकी इंचार्ज महक सिंह बालियान के बाएं हाथ में भी गोली लग गई.पकड़े गए बदमाश ने बताया कि उसका नाम नाजिम है. वह राजीव कॉलोनी, थाना साहिबाबाद का निवासी है. नाजिम पर दिल्ली तथा गाजियाबाद के विभिन्न थानों में 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

रुपया वापस मांगने गए युवक पर जानलेवा हमला

0

नई दिल्ली, 19 जून (उदयपुर किरण). बाहरी दिल्ली के नांगलोई इलाके में जमानत नहीं कराने पर रुपये वापस मांगने गए युवक पर आरोपित ने ईंट  से जानलेवा हमला किया. पुलिस ने पीड़ित के बयान पर आरोपित के खिलाफ केस दर्ज किया है, फिलहाल आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ता योगेश ने पुलिस को बताया कि पिछले साल मार्च महीने से एक केस मे उसका भाई विकास जेल में बंद है. जिसकी जमानत के लिए उसके पिता ने वीना एंक्लेव नांगलोई में रहने वाले संजय से संपर्क किया था. योगेश ने आरोप लगाया कि पिता पढ़े लिखे नहीं हैं. इसी का फायदा उठाकर संजय ने उनसे काफी रुपये ऐठ लिए. जबकि उसने विकास की जमानत भी नहीं करवाई. कई बार संजय से संपर्क कर मामले में जानकारी मांगी. हर बार वह परिवार वालों को झांसा देता रहा और रुपये ऐंठ लेता.

बीते मंगलवार रात 11 बजे जब उसे पता चला कि संजय अपने भाई के ऑफिस में बैठा हुआ है, जहां पिताजी भी उससे बातचीत करने गए हैं. वह भी ऑफिस पहुंच गया. रुपये और जमानत को लेकर संजय से उसकी काफी बहसबाजी हुई. दोनों में हाथापाई हो गई. संजय ने उसको लात घुसों से बुरी तरह से पीटा फिर पास पड़ी ईंट से उसका सिर फोड़ दिया. वारदात को अंजाम देने के बाद संजय मौके से फरार हो गया. पीसीआर को वारदात के बारे में जानकारी देकर उसे संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों ने उसे प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

छेड़छाड़ के आरोपित को समझाना पड़ा भारी, महिला को मारी कैंची

0

नई दिल्ली, 19 जून (उदयपुर किरण). बाहरी दिल्ली के नांगलोई इलाके में बहन के साथ छेड़छाड़ करने वाले युवक को समझाना महिला को भारी पड़ गया. आरोपित युवक ने कैंची से महिला पर वार कर घायल कर दिया. इसके बाद आरोपित अपने दो भाइयों के साथ फरार हो गया. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस तीनों आरोपित भाइयों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच कर रही है. घटना मंगलवार देर शाम की है.

जानकारी के अनुसार घायल महिला की पहचान शशि(28) के रूप में हुई है. वह सुल्तानपुरी इलाके में रहती है. पीड़िता ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि त्यागी विहार नांगलोई इलाके में उसकी छोटी बहन अपने पति और परिवार के साथ रहती है. उसी के पड़ोस में ब्रिजेश  अपने परिवार के साथ रहता है, जिसकी लेडिज टेलर की दुकान है. छोटी बहन ने उसे बताया कि ब्रिजेश उसको काफी परेशान करता है. गंदे गंदे कमेंट्स करता है. शाम छह बजे वह अपनी छोटी बहन को लेकर मौके पर पहुंची. जब तीनों बहने ब्रिजेश को ऐसा नहीं करने की सलाह दे रही थीं.

ब्रिजेश के दोनों भाई भी मौके पर ही खड़े थे. आरोपित ने भाइयों के साथ मिलकर कहा कि वो ऐसा ही करेंगे. इस दौरान तीनों भाइयों ने महिलाओं से गाली-गलौच भी की. इसी बीच आरोपित ने कैंची उठाकर मिला पर जानलेवा हमला कर दिया. पीड़िका बहनों द्वारा शोर मचाने पर आरोपित वहां से भाग गए. इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घायल महिला को संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया. डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी है. पुलिस तीनों फरार भाइयों के ठिकानों पर छापेमारी कर उन्हें पकड़ने में लगी है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

गोरखपुर में बच्ची से बलात्कार,मुकदमा दर्ज

0
गोरखपुर, 18 जून (उदयपुर किरण). विपक्षी दल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को निशाना बनाकर लगातार कानून व्यवस्था के खत्म होने का आरोप लगा रहे हैं. ऐसे में गोरखपुर में हुई एक बलात्कार की घटना ने कानून व्यवस्था के दुरुस्त होने का दावा तार-तार कर दिया है. परिचित के घर की 10 साल की मासूम को बहला फुसला कर एक व्यक्ति द्वारा बलात्कार करने का मामला सामने आया है. मंगलवार को मुकदमा दर्ज पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है. पीड़िता बीआरडी मेडिकल काॅलेज में भर्ती है. हालत गंभीर बनी हुई है. यह शर्मनाक वारदात सोमवार देर रात की बताई जा रही है.
चिलुआताल क्षेत्र के 10 साल की बच्ची के पिता चाय की दुकान किया है. कुशीनगर के पटहेरवा क्षेत्र का रहने वाला रवि प्रकाश राय गोरखपुर के पादरी बाजार में किराया के मकान में रहता है. वह बोलेरो गाड़ी चलाता है. वह गोरखपुर में बन रहे खाद कारखाना में मजदूरों को लाता-लेजाता है. इसी दौरान उसकी जान पहचान चाय के दुकानदार से हो गई. वह आए दिन वहां उठता-बैठता था. दुकानदार की 10 साल की बेटी भी उसे पहचानती थी. सोमवार की देर रात में वह रवि प्रकाश चाय की दुकान पर आया. उस वक्त बच्ची अकेली थी. उसने उसे बहला-फुसला कर कुछ दूर एक सुनसान जगह पर ले जाकर बलात्कार किया. बच्ची जब चिल्लाने लगी तो लोग जुटे. लोगों को जुटते देख रवि बच्ची को छोड़ भागने लगा, लेकिन उसे दौड़ाकर पकड़ लिया. मौके पर जमीन पर पड़ी बच्ची कराह रही थी. आनन फानन में मेडिकल काॅलेज पहुंचाया गया. इधर, पकड़े गए आरोपी की लोगों ने जमकर पिटाई कर दी. गुस्साए लोगों से आरोपी को बचाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी. हालांकि पुलिस ने रात में ही आरोपी को हिरासत में ले.लिया और घायलावस्था में जिला अस्पताल में भर्ती करवा दिया था. फिलहाल, मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

चमकी बुखार से मरनेवालों की संख्या बढ़ कर हुई 135

0

पटना, 18 जून (उदयपुर किरण). मुजफ्फरपुर के अलावा बिहार के अन्य जिलों में भी पाँव पसार रहे चमकी बुखार  से मरने वाले बच्चों की संख्या मंगलवार को बढ़ कर 135 हो गई. विगत 18 दिनों से मुजफ्फरपुर को अपनी चपेट में ले चुके इस बुखार की गूँज राष्ट्रीय स्तर पर होने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार कोजफ्फरपुर में अस्पताल का दौरा किया जहां उन्हें लोगों का भारी विरोध झेलना पड़ा. हालांकि इस तरह केविरोध की सम्भावना को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी गई थी और निरीक्षण के समय अस्पताल में मीडया समेत किसी भी बाहरी व्यक्ति के प्रवेश को रोक दिया गया था. नीतीश कुमार के  दौरे के दिन भी एसकेएमसीएच में चमकी से पीड़ित चार बच्चों की मौत हो गई जिसके बाद यहाँ मरनेवालों की संख्या बढ़ कर 135 हो गई.

हालांकि मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने मुजफ्फरपुर में मंगलवार तक 108 बच्चों के ही मरने की पुष्टि की. उन्होंने कहा कि केजरीवाल और एसकेएमसीएच अस्पताल समेत मुज़फरपुर में अभी तक एइएस के 485 मामले सामने आये थे जिनमें से 153 बच्चों को चिकित्सा के बाद छोड़ दिया गया. उन्होंने कहा कि 161 बच्चों का अभी भी इलाज चल रहा है जिनमें से 40 की स्थिति बेहतर है और उन्हें कभी भी डिस्चार्ज किया जा सकता है. उन्होंने कहां कि 16 बच्चों की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है. रिपोर्ट के अनुसार इस बीमारी से मुजफ्फरपुर में 112, वैशाली में 12, बेगूसराय में 6, पटना और मुंगेर में दो – दो तथा पूर्णियां में एक बच्चे की मौ हो गई. इस बीच इस बीमारी से पीड़ित मुजफ्फरपुर में 56 मरीजों को मंगलवार को अस्पताल में भर्ती किया गया,पूर्वी चम्पारण के मोतिहारी में 44 बच्चे अस्पताल में भर्ती किये गए, सीतामढ़ी में 17, वैशाली में 11, शिवहर में 10 मुंगेर में छह बच्चों को भर्ती किया गया. इस बीमारी से मरनेवाले बच्चों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये अनुदान की मुख्यमंत्री की तरफ से की गई घोषणा के बाद अभी तक 54 परिवारों को मुआवजा दिया गया है.

राज्य के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा कि इस बीमारी के लक्षण दिखते ही तुरंत अस्पताल पहुँचना जरूरी है क्योंकि देर से अस्पताल पहुंचने के कारण ज्यादा बच्चों की मौत हुई. एईएस पीड़ित सभी बच्चों के इलाज सरकार की तरफ से किये जाने का मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है. मरीजों को अस्पतालों में आने के लिए कोई खर्च नहीं उठाना पड़ेगा और उनके किराये का खर्च भी सरकार वहन करेगी. उन्होंने कहा कि अस्पताल लाने के लिए आर्थिक मदद के रूप में मरीज के परिजनों को 400 रुपये दिये जायेंगे. सभी बच्चों में बीमारी का कंडीशन अलग अलग देखते हुए इस बीमारी के फैलने की विशेषज्ञों की टीम बुधवार से जांच शुरू करेगी. इस बीमारी का फिलहाल लक्षण आधार पर ही इलाज किया जा रहा है. इस बीच आशा कार्यकर्ताओं, ए एन एम् और आंगनबाड़ी सेविकाओं को इस बीमारी के प्रति लोगों में जागरूकता के लिए लगाया जाएगा. घर घर तक ओआरएस का घोल पहुंचाने का निर्देश भी सरकार ने दिया है.

पीएमसीएच और डीएमसीएच से चिकित्सकों की टीम को मुजफ्फरपुर भेजा गया है. इस बीच जनता दल (यू) के विधायक अमरनाथ गामी ने कहा कि समय रहते चेत जाते तो यह बीमारी इतनी विकराल रूप नहीं लेती. बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी राजग की सरकार पर घोर लापरवाही, कुव्यवस्था, महामारी को लेकर मुख्यमंत्री की असंवेदनशील, अमानवीय अप्रोच, और, लचर तथा भ्रष्ट व्यवस्था, स्वास्थ्य मंत्री के ग़ैर-ज़िम्मेदाराना व्यवहार एवं भ्रष्ट आचरण का आरोप लगाते हुए कहा कि इसकी वजह से इस बीमारी ने विकराल रूप ले लिया. मुजफ्फरपुर के भाजपा सांसद अजय निषाद ने कहा कि इस बीमारी की असली वजह 4जी यानी गर्मी, गांव, गरीब, गंदगी है क्योंकि ‘ज्यादातर मरीज गरीब तबके से हैं, उनके रहन-सहन के स्तर में गिरावट है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

बाघ की खाल के साथ साधू गिरफ्तार

0
मथुरा, 18 जून (उदयपुर किरण). बरसाना थाने की पुलिस ने मंगलवार को विलासगढ़ की पहाड़ी से एक साधू के पास से बाघ की खाल बरामद की है. पुलिस ने वन विभाग की टीम बुलाकर साधू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. वन विभाग की टीम ने खाल को जांच के लिए बरेली लैब भेजा है.
बरसाना पुलिस के कार्यवाहक प्रभारी निरीक्षक आजाद पाल सिंह ने बताया कि मंगलवार को कस्बे के विलासगढ़ की पहाड़ी पर रह रहे साधू मोहनदास चेला श्याम दास ले पास से बाघ की बरामद की गई. पुलिस खाल को कब्जे में लेकर साधू को गिरफ्तार कर थाने ले आयी. इसके बाद पुलिस ने वन विभाग रेंजर मेघश्याम शर्मा को बुलाया. वन विभाग की टीम ने बरसाना थाना में साधू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. खाल को जांच के लिए बरेली लैब भेजा गया है. फिलहाल पुलिस साधू से पूछताछ कर रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

जिलाधिकारी ने मौरंग खदान में की छापेमारी, पोकलैंड मशीनें जब्त

0
हमीरपुर, 18 जून (उदयपुर किरण). जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा के साथ मंगलवार को मौरंग खदान में छापेमारी कर भारी गड़बड़ी पाये जाने पर पट्टाधारक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिये हैं. जिलाधिकारी ने खदान से छह से अधिक प्रतिबंधित पोकलैण्ड मशीनें भी पकड़ी है. जिन्हें पुलिस ने कब्जे में ले लिया है. अपर जिलाधिकारी व उपजिलाधिकारी सदर को मौके पर जांच के लिये भेजा गया है.
जिले के भेड़ी खरका मौरंग खदान 23/19 में काफी दिनों से अवैध खनन का खेल चल रहा था. जिलाधिकारी ने पुलिस अधीक्षक के साथ मौरंग खदान में छापा मारा. छापेमारी के दौरान प्रतिबंधित छह पोकलैण्ड मशीनें पकड़ी गयी. नदी की जलधारा रोककर मौरंग खनन होते देख जिलाधिकारी ने पट्टाधारक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिये.
उन्होंने एडीएम विनय प्रकाश श्रीवास्तव व एसडीएम सदर को मौके पर जांच करने के लिये भेजा है. खनिज अधिकारी भी मौरंग खदान पहुंच गये हैं. इस कार्रवाई से मौरंग कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है. बताया जाता है कि छापेमारी के दौरान पोकलैंड मशीनें उरई क्षेत्र की ओर ले जायी जा रही थी, तभी जिलाधिकारी ने उरई के जिलाधिकारी को इस मामले में कार्रवाई करने के लिये कहा. वहां के जिलाधिकारी के निर्देश पर एसडीएम मौके पर पहुंचे और सभी पोकलैंड मशीनें पकड़कर पुलिस के हवाले किया.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

जींद के गांव पोंखरी में हुए दोहरे हत्याकांड के लिए एसआईटी गठित

0

रोहतक, 18 जून (उदयपुर किरण). जींद के गांव पोंखरी में सात साल पहले की गई सुमित्रा व उसके बेटे की हत्या के मामले की जांच अब नए सिरे शुरु की जाएगी, बाकायदा इसके लिए आईजी के निर्देश पर डीएसपी के नेतृत्व में विशेष टीम गठित की है. हालांकि इस मामले में क्राईम ब्रांच की टीम जांच कर चुक है, लेकिन कोई भी सुराग नहीं जुटा पाई थी. आईजी ने इस मामले को लेकर हत्यारों के बारे में सुराग देने वालों को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है. मामले की जांच के लिए गठित टीम ने अपना काम शुरु कर दिया है.

बताया जा रहा है कि हाईकोर्ट के आदेश पर मामले की नए सिरे से जांच शुरू हुई है. बताया जा रहा है कि 20 अगस्त 2012 को जिला जींद के गांव पोंखरी खेड़ी में अज्ञात आरोपियो ने महिला सुमित्रा व उसके गोद लिए लडक़े विजय की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था. जिस संबंध में थाना सदर जिला जीन्द में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज है. जो सुमित्रा जिला रोहतक के गांव सामाण की रहने वाली थी तथा जीन्द के गांव पोंखरी खेड़ी में शादीशुदा थी. मामले की जांच जिला पुलिस जीन्द तथा उसके बाद में क्राईम ब्रांच हरियाणा द्वारा की गई. जो हत्यारों के संबंध में पता नही चल सका. अब उच्च न्यायालय द्वारा आईजी को नए सिरे से मामले की जांच के आदेश दिये है.  मंगलवार को आईजी संदीप खिरवार द्वारा विशेष जांच टीम का गठन किया गया है. जिसमें उप पुलिस अधीक्षक ताहिर हुसैन, निरीक्षक यशवंत व उपनिरीक्षक जयदीप सिंह को शामिल किया गया है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

पिकअप और डीसीएम की टक्कर में 10 लोगों की मौत, 12 लोग घायल

0

संभल, 19 जून (उदयपुर किरण). सम्भल जिले में मुरादाबाद-आगरा राजमार्ग पर मंगलवार देर रात डीसीएम और पिकअप की भीषण टक्कर में दस लोगों की मौत हो गई, जबकि 12 लोग घायल हो गए. घायलों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

संभल जनपद के गांव लहरावन निवासी राम भरोसे अपनी लड़की का लग्न बदायूं जनपद के थाना उघेती के गांव चाचीपुर में चढ़ाने गए थे. मंगलवार देर रात वह डीसीएम टेंपो में सवार होकर अपने गांव वापस लौट रहे थे. मुरादाबाद-आगरा राजमार्ग पर लहरावन गांव के निकट डीसीएम की सामने से आ रही पिकअप गाड़ी से टक्कर हो गई. इस भीषण टक्कर से दोनों वाहन सड़क पर पलट गए और घायलों में चीख-पुकार मच गई. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को बाहर निकाला. इसके बाद सभी घायलों को बहजोई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया. सीएचसी के डाॅक्टरों ने पवन पाल पुत्र रमेश पाल निवासी देवीपुरा थाना शाहाबाद, होरीलाल पुत्र नत्थू लाल निवासी लहरावन थाना बहजोई, राम कुमार पुत्र दाताराम निवासी गांव कोहरा थाना इस्लामनगर, हरिशंकर पुत्र सुखराम निवासी लहरावन, रामवीर पुत्र नत्थू सिंह निवासी लहरावन, दिनेश चंद्र शर्मा गेंदनलाल शर्मा निवासी लहरावन, बृजेश पुत्र चंद्रपाल निवासी लहरा वन को मृत घोषित कर दिया. जबकि शेर सिंह पुत्र बुद्धि निवासी मड़नपुर बहजोई ने सीएचसी के रास्ते में ही दम तोड़ दिया. इसी तरह से रामकुमार और संजय की भी मौत हो गई. जबकि अजय कुमार, अमन, प्रियांशु, जयप्रकाश सभी निवासी लहरावन, मुकेश पाल निवासी देवीपुरा शाहबाद, सोमेश निवासी मोहल्ला गढ़ चंदौसी, किशन वीर, अजय पाल, रिंकू आदि गंभीर रूप से घायल है. घायलों को सीएचसी से जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया. बहजोई सीएचसी के चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. बीएल वेराटिया ने बताया कि कई घायलों की हालत बेहद गंभीर है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

प्रेमी की शादी से विक्षुब्ध युवती ने दी जान

0
रायबरेली, 18 जून (उदयपुर किरण). प्रेमी की हो रही शादी से विक्षुब्ध एक युवती ने मंगलवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. युवती के कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है जिसमें उसने पुलिस पर भी उत्पीड़न का आरोप लगाया है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.
जिले के नसीराबाद थाना क्षेत्र के चंदवान गांव निवासी वीरेंद्र सिंह की पुत्री संगीता (23) का शव मंगलवार सुबह कमरे में छत की कुंडी से लटका मिला. परिजनों ने बताया कि सोमवार की रात संगीता खाना खाकर कमरे में सोने गई थी. अगले दिन सुबह देर तक ना उठने पर परिजनों ने खिड़की से कमरे में देखा तो युवती का शव दुपट्टे से लटका मिला. कमरे में एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें पुलिस पर उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है.
नसीराबाद थानाध्यक्ष ने बताया कि युवती का गांव के ही पंकज नाम के युवक से प्रेम प्रसंग था जिसकी शादी अगले हफ्ते होनी है. उन्होंने बताया कि पंकज को दिसम्बर 2018 में दुष्कर्म के आरोप में जेल भी भेजा गया था. युवती अपने परिजनों के विरोध के बावजूद युवक से शादी करना चाहती थी. इसी वजह से उसने आत्महत्या की.

 

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

अपराधियों से सांठगांठ के आरोप में बारुण थानाध्यक्ष निलंबित

0

पटना/औरंगाबाद,18 जून (उदयपुर किरण). अपराधियों से सांठगांठ के आरोप में एसपी दीपक वर्णवाल ने बारुण थानाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार पासवान को गिरफ्तार कर निलंबित कर दिया. एसपी ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत में बताया कि बारुण थानाध्यक्ष वाहन इंट्री गिरोह के अपराधियों के साथ मिलकर ट्रकों को पकड़ने एवं छोड़ने का धंधा करते थे. चार दिन पहले बारुण थाना क्षेत्र से यूपी के ट्रक को पकड़ा था. वह बगैर थाना डायरी में इंट्री किए ट्रक मालिक से रिश्वत की मांग कर रहा था.

थानाध्यक्ष पर ढाई लाख रुपये रिश्वत मांगने का आरोप है. गिरोह के तीन सदस्य उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले के जमानियां थाना स्थित धनौता गांव के मो. सैयद सजीद अख्तर, कैमूर जिले का चैनपुर निवासी परवेज अंसारी एवं वसीम अंसारी को कैमूर पुलिस ने कुदरा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया. गिरफ्तार अपराधियों के पास से पिस्टल, 10 कारतूस, खोखा, सात मोबाइल, पांच सीम कार्ड, तीन आधार कार्ड, 16,900 रुपये नकद एवं दो कार जब्त किया है.

एसपी ने बताया कि थानाध्यक्ष ने ट्रक को पकड़ा लेकिन मामले में कोई कार्रवाई नहीं की. ट्रक पकड़े जाने की सूचना वरीय अधिकारियों को भी नहीं दी गई. एसपी ने बताया कि थानाध्यक्ष को गिरफ्तार कर कैमूर पुलिस के हवाले कर दिया गया है. एसपी ने बताया कि बारुण थानाध्यक्ष को बर्खास्त करने के लिए वरीय अधिकारियों को पत्र लिखा जाएगा. एसपी ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि जो थानाध्यक्ष पब्लिक के साथ बेहतर संबंध नहीं रखेंगे और ऐसे कार्यो में लिप्त पाए जाएंगे. वे हटाएं जाएंगे या सेवा से बर्खास्त होंगे. एसपी के इस कार्रवाई से विभाग में हड़कंप मचा है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

पुलिस विभाग के लिपिक पर रिश्वत मांगने पर प्रकरण दर्ज

0

मुंबई,18 जून (उदयपुर किरण). ठाणे पुलिस आयुक्तालय के कल्याण स्थित पुलिस उपायुक्त कार्यालय के वरिष्ठ लिपिक सुहास रामचंद्र काले (44 वर्षीय) के विरुद्ध 30 हजार रुपये रिश्वत मांगने पर पुलिस थाने में भ्रष्टाचार प्रतिबंधक अधिनियम 1988 (संशोधित अधिनियम 2018) के तहत ब्यूरो ने मामला दर्ज कराया है.

ठाणे भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग द्वारा मंगलवार को दी गई जानकारी के मुताबिक शिकायत कर्ता की प्रति नियुक्ति होने पर उसके मूल स्थान पर नियुक्ति का आदेश भेजने के लिए आरोपित वरिष्ठ लिपिक सुहास काले ने 30 हजार रुपये की मांग की थी. शिकायत कर्ता ने इसके बारे में काफी समय पूर्व भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग को सूचित किया था. शिकायत प्राप्त होने पर विगत 3 मई को ब्यूरो द्वारा जांच पड़ताल भी की गई थी.

इसके बाद  17 जून को शाम 3 बजे के दरम्यान ठाणे भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग ने कल्याण पुलिस उपायुक्त कार्यालय के वरिष्ठ लिपिक सुहास  काले के खिलाफ 30 हजार की रिश्वत मांगने पर खडकपाडा पुलिस थाने में भ्रष्टाचार प्रतिबंधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज कराया है. फ़िलहाल, भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग  ओर  से शिकायतकर्ता का नाम गुप्त रखा गया है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

इन्सेफलाइटिस से मौत का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

0

नई दिल्ली, 18 जून (उदयपुर किरण). बिहार में इन्सेफलाइटिस से 100 से ज़्यादा बच्‍चों की मौत को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है. याचिका में राज्य सरकार पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कोर्ट के दखल की मांग की गई है. याचिका सुप्रीम कोर्ट के वकील मनोहर प्रताप और सनप्रीत सिंह अजनामी ने दायर किया है. वे इस याचिका पर जल्द सुनवाई के लिए बुधवार यानी 19 जून को सुप्रीम कोर्ट में मेंशन कर सकते हैं.

याचिका में कहा गया है कि कोर्ट सरकार को 500 आईसीयू इंतजाम करने,100 मोबाइल आईसीयू को मुजफ्फरपुर भेजे जाने, पर्याप्त संख्या में डॉक्टर उपलब्ध कराने के लिए दिशा-निर्देश जारी करे. याचिका में मृत बच्चों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की गई है. उल्लेखनीय है कि मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल में अब तक 108 मौत की पुष्टि हो चुकी है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

खेत में मिला का शव, सिर और पेट पर चाकू के निशान

0
रांची, 18 जून (उदयपुर किरण). रामगढ़ जिला के पतरातू थाना क्षेत्र की साकुल पंचायत अंतर्गत बाल्मिकी नगर क्षेत्र में मंगलवार सुबह खेत से एक अधेड़ का शव बरामद किया गया. आज सुबह ही थाने में एक युवक ने अपने पिता के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई थी. शव मिलने की सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंचे युवक ने शव की शिनाख्त अपने पिता राम प्रसाद साहू (50) के रूप में की. शव की शिनाख्त होने के बाद घटनास्थल पर पहुंचे मृतक के परिजनों ने कुछ देर तक हंगामा किया और घटनास्थल पर एसपी निधि द्विवेदी को बुलाने की मांग करने लगे. मौके पर पहुंचे पतरातू थाना प्रभारी आरपी सिंह और एसडीपीओ प्रकाश चंद्र महतो ने कार्रवाई का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया.
परिजनों ने बताया कि सोमवार की शाम करीब चार बजे मेरे पिता किसी काम से बाइक से निकले थे. एक घंटे बाद मां से उनकी बात हुई और उन्होंने जल्दी घर आने की बात कही, लेकिन देर रात तक वे घर नहीं लौटे. इसके बाद पूरी रात घरवालों ने खोजबीन की, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला. मंगलवार सुबह थाना में गायब होने की शिकायत दर्ज कराई गई.
थाना प्रभारी ने बताया कि शव के सिर और पेट पर चाकू से वार के निशान मिले हैं. मृतक की बाइक और मोबाइल फोन भी गायब हैं. परिजनों से पूछताछ की जा रही है. उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्ट्या मामला हत्या का लग रहा है. इस संबंध में आगे की कार्रवाई की जा रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

इंद्राणी एक्सप्रेस से 14 लाख रुपये से अधिक कीमत का गांजा बरामद

0

होजाई(असम), 19 जून (उदयपुर किरण). होजाई जिले के लमडिंग रेलवे स्टेशन पर जीआरपी ने मंगलवार देर रात को 12526 नंबर की डिब्रूगढ़-कोलकाता के बीच चलने वाली इंद्राणी एक्सप्रेस में तलाशी अभियान चलाकर भारी मात्रा में गांजा बरामद किया है.

घटना के अनुसार गुप्त सूचना के अनुसार लमडिंग रेल उप अधीक्षक के नेतृत्व में एक टीम ने इंद्राणी एक्सप्रेस में तलाशी अभियान चलाकर एक डब्बे से लावारिश अवस्था में बड़े ही शातिराना तरीके से पैकिंग किए गए भारी मात्रा में गांजा को बरामद किया. रेलवे पुलिस ने बताया कि जब्त गांजा की कीमत लगभग 14 लाख रुपये से अधिक हो सकती है. हालांकि ट्रेन के जरिए गांजा को कौन ले जा रहा था, इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है.

माना जा रहा है कि डिमापुर में गांजा को ट्रेन में लोड किया गया होगा. लमडिंग जीआरपी ने गांजा को लमडिंग पुलिस को सौंप दिया. साथ ही इस संबंध एक प्राथमिकी भी दर्ज की गई है. इस संबंध में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

बसपा विधायक ने शिक्षिका को बुलाया गेस्ट हाउस, वह पहुंची गई महिला आयोग

0

रांची, 18 जून (उदयपुर किरण). पलामू जिला के हुसैनाबाद जपला की एक शिक्षका ने हुसैनाबाद के बसपा (बहुजन समाज पार्टी) विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. मंगलवार को राज्य महिला आयोग पहुंची शिक्षका ने कहा कि वह जपला स्थित मध्य विद्यालय हुसैनाबाद में शिक्षक के पद पर पदास्थापित है. कुछ दिनों से विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता गेस्ट हाउस पर बुलाते हैं. ऐसा करने से इनकार करने पर कई प्रकार की यातनाएं दी गई.

शिक्षिका ने यह भी आरोप लगाया है कि इस काम में विधायक मेहता की मदद स्कूल के प्राचार्य रामेश्वर मेहता भी कर रहे थे. प्राचार्य रामेश्वर मेहता बार-बार विधायक के पास जाने के लिए कहते थे. इससे परेशान होकर अपना ट्रांसफर करवा लिया, लेकिन इसके बाद भी समस्या समाप्त नहीं हुई. वहां भी किसी न किसी प्रकार से परेशान किया जा रहा है. राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कल्याणी शरण ने कहा कि जनप्रतिनिधि पर ऐसा गंभीर आरोप लगना अशोभनीय है. इस संबंध में झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष प्रो. दिनेश उरांव समेत आला अधिकारियों से बात कर शिक्षिका को न्याय दिलायेंगे.

आरोप बेबुनियाद, गलत भावना से बदनाम करने लिए लगाया आरोपः कुशवाहा शिवपूजन मेहता

हुसैनाबाद से बसपा विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता ने कहा कि यह आरोप बेबुनियाद है. गलत भावना से बदनाम करने की नीयत से महिला आयोग पहुंची है शिक्षिका. उन्होंने कहा कि उस महिला को मैं पहचानता तक नहीं. आज तक मैं उनसे मिला तक नहीं, तो उन्हें कैसे प्रताड़ित कर सकता हूं. मैं जनप्रतिनिधि हूं, इसलिए वो मुझे जानती होगी. राज्य महिला आयोग मामले की जांच करा ले. सही बातें सामने आ जायेगी. दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा. उन्होंने बताया कि इस शिक्षिका और पलामू डीईओ (जिला शिक्षा पदाधिकारी) सुशील कुमार के संबंधों को लेकर जांच चल रही है. मुख्य सचिव डीके तिवारी ने जांच का आदेश दिया है. इसे लेकर शिक्षिका और संबंधित अधिकारी को आशंका है कि यह जांच मैंने ही करायी है. जबकि ऐसी कोई बात नहीं है. उन्होंने यह भी बताया कि वह शिक्षिका पहले जपला में कार्यरत थी. उस समय वहां के शिक्षक मुझसे मिले थे और उनके अनुपस्थित रहने की शिकायत की थी. शिक्षकों का आरोप था कि वे ज्यादातर प्रतिनियुक्ति पर रहती हैं. इसके बाद मैंने उपायुक्त और जिला शिक्षा पदाधिकारी से प्रतिनियुक्ति रद्द करने को कहा था. बाद में उनका वहां से तबादला हो गया. इसके बाद उनके संदर्भ में कभी बात तक नहीं हुई.

विधायक पर आरोप लगाने वाली शिक्षिका के खिलाफ डीईओ के साथ कथित संबंध की चल रही है जांच

विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता पर आरोप लगाने वाली शिक्षिका और पलामू डीईओ सुशील के संबंधों को लेकर झारखंड के मुख्य सचिव डीके तिवारी के निर्देश पर जांच चल रही है. मुख्य सचिव ने 19 जून तक जांच रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है. पलामू के शिक्षक समुदाय ने राज्य के मुख्य सचिव डॉ. डीके तिवारी को पत्र लिखकर डीईओ सुशील कुमार का जिले में पदस्थापित एक शिक्षिका के साथ अवैध संबंध होने का गंभीर आरोप लगाया था. इसके साथ ही पत्र में डीईओ सुशील कुमार के आचरण पर सवाल खड़े करते हुए लिखा था कि डीईओ का वरदहस्त होने के कारण वह शिक्षिका कभी विद्यालय नहीं जाती है. डीईओ भी हमेशा उनका प्रतिनियोजन करते रहते हैं.  कुछ समय पहले तो मेदिनीनगर लाइब्रेरी में शिक्षिका को स्थायी तौर पर प्रतिनियोजित कर दिया गया था. बाद में हुसैनाबाद के विधायक के दबाव में उनका प्रतिनियोजन तोड़ा गया. शिक्षकों का यह भी आरोप है कि जब शिक्षिका हुसैनाबाद में पदस्थापित थी तो कभी भी विद्यालय नहीं जाती थी. इस वजह से प्रधानाध्यापक उनकी हाजिरी काट देते थे. बाद में डीईओ ने प्रधानायापक को निलंबित कर दिया था. इस पर मुख्य सचिव ने इस संबंध में पलामू के आरडीडीई को जांच के आदेश दिये हैं. साथ ही 19 जून तक जांच रिपोर्ट सौंपने को कहा है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

पुलिस बल की मौजूदगी में प्रशासन ने ढाबे पर चलाया बुलडोजर

0

नेपानगर, 18 जून (उदयपुर किरण).जहा एक ओर प्रदेश सरकार बेरोजगारो लोगो को स्वरोजगार दिए जाने की बात कर रही है. वही दूसरी ओर जिले के नेपानगर तहसील क्षेत्र के ग्राम असीर में एक बुजुर्ग महिला द्वारा अपने बच्चों को शिक्षित बनाने के लिए ग्राम असीर में ढाबा संचालित कर अपने बच्चों का पालन पोषण कर रही थी, लेकिन मंगलवार को प्रशासन ने बल प्रयोग कर बुजुर्ग महिला के मकान और ढाबे को जेसीबी मशीन से धराशाही कर दिया. बुजुर्ग महिला और उसकी बेटी को बलपूर्वक पुलिस ने खदेडा. बुजुर्ग महिला की हालत बिगडी, प्रशासन ने एम्बुलेंस की सहायता से जिला चिकित्सालय रवाना किया. नेपानगर एसडीएम, एसडीओपी दो थानो के टीआई सहित भारी संख्या में राजस्व और पुलिस बल ने ढाबा तोडा.

नेपानगर तहसील के ग्राम असीर में कई सालों से संचालित मेवाती ढाबे का मामला पिछले एक वर्ष से सुर्खियों में बना हुआ है. गांव के स्थानीय तथाकथित जनप्रतिनिधियों द्वारा पिछले एक वर्ष से ढाबे को हटाने की कवायत की जा रही है. इस मामले को लेकर लम्बे समय से प्रशासनिक कार्रवाई की जा रही थी. इस मामले में ढाबा संचालक बुजुर्ग महिला जुलेखा बी ने छ: माह पूर्व भी उनके परिवार को प्रशासनिक मदद न मिलने पर बुरहानपुर कलेक्टर कार्यालय में केरोसिन डालकर आत्मदाह करने के प्रयास किए थे. तभी से यह मामला सुर्खियों में बना हुआ है. ग्राम असीर की बात की जाए तो यहा असीरगढ का प्राचीन किला बना हुआ, जिसके चलते इसे पर्यटन स्थल बनाया गया है. पूरे गांव का सर्वे किया जाए तो यहा अनगिनत अतिक्रमण नजर आऐंगे. लेकिन प्रशासन द्वारा सिर्फ एक ही अतिक्रमण को हटाना जन चर्चा का विषय बना हुआ है.

नेपानगर एसडीएम विशा माधवानी के नेतृत्व का ढाबा हटाया गया. इस मामले के सम्बंध में एसडीएम का कहना है कि मुझे नही पता कि यह अतिक्रमण कितना पुराना है, लेकिन तहसील कार्यालय में अतिक्रमण हटाए जाने का प्रकरण पिछले दो साल से विचारधीन है. भूमि शासकीय होने की वजह से ढाबे को हटाने के आदेश हुए थे. बार-बार नोटिस देने पर भी नहीं हटाए जाने पर यह कार्रवाई की गई है. एसडीएम से अतिक्रमण कितना पूराना है पूछे जाने पर जानकारी नहीं दे पाई और गांव अतिक्रमण हटाए जाने की बात पूछने पर एसडीएम सर्वे कराने की बात करती नजर आई.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

कलयुगी मां ने ही की थी नवजात बच्ची की हत्या

0
 
फरीदाबाद, 18 जून (उदयपुर किरण). करीब तीन माह पूर्व रहस्यमय परिस्थितियों में मृत पाई गई नवजात बच्ची की हत्या के मामले को सीआईए डीएलएफ पुलिस सुलझा लिया. पुलिस ने इस संबंध में बच्ची की मां को गिरफ्तार किया है, जिसने गरीबी के चलते बच्ची की परवरिश करने में नाकाम रहने पर उसकी हत्या कर दी.
सीआईए निरीक्षण संजीव कुमार ने मंगलवार को जानकारी देते हुए बताया कि 26 मार्च, 2019 को राजीव कालोनी सेक्टर-56 में गंदा पानी जोहड़ पर एक बच्ची की डैड बॉडी मिली, जिस पर बच्ची के परिजनों की तलाश करने पर पता चला कि राजीव कालोनी के रहने वाले महेश उर्फ भोला की पत्नी अरुणा द्वारा जन्म दिया गया. बच्ची के रुप में शिनाख्त होने पर थाना सेक्टर-58 फरीदाबाद में मुकदमा दर्ज करके बच्ची के शव को पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया था. सीआईए ने गहनता से जांच की तो पता चला कि बच्ची की मां अरुणा ने अपने परिवार की गरीबी को देखते हुए बच्चों का भरण पोषण न कर पाने के कारण जन्म दी नवजात बच्चे की 22  मार्च की रात को अपने मकान के पास गंदा पानी के तालाब में फैंक दिकर हत्या कर दी. पुलिस ने आरोपी महिला को मंगलवार को अदालत में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में नीमका जेल भेज दिया. 

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

चार फैक्ट्रियों में लगी भीषण आग, लाखों का नुकसान, 10 घंटे बाद दमकल की एक दर्जन से अधिक गाड़ियों ने आग पर पाया काबू

0
 
कानपुर, 18 जून (उदयपुर किरण). गोविन्द नगर के दादानगर औद्योगिक क्षेत्र में एक इंक फैक्ट्री में आग लग गयी और देखते ही देखते आग विकराल रुप धारण कर लिया. आग ने एक ही कैंपस में अन्य तीन फैक्ट्रियों को अपने चपेट में ले लिया. सूचना पर पहुंची दमकल की एक दर्जन से अधिक गाड़ियां करीब 10 घंटे बाद आग पर काबू पा सकी. दमकल विभाग आग के कारणों की जांच कर रहा है.
दादानगर औद्योगिक क्षेत्र में एक ही कैंपस में चार फैक्ट्रियां संचालित हो रही हैं. जिसमें एक इंक फैक्ट्री में मंगलवार में भोर पहर आग लग गयी और धमाके के साथ केमिकल ड्रम फटने लगे. आग की तेज लपटों ने पूरी फैक्ट्री को चपेट में ले लिया. विकराल हुई लपटें पड़ोस की अन्य फैक्ट्रियों तक पहुंचने लगीं. तेज ऊॅंची लपटों के साथ उठते धुंए को देख परिसर में रहने वाले रिंकू ने कंट्रोल रुम को सूचना दी. जिसके बाद फजलगंज फायर स्टेशन से दमकल की दो गाडिय़ां पहुंची और जवानों ने आग बुझाने के प्रयास किए. इसी बीच आग बढ़ती ही गयी और इंक फैक्ट्री के साथ वीरेंद्र कुमार की दफ्ती के बॉक्स बनाने की फैक्ट्री, सचिन कुमार की चूरन फैक्ट्री, कैंपस मालिक के भतीजे रोहित महेश्वरी की कचरी फैक्ट्री भी धू-धू कर जलने लगी. चार फैक्ट्रियों में लगी भीषण आग को देख क्षेत्रीय लोग सड़क पर आ गये और दमकल विभाग के साथ आग बुझाने में जुट गये. आग बढ़ती देख फजलगंज फायर स्टेशन के अलावा मीरपुर, जाजमऊ, लाटूश रोड समेत अन्य फायर स्टेशनों से गाडिय़ां बुलाई गईं. दमकल जवान भोर पहर चार बजे से दोपहर 12 बजे तक आग बुझाने का प्रयास करते रहे. जवानों ने आग पर काबू पा लिया था लेकिन केमिकल की आग पूरी तरह से बुझाई नहीं जा सकी थी. आग से एक कारखाना भी जलकर खाक हो गया और एक गार्ड की गृहस्थी भी. जानकारी के अनुसार आग से लाखों को नुकसान हुआ है.
फजलगंज एफएसओ पी आर सरोज ने बताया कि बी-188 दादानगर के एक कंपाउण्ड में चल रहे पांच प्रतिष्ठानों में आग लगी थी जिसको एक दर्जन से अधिक गाड़ियों के जरिये बुझाया जा सका है. घटना के बाद से किसी भी फैक्ट्री का मालिक सामने नहीं आया. फायर फायटिंग के इंतजाम तो दूर यहां पर पानी की कोई व्यवस्था भी मौजूद नहीं मिली. आग के कारणों का पता लगाया जा रहा है और आग बुझाने के इंतजाम न होने के चलते फैक्ट्री मालिकों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

इंसेफलाइटिस से पिछले 25 घंटे में और 9 बच्चों की मौत,परिजनों को मिला 4-4 लाख रुपये का चेक

0
मुज़फ्फरपुर,18 जून (उदयपुर किरण). इंसेफलाइटिस से पिछले 25 घंटे में मुज़फ्फरपुर के एसकेएमसीएच में 9 बच्चों की मौत हो गयी. आज 05 बच्चों के इलाज के दौरान हुई मौत के बाद अब तक मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़कर 112 हो गयी है. बीमारी से मरे 54 बच्चों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से 4-4 लाख का चेक दिया गया है.
एसकेएमसीएच में सुबह 08 बजे से शाम 06 बजे तक पांच बच्चों की मौत हुई है जिससे मरने वाले बच्चों का आंकड़ा 112 हो गयी है जबकि केडीकेएम अस्पताल में आज बच्चों की मौत की सूचना नहीं है.
जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने एक मुलाकात में बताया कि इस बीमारी से मृत बच्चों के 54 परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से 4-4 लाख का चेक दिया गया है और शेष बचे लोगों के लिए चेक बन रहा है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

चित्तौड़गढ़ में भारी बारिश के बीच बोदियाना नाले में ट्रेवल्स बस फसी, रेस्क्यू जारी

0

चित्तौड़गढ़. मंगलवार देर रात हुई तेज बरसात के चलते पूरे जिले में चारों तरफ पानी ही पानी हो गया. जिले के नदी नालों में भी पानी की अच्छी आवक हुई है. सूत्रों के अनुसार जिले कई क्षेत्रों में मंगलवार रात से ही बरसात जारी है. रात 12 बजे बाद मूसलाधार बरसात में तब्दील हो गई. चित्तौड़गढ़ शहर के आस-पास के नालों में रात करीब 2 बजे तेज आवक हुई.

चित्तौड़गढ़ से कपासन जाने वाला मार्ग पूरी तरह अवरुद्ध हो गया. नाले में 6-7 फीट तक पानी था जो मुख्य सड़क पर आ गया. रात करीब 2 बजे यहां पर यात्रियों से भरी ट्रैवल्स बस को चालक को पता ही नहीं चला और पानी का अनुमान नहीं होने के कारण बस पानी के बीच में जाकर बंद हो गई. ऐसे में यात्रियों की सांसे भी अटक गई. सभी यात्री अन्य प्रदेशों के होने के कारण मदद के लिए स्थानीय मदद नहीं बुला पाए. तड़के कुछ लोग यहां से गुजरे तो किसी तरह लोगों के फसने की जानकारी प्रशासन तक पहुंचाई. इस पर पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे. अतिरिक्त कलेक्टर मुकेश कलाल सहित कई प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाला गया.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

घर से निकले बुजुर्ग की गला रेतकर हत्या, घाघरा के कछार में मिला शव

0

अयोध्या,18 जून (उदयपुर किरण). पटरंगा थाना अंतर्गत एक दिन पूर्व घर से लापता हुए एक बुजुर्ग का शव घाघरा नदी के कछार में मंगलवार को बरामद हुआ. शव को देखने से प्रतीत होता है कि बुजुर्ग की गला रेत कर हत्या की गई है. इस घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पटरंगा पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया.

 पटरंगा थाना क्षेत्र के कोपेपुर गांव के निवासी शहीम कुरैशी (60 वर्ष)  पुत्र अनीस कुरैशी सोमवार को घर से साइकिल लेकर कही निकले थे, जिनका पूरे दिन खोजबीन के बाद भी पता नहीं चला. मंगलवार को सुबह ग्रामीणों ने उसका शव घाघरा नदी के किनारे देखा, जिसका आधा गला धारदार हथियार से काट दिया गया था. परिजनों ने बताया कि शहीम की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी, लेकिन शहीम के पुत्र छोटू की पत्नी से कई महीनों से विवाद चल रहा है, जिसकी शादी एक वर्ष पूर्व जनपद बाराबंकी के अलियाबाद से हुई थी. पत्नी ने अपने ननिहाल वालों के साथ शुक्रवार को आकर जबरन दहेज का समान पिकप गाड़ी से लेकर चली गई थी. पटरंगा पुलिस के अलावा मौके पर पहुंचे सीओ डॉ धर्मेन्द्र यादव ने बताया कि हत्या की हर पहलू से जांच की जा रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

पुलिस अभिरक्षा से भागा वारंटी एक घंटे में गिरफ्तार

0
अयोध्या, 18 जून (उदयपुर किरण). जिला चिकित्सालय में मेडिकल कराने लाया गया वारंटी मंगलवार को पुलिस आरक्षी व होमगार्डों को चकमा देकर फरार हो गया. हालांकि पुलिस ने उसे एक घण्टे के अन्दर ही गिरफ्तार कर लिया.
साहबगंज पुलिस ने वारंटी सुक्खू को गिरफ्तार कर कोतवाली नगर अयोध्या की अभिरक्षा में सौंप दिया था. अदालत के सामने पेश करने के पहले कोतवाली नगर के आरक्षी विवेक यादव व दो होमगार्ड वारंटी सुक्खू और मुन्ना पुत्र इसरार निवासी मोहल्ला बेनीगंज का मेडिकल परीक्षण कराने जिला चिकित्सालय के इमरजेंसी कक्ष में पहुंचे. इसी बीच मौका पाकर सुक्खू फरार हो गया. आरक्षी विवेक यादव ने इसकी जानकारी तत्काल कोेतवाली नगर पुलिस को दी.
सीओ सिटी अरविन्द चौरसिया ने बताया कि पुलिस की मुस्तैदी के चलते फरार वारंटी को उसके घर के पास से गिरफ्तार कर लिया गया. सुक्खू को बिजली चोरी करने के मामले में पकड़ा गया था.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

मुखर्जी नगर की घटना से आक्रोशित सिख समाज के लोग सड़क पर उतरे

0

गाजियाबाद, 18 जून (उदयपुर किरण.). दिल्ली के मुखर्जी नगर इलाके में सिक्ख समाज के ड्राइवर से मारपीट का मुददा तूल पकड़ रहा है. सिक्ख समाज के लोगों ने मंगलवार को अपराह्न को पैदल मार्च किया और ज्ञापन के माध्यम से पूरे मामले के लिए दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ निलंबन तथा धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग उठायी.

कविनगर सी ब्लाक स्थित गुरूद्वारे पर गाजियाबाद समस्त सात संगत एवं गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के बैनर तले सिक्ख समाज के लोग एकत्र हुए और पैदल मार्च करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां प्रधानमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा गया. ज्ञापन के माध्यम से दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ निलंबन तथा धारा 307 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की गई. इसके साथ साथ पीड़ित परिवार को सुरक्षा उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया.
इस दौरान सरदार इंद्र जीत सिंह टीटू,सरदार हरमीत सिंह,सरदार जगमोहन सिंह,सरदार एसपी सिंह ओबराय,सरदार जसपाल सिंह आदि शामिल रहे.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

डेढ करोड़ मूल्य के ब्राउन शूगर बरामद

0
भुवनेश्वर, 18 जून (उदयपुर किरण). बालेश्वर जिले के सहदेवखुंटा पुलिस ने मंगलवार की सुबह डेढ करोड़  रुपये से अधिक मूल्य का ब्राउन शूगर बरामद किया है. इस मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है.
पुलिस सूत्रों ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर सहदेवखुंटा थाना क्षेत्र के दहपडा, फुलाडी व आस पास के इलाके में छापा मारा गया. वहां से 1.6 किलोग्राम ब्राउन शूगर बरामद किया. गिरफ्तार किये गये चार लोगों के पास से दो करें भी बरामद की गयी हैं.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

चलती ट्रेन से महिला ने लगाई छलांग, कटा पैर

0
हुगली, 18 जून (उदयपुर किरण). हुगली जिले के मानकुंडु स्टेशन के पास मंगलवार शाम एक महिला ने चलती ट्रेन से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया. हालांकि इस घटना में महिला की जान तो बच गई लेकिन उसका एक पांव कट गया. जीआरपी सूत्रों के अनुसार महिला का नाम चंद्रा कुंडू (55) है. वह चंदननगर के ज्योति मोड़ इलाके की रहने वाली है. मंगलवार शाम वृद्धा अचानक चलती ट्रेन से कूद पड़ी. आनन-फानन में उसे चंदननगर महकमा अस्पताल ले जाया गया. अस्पताल सूत्रों के मुताबिक ट्रेन से गिरने की वजह से महिला का एक पैर काटना पड़ा. फिलहाल जीआरपी मामले की जांच में जुटी है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

कैश फॉर जॉब स्कैम: निलंबित राजपत्रित अधिकारियों की पीआईएल पर सुनवाई

0

गुवाहाटी, 18 जून (उदयपुर किरण). गौहाटी उच्च न्यायालय की न्यायमूर्ति एन कोटिश्वर सिंह की एक खंडपीठ ने असम लोक सेवा आयोग (एपीएससी) कैश फॉर जॉब स्कैम के निलंबित 43 दागी अधिकारियों द्वारा दायर एक जनहित याचिका (पीआईएल) पर मंगलवार को सुनवाई की. इस मामले पर अगली सुनवाई 30 जून को निर्धारित की गई है. हाईकोर्ट ने पहली सुनवाई में ही यह साफ कर दिया है कि पूर्व के दिशा-निर्देश के तहत निलंबित राजपत्रित अधिकारियों को पुनः नौकरी नहीं मिलेगी. उल्लेखनीय है कि एपीएससी भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार 43 राजपत्रित अधिकारियों ने पुनः नौकरी बहाल करने की मांग को लेकर गौहाटी उच्च न्यायालय में एक पीआईएल दाखिल किया था. न्यायालय में मंगलवार को पहली सुनवाई हुई.

इस मामले में राज्य सरकार की ओर से उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता मनिंदर सिंहऔर नलीन एस कोहली ने पैरवी की. वरिष्ठ अधिवक्ता नलिन एस कोहली ने मंगलवार को सुनवाई के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि उच्चतम न्यायालय के पूर्व में दिए गए फैसले के तहत किसी भी स्थिति में भ्रष्टाचार में निलंबित राजपत्रित अधिकारियों की नौकरी पुनः बहाल नहीं की जा सकती. उल्लेखनीय है कि असम सरकार द्वारा एपीएससी भ्रष्टाचार मामले की पैरवी करने के लिए उच्चतम न्यायालय के अधिवक्ता मनिंदर सिंह को तीन करोड़ रुपये देने की बात सामने आई है.

ज्ञात हो कि पीआईएल दाखिल करने वाले गिरफ्तार 43 राजपत्रित अधिकारियों ने एपीएससी के पूर्व चैयरमैन राकेश पाल एवं उनके सहयोगियों को पैसे देकर एपीएससी की नौकरी प्राप्त की थी. इस मामले के भंडाफोड़ वर्ष 2016 में प्रकाश में आया था. उसके बाद एक-एककर 43 राजपत्रित अधिकारी इस मामले में गिरफ्तार हुए. इस मामले में राकेश पाल समेत कुल 70 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. जिसमें राजपत्रित अधिकारी व कर्मचारी भी शामिल हैं.

उल्लेखनीय है 2016 में डिब्रूगढ़ पुलिस के प्रयासों से करोड़ों रुपए के एपीएससी कैश फॉर जॉब घोटाला सुर्खियों में आया था. डिब्रूगढ़ से एक इंजीनियर नब कांत पातीर को उस समय गिरफ्तार किया गया जब वह एक महिला डॉक्टर को एपीएससी की नौकरी दिलाने के लिए 10 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार हुआ था.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

स्कूल वैन से गिरकर बच्ची की मौत

0

नलबाड़ी (असम), 18 जून (उदयपुर किरण). नलबाड़ी जिले के बरखेत्री के गंगापुर में मंगलवार को हुई एक सड़क दुर्घटना में एक बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई.

मिली जानकारी के अनुसार जिले बरखेत्री के गंगापुर में मारुति वैन से स्कूल से घर लौटते समय चार वर्षीय सलमा अख्तर सड़क पर गिर पड़ी. जिसकी वजह से उसकी मौके पर ही मौत हो गई. घटना के बाद वाहन चालक मौके पर ही वाहन छोड़कर फरार हो गया.

घटना की खबर मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मृत बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला सदर अस्पताल में भेज दिया.  इस संबंध में पुलिस ने एक प्राथमिकी दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

मुखर्जी नगर बवाल : सरबजीत सिंह पर पहले से हैं कुछ मामले दर्ज

0

नई दिल्ली, 18 जून (उदयपुर किरण). उत्तर पश्चिमी जिले के मुखर्जी नगर में सबरजीत व उकसे बेटे की पिटाई के मामले में मंगलवार को नया खुलासा हुआ. ग्रामीण सेवा चालक सरबजीत सिंह पर 3 अप्रैल को गुरुद्वारा बंगला साहिब के सेवादार ने मारपीट का मामला पार्लियामेंट थाने में दर्ज कराया था. इसके अलावा एक मामला तिमारपुर और दो अन्य मामलों में शिकायत दी गई थी. हालांकि इन तीनों मामलों में उन पर मुकदमा दर्ज नहीं हुआ था. एसडीएम के सामने पेश कर हिदायत देकर छोड़ दिया गया था. फिलहाल, गत रविवार को हुए मुखर्जीनगर मारपीट मामले में क्राइम ब्रांच ने अपनी जांच शुरू कर दी है.

सेवादार ने कराई मारपीट की शिकायत दर्ज

पुलिस के मुताबिक 3 अप्रैल 2019 को गुरुद्वारा के सेवादार ने सबरजीत के खिलाफ एक मामला पार्लियामेंट थाने में दर्ज कराई थी. शिकायतकर्ता मंगल सिंह ने पुलिस को बताया कि वह गुरुद्वारा बंगला साहिब में बतौर सेवादार काम करते है और वहीं पर रहते हैं. 3 अप्रैल को उनकी डयूटी शालू सिंह के साथ थी. डयूटी करते समय सुबह 6.25 बजे गुरुद्वारा में बने सरोवर के पास पहुंचे तो एक आदमी सोया हुआ था व उसके पास उसका बेटा बैठा हुआ था. वह 3/4 दिनों से अपने बेटे के साथ गुरुद्वारे में रह रहा था. पूछने पर अपने बारे में नहीं बताया. शालू सिंह ने पूछताछ करने पर वह झगड़ने लगा. इसके बाद उन्होंने गुरुद्वारे के मैनेजर राजेंद्र सिंह को बताया, जिसने दोनों को ऑफिस में लाने को कहा. जब शालू सिंह उनको मेनेजर के पास ले जाने लगे तो उसका बेटा भागने लगा, जिसको भागकर पकड़ा. तभी वह व्यक्ति पीछे से आया और मुझे पकड़कर हाथ मोड़कर नीचे गिरा दिया. इसके बाद जान से मारने की धमकी देकर मारपीट की.   सबरजीत सिंह मुखर्जी नगर इलाके के गांधी विहार में ई-290 में परिवार के साथ रहते है. परिवार में एक नाबालिग बेटा है. पत्नी का कई साल पहले देहांत हो चुका है. सबरजीत सिंह के ग्रामीण सेवा के साथियों ने बताया कि वह घर पर बहुत ही कम जाते हैं. दोनों पिता व बेटा गांधी विहार स्टैंड पर ही अपनी ग्रामीण सेवा में सो जाते हैं. सबरजीत के पिता ने बताया कि वह करीब 15 साल से चालक का काम कर रहे हैं. हालांकि बीच में कुछ समय के लिए छोड़ दिया था, लेकिन फिर से चालक का काम शुरू कर दिया है.

30 से अधिक वीडियो और सीसीटीवी फुटेज कब्जे में

मुखर्जी नगर इलाके में सिख ग्रामीण सेवा चालक सरबजीत सिंह की पिटाई के बाद हुए बवाल के मामले में सिख समुदाय का कहना है कि सरबजीत की पिटाई करने वाले दोषी पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करने के अलावा सरबजीत के खिलाफ दर्ज किए गए मुकदमों को वापस लिया जाए. उधर लोकल पुलिस ने केस से जुड़ी फाइलें भी मंगलवार को क्राइम ब्रांच को सौंप दी. क्राइम ब्रांच ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

पुलिस सूत्रों की मानें तो सोशल मीडिया के अलावा पुलिसकर्मियों व लोकल लोगों के मोबाइल से बनाई गई पूरे घटनाक्रम की 30 से अधिक वीडियो और सीसीटीवी फुटेज को क्राइम ब्रांच की टीम ने अपने कब्जे में लिया है. पुलिस अधिकारी पूरे घटनाक्रम के सिलसिलेवार कड़ी से कड़ी जोड़कर साक्ष्य इक्ट्ठा कर रहे हैं. वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामले की छानबीन के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल अभी कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है. दोनों पक्षों की एमएलसी रिपोर्ट भी पेंडिंग है.

सोशल मीडिया पर भी पुलिस की पैनी नजर

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया कि सोशल मीडिया पर पूरे बवाल के वीडियो पोस्ट किए जा रहे हैं. पुलिस इस पर भी नजर रख रही है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि देशभर के सिख समुदाय और उनसे जुड़े सोशल मीडिया पर वीडियो को पोस्ट किया जा रहा है. वहां क्या गतिविधियां चल रही हैं पुलिस इस पर भी नजर रखे हुए है. आशंका व्यक्त की जा रही है कि सोशल मीडिया पर इस मुद्दे को भुनाकर समुदाय से जुड़े कुछ लोग इसका राजनीतिकरण कर इस मामले को बड़ा बनाना चाहते हैं. ऐसे में उन लोगों की क्या प्रतिक्रियाएं आ रही हैं, पुलिस उस पर भी नजर रखे हुए है.

मुखर्जी नगर में प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्र दहशत में

देश भर के लिए मुखर्जी नगर का इलाका यूपीएससी और अन्य प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने का हब है. देशभर से आए छात्र यहां रहकर न सिर्फ परीक्षाओं की तैयारी करते हैं बल्कि यहां कोचिंग सेंटर में उसकी क्लास भी करते हैं. सोमवार हुए बवाल के बाद न सिर्फ तैयारी कर रहे छात्र बुरी तरह दहशत में हैं बल्कि उनके परिजन भी बुरी तरह डरे हुए हैं. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को देखकर इन छात्रों के परिजन उनको वापस अपने-अपने घर बुला रहे हैं. उनका कहना है कि जब यहां शांति हो जाए तो वापस आकर अपनी तैयारी शुरू करेंगे. मुखर्जी नगर के गांधी विहार इलाके से बड़ी संख्या में छात्रों ने अपने-अपने घरों का रुख कर लिया है. यहां तक कि दिल्ली के अलग-अलग से कोचिंग में क्लास करने वाले छात्रों की संख्या में भी कमी आई है. मंगलवार को कोचिंग क्लास में छात्रों की संख्या कम ही रही.

बवाल को काबू करने में पुलिसतंत्र फेल

मुखर्जी नगर इलाके में रविवार दोपहर बाद शुरू हुए मामूली झगड़े ने देखते ही देखते विकराल रूप धारण कर लिया. रविवार शुरू हुआ बवाल पूरी रात चला. इसके बाद सोमवार दिनभर सिख समुदाय मुखर्जी नगर थाने के बाहर डटा रहा. शाम को कुछ हालात सामान्य लगे, लेकिन रात को दोबारा थाने का घेराव कर लिया गया. जानकारों का कहना है कि घटना से निपटने में पुलिसतंत्र पूरी तरह विफल रहा है. छोटी-छोटी गलतियों से घटना बड़ी होती गई. पुलिस यदि समय पर कार्रवाई करके लोगों को समझाने में कामयाब होती तो इतना बड़ा बवाल नहीं होता. लगातार समुदाय के नेता पुलिस पर दबाव बनाते चले गए और पुलिस मूकदर्शक बनी देखती रही. यही वजह है कि पुलिसकर्मी को तलवार मारने के बाद भी पुलिस आरोपी ग्रामीण सेवा चालक को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. सूत्रों का कहना है कि पुलिस के खुफिया विभाग को पता भी नहीं चला और घटना का राजनीतिकरण कर उसे सोशल मीडिया पर बुरी तरह फैला दिया गया. समय पर उचित कार्रवाई हो जाती तो इतना बड़ा बवाल नहीं होता.

कौन है सरबजीत और उसका बेटा

सरबजीत सिंह और उसका परिवार ई-290, गांधी विहार, मुखर्जी नगर में रहते हैं. कई साल पहले उसकी पत्नी की मौत हो चुकी है. इसके परिवार में 15-16 वर्षीय एक बेटा है. ग्रामीण सेवा चलाने वाले चालकों ने बताया कि दोनों पिता-पुत्र घर कम ही जाते हैं. अक्सर दोनों अपनी ग्रामीण सेवा में ही सो जाते हैं. सरबजीत के पिता व भाई मुखर्जी नगर में ही दोनों से अलग रहते हैं. परिजनों ने बताया कि पिछले करीब 15 साल से सरबजीत चालक का काम करता है. कुछ दिनों सरबजीत ने चालक की नौकरी छोड़कर दूसरा काम किया, लेकिन बाद में वह दोबारा ग्रामीण सेवा चलाने लगा. लोगों का कहना है कि सरबजीत काफी गुस्सैल प्रवृत्ति का है. छोटी-छोटी बातों पर वह आग बबूला हो जाता है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

अभिनेत्री अमीषा पटेल के खिलाफ ढाई करोड़ की ठगी के मामले में हुई सुनवाई

0

रांची, 18 जून (उदयपुर किरण). ढाई करोड़ रुपये की ठगी करने की आरोपित बॉलीवुड अभिनेत्री अमीषा पटेल से जुड़े मामले में मंगलवार को न्यायिक दंडाधिकारी कुमार विपुल की अदालत में सुनवाई हुई. मामले में अमीषा पटेल को अदालत में हाजिर होने के लिए पूर्व में भेजे गये समन की रिपोर्ट अभी तक नहीं आयी है. अदालत ने मामले में सुनवाई की अगली तिथि आठ जुलाई तय की है.

इस मामले में अमीषा पटेल के अलावा उसकी प्रोडक्शन कंपनी और उसके अधिकारी कमल गुमर के खिलाफ अदालत ने धोखाधड़ी, विश्वासघात और एनआई एक्ट की धारा 138 के तहत पूर्व में संज्ञान लिया था.

गौरतलब है कि शिकायतकर्ता लवली वर्ल्ड एंटरटेनमेंट सर्वेश्वरीनगर हेहल के प्रोपराइटर अजय कुमार सिंह ने बॉलीवुड अभिनेत्री अमीषा पटेल के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी थी कि फिल्म में फाइनांस करने के नाम पर अमीषा पटेल ने उनसे ढाई करोड़ रुपये की ठगी की है. शिकायतकर्ता के अनुसार 25 नवंबर 2017 को रांची में डिजीटल इंडिया के एक कार्यक्रम में वे आमंत्रित थे. उस कार्यक्रम में अमीषा पटेल मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल थी. वहीं पर अमीषा से मुलाकात हुई थी जिसके बाद दोनों की मुलाकात रांची के एक प्रतिष्ठित होटल में हुई. अमीषा ने अपनी फिल्म ‘देसी मैजिक’ के लिए अजय को फाइनांस करने की बात कही थी. इसके बाद मुंबई में भी दोनों की मुलाकात हुई और फिल्म फाइनांस करने के लिए एग्रीमेंट किया गया. अजय कुमार सिंह ने अमीषा पटेल को ढाई करोड़ रुपये दिये पर अमीषा ने पैसा नहीं लौटाया. बाद में पैसे मांगने पर अमीषा ने ढाई करोड़ और पचास लाख के दो चेक  दिये और उसका पेमेंट भी रुकवा दिया. इसके बाद अजय ने मामले की शिकायत पुलिस में दर्ज करायी.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

सिक्योरिटी गार्ड की सड़क हादसे में मौत

0
देहरादून, 18 जून (उदयपुर किरण). शहर स्थित वाडिया इंस्टीटयूट के पास मंगलवार को एक व्यक्ति की सड़क हादसे में मौत हो गई. पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान चिन्तामणि (60) पुत्र बच्ची राम निवासी खादर रायपुर थाना रायपुर के रूप में हुई है. वह अपोलो हॉस्पिटल, चकराता रोड देहरादून में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करते थे. किसी काम से मंगलवार को वाडिया संस्थान के पास आए थे. इसी दौरान सड़क पार करते समय एक बाइक ने उन्हें टक्कर मार दी. गंभीर हालत में उन्हें सिनर्जी अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई. पुलिस के मुताबिक हादसे के बाद बाइक सवार मौके से फरार हो गया. उसकी तलाश के लिए पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

राजमिस्त्री की बेंत से मार कर हत्या

0
वाराणसी,  18 जून (उदयपुर किरण). कैंट थाना क्षेत्र के ऐढ़े गांव रिंग रोड के पास एक राजमिस्त्री की फरसे के बेंत से मार कर मंगलवार को हत्या कर दी गयी. सूचना पाते ही मौके पर क्षेत्रीय पुलिस के साथ एसएसपी आनन्द कुलकर्णी भी पहुंच गये. पुलिस ने पूछताछ के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया.
एसएसपी ने बताया कि  मृतक की पहचान ऐढ़े गांव निवासी राजकुमार चौहान (45) के रूप में हुई. राजकुमार राजमिस्त्री के साथ आटो भी चलाता है. मृतक के पिता उमाशंकर ने बताया कि 16 जून को 100 डायल पुलिस ने एक ऑटो रिक्सा पकड़कर राजकुमार के देखरेख में दिया था. बीते सोमवार की देर रात लगभग 12 मनबढ़ युवक ऑटो को ले जाने के लिए राजकुमार के घर पहुंचे. जबरन आटो ले जाने पर राजकुमार ने जब विरोध किया तो आरोप है कि बौखलाएं युवकों ने वहां रखे फरसे के बेंत से उसके सिर पर प्रहार कर दिया. सिर पर चोट लगते ही राजकुमार की मौके पर ही मौत हो गयी. मृतक की पत्नी रिंकू और 10 वर्ष का बेटे का रो-रोकर बेहाल है.
एसएसपी ने बताया कि मृतक के पत्नी की ओर से मिली तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. रिपोर्ट आने के बाद ही मामले की सही जानकारी हो सकेगी. जांच की जा रही है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

महिला का पीछा कर हमला करने वाले सात अपराधी गिरफ्तार

0

कोलकाता, 18 जून (उदयपुर किरण). कोलकाता के चारू मार्केट थाना इलाके में एक महिला का पीछा कर उस पर हमला करने वाले सात अपराधियों को कोलकाता पुलिस की खुफिया टीम ने चंद घंटों के अंदर गिरफ्तार किया है. इनकी गिरफ्तारी मंगलवार शाम हुई है. गिरफ्तार लोगों के नाम शेख रोहित, फरदीन खान, शेख सबीर अली, शेख गनी, शेख इमरान अली, शेख वसीम और आतिफ खान उर्फ मोहम्मद शमशाद के तौर पर हुई है.

इनकी गिरफ्तारी के बारे में कोलकाता पुलिस के संयुक्त आयुक्त (अपराध) प्रवीण त्रिपाठी ने मंगलवार रात जानकारी दी. उन्होंने बताया कि सोमवार रात 12 बजे के करीब 17 नंबर प्रिंस अनवर शाह लेन की रहने वाली उसोसी सेनगुप्ता ने अपने और अपने दोस्तों के लिए उबेर कैब बुक किया था लेकिन जैसे हैं ये लोग गाड़ी लेकर चारू मार्केट थाना इलाके के पास से गुजर रहे थे, सभी आरोपितों ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया. गवर्नमेंट हाउसिंग सोसायटी के सामने महिला ने जब कार रोककर अपने एक मित्र को उबेर से उतारा उसी समय सभी आरोपितों  ने उस पर हमला कर दिया. तुरंत उन लोगों ने चारू मार्केट थाने में जाकर प्राथमिकी दर्ज कराई जिसके बाद जांच में जुटी पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखकर इन सभी को गिरफ्तार कर लिया है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

वृद्ध ने जहरीला पदार्थ खाकर जान दी

0
हरिद्वार, 18 जून (उदयपुर किरण). जिले में बीमारी से तंग एक वृद्ध ने जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी. पुलिस के अनुसार, करतार सिंह (70) पुत्र स्व. वारू सिंह निवासी टाण्डा भागमल, लक्सर ने सोमवार देर रात को बीमारी से परेशान होकर जहरीला पदार्थ खा लिया. परिजनों ने उन्हें कनखल स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

छत्तीसगढ़: दुष्कर्म पीड़िता ने हाईकोर्ट से गर्भपात की मांगी इजाजत

0

रायपुर, 18 जून (उदयपुर किरण). छत्तीसगढ़ में एक दुष्कर्म पीड़ित युवती ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर गर्भपात की इजाजत मांगी है. मंगलवार को इस याचिका पर सुनवाई करते हुए छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने बिलासपुर के सीएमएचओ को बुधवार को जांच रिपोर्ट कोर्ट के सामने पेश करने का निर्देश दिया है. इस मामले में अब गुरुवार को सुनवाई होगी.

मंगलवार को हाईकोर्ट में जस्टिस प्रशांत मिश्रा की बेंच ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पीड़ित युवती को बुधवार को बिलासपुर के मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी के समक्ष उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं. सीएमएचओ को युवती का स्वास्थ्य परीक्षण करने के लिए कहा गया है. सीएमएचओ को यह बताने के निर्देश दिए गए हैं कि एमटीपी एक्ट 1971 के प्रावधानों के मुताबिक गर्भपात की अनुमति दी जा सकती है या नहीं? हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई निर्धारित करते हुए राज्य शासन को मेडिकल रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं.

हाईकोर्ट में दायर याचिका में पीड़िता ने मनीष नामक एक युवक पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है. उसी की वजह से वह गर्भवती हुई है. पीड़िता बच्चे को जन्म नहीं देना चाहती है, इसलिए उसने हाईकोर्ट से गर्भपात की अनुमति मांगी है. याचिका पर प्रारंभिक सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपित युवक सहित अन्य को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

पुलिस परीक्षा परिणाम घोषित न होने से नाराज अभ्यर्थियों ने सौपा ज्ञापन

0

रायपुर, 18 जून (उदयपुर किरण). जिला पुलिस परीक्षा परिणाम घोषित नहीं किए जाने को लेकर अभ्यर्थियों में बेहद नाराजगी है. अभ्यर्थियों के प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को वरिष्ठ भाजपा नेता एवं रायपुर दक्षिण विधायक बृजमोहन अग्रवाल से निवास पर मुलाकात की और परीक्षा परिणाम जल्द घोषित कराए जाने के लिए शासन-प्रशासन स्तर पर बातचीत करने हेतु आग्रह किया और उन्हें ज्ञापन सौंपा.

गौरतलब है कि 61400 अभ्यर्थियों ने लिखित परीक्षा सितंबर 2018 में दी थी. बावजूद अभी तक परिणाम घोषित नहीं किए गए हैं. भाजयुमो के जिला महामंत्री सचिन मेघानी व प्रशांत शर्मा के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधिमंडल में अभ्यर्थी अनिल साहू, राजू यादव, राज कौशल, सुनील राजपूत, नेहा सिंह, निशा जैन आदि उपस्थित थे.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

बर्फ बेचने वाले पर धारदार हथियार से हमला, हालत गंभीर

0

हल्द्वानी, 18 जून (उदयपुर किरण). बद्रीपुरा में टैम्पो चालक ने बर्फ बेचने वाले व्यक्ति को धारदार हथियार से घायल कर दिया. उसे गम्भीर हालत में सुशीला तिवारी अस्पताल ले जाया गया है.

बद्रपुरा के पांडे निवास में रहने वाला चंद्रपाल गौला पार में बर्फ बेचता है. वह अपना काम खत्म कर घर लौट रहा था. उसी समय बद्रीपुरा की आटा चक्की के पास टैम्पो चालक गोलू निवासी तिकोनिया ने उसके साथ बहस शुरू कर दी. कुछ ही देर में हाथापाई होने लगी. तभी गोलू ने चंद्रपाल की गर्दन पर धारदार हथियार से हमला कर दिया. चंद्रपाल लहूलुहान हालात में जान बचा कर घर पहुंचा. उसके परिजन उसे सुशीला तिवारी अस्पताल ले गए. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी ली. हमलावर का टैम्पो वहीं खड़ा था. जानकारी के मुताबिक टेम्पो चालक नशे में था एवं वारदात को अंजाम देकर नैनीताल रोड की तरफ भाग गया.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

सरकार जम्मू कश्मीर में 18 अमश्त स्टोर खोलगी

0

श्रीनगर 18 जून (उदयपुर किरण). ऑफिस ऑफ कंट्रोलर ड्रग ने आज जानकारी दी कि सरकार सभी मेडिकल कॉलेजों, अस्पतालों, स्किमस और राज्य के प्रमुख संबद्ध अस्पतालों में 18 अमश्त स्टोर खोलने की योजना बना रही है.

एक प्रेस विज्ञिप्ति के अनुसार इस संबंध में इन संस्थानों का समझौता ज्ञापन मंगलवार को गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, श्रीनगर में संबंधित चिकित्सा अधीक्षकों और एचएलएल लाइफ केयर लिमिटेड के बीच निश्पादित किया गया, जो कि अमश्त फारमेसियों के लिए नोडल एजेंसी है. एचएलएल लाइफ केयर लिमिटेड दो महीने के भीतर अपना कार्य शुरू करने के लिए प्रतिबद्ध है. स्टोर खोलने का पहल का उद्देश्य अंतिम उपयोगकर्ताओं को गुणवत्ता और सस्ती दवाएं प्रदान करना है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

ट्रक पर लदी शराब का खेप जब्त

0

बिरौल,18,जून (उदयपुर किरण).   दरभंगा जिला के कुशेश्वरस्थान थाना क्षेत्र के झरझर गाँव सोमवार की देर रात  10 चक्के का  ट्रक पर लदी विदेशी शराब की खेप पकड़ने में पुलिस कोसफलता हासिल हुई. ट्रक पर  165 कार्टन  हरियाणा निर्मित शराब लदी थी.  कारोबारी या चालक को पूर्व पुलिस आने की भनक लग जाने के कारणचालक खलासी पुलिस आने से पहले फरार हो गया. अनुमंडल क्षेत्र में अब तक 5 बडी शराब की खेप पकड़ कर पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की  .  यह कुशेश्वरस्थान में तीसरी बड़ी  खेपमें   पचास लाख की शराब होगी. इस धंधे में सम्मिलित एक सफेदपोश का हाथ होने का सूचना मिली है.मौके पर सर्किल इंस्पेक्टर मुकेश कुमार थाना अध्यक्ष मनीष कुमार अरुण झा सुमन सहित अन्य पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

नकली आयुर्वेदिक चिकित्सक व तीन महिला दलाल गिरफ्तार

0

बरपेटा (असम), 18 जून (उदयपुर किरण). बरपेटा जिले के बरपेटारोड शहर स्थित दिलीप सिनेमा हाल के ठीक सामने मां मेडिकल नामक एक फार्मेसी से पुलिस ने मंगलवार को एक नकली आयुर्वेदिक चिकित्सक और तीन महिला दलालों को गिरफ्तार किया है. मिली जानकारी के अनुसार बंगाईगांव जिले के पतीलादह से एक रोगी अपनी चिकित्सा कराने के लिए बरपेटा पहुंचा था. शिमलागुरी में महिला दलाल ने रोगी को बरगला कर मां मेडिकल में बेहतर चिकित्सा कराने के लिए ले आई.

मां मेडिकल के डॉक्टर आहिदुल इस्लाम ने रोगी की चिकित्सा करने के पश्चात 36 सौ रुपए की दवा खरीदने के लिए एक पर्ची लिखा. रोगी के साथ आए एक अन्य व्यक्ति ने उक्त पर्ची का अपने मोबाइल से फोटो लेकर अपने जान-पहचान के चिकित्सक को व्हाट्सएप के जरिए प्रेषित कर दिया.

जांच में पता चला कि डॉ आहिदुल इस्लाम एक नकली डॉक्टर है. रोगी के परिजनों ने तुरंत इस मामले की जानकारी बरपेटा रोड पुलिस को दी. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मा मेडिकल से फर्जी चिकित्सक तथा मेडिकल में मौजूद तीन महिला दलालों को भी गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार तीनों की पहचान अंजलि बरुवा, रेखा दास और कोहिनूर खातून के रूप में की गई है. पुलिस ने इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर फर्जी चिकित्सक और तीनों दलालों से पूछताछ करने में जुटी हुई है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

मुंबई: जुहू और वर्सोवा बीच पर दो शव मिले

0
मुंबई, 18 जून (हिं स). दो अलग-अलग घटनाओं में मुंबई समुद्र तट पर मौजूद लाइफगार्ड्स ने दो शवोॆं को समुद्र से बाहर निकाला. जुहू और वर्सोवा समुद्र तटों पर तैनात लाइफगार्ड ने समुद्र से दो शव बाहर निकाले हैं. मंगलवार की सुबह जुहू बीच पर तैनात लाइफगार्ड ने गोदरेज बंगले के बाहर बीच पर पानी में तैरता हुआ एक शव देखा. इसके बाद तुरंत स्थानीय पुलिस को फोन किया गया. पुलिस और लाइफगार्ड की मदद से समुद्र से एक अज्ञात व्यक्ति का शव बाहर निकाला गया. दूसरी घटना नाना नानी पार्क के पास वर्सोवा बीच पर घटी. वर्सोवा बीच के समुद्र के पानी में तैरते हुए एक शव को देखा गया. सफाईकर्मियों ने इसकी घटना फायर ब्रिगेड के लाइफगार्ड को सूचित किया. पुलिस को भी फोन पर जानकारी दी गई. लाइफ गार्ड्स ने समुद्र से एक महिला के शव को बाहर निकालने के बाद पुलिस को सौंप दिया.
समुद्र तट की सुरक्षा के लिए तैनात दृष्टि लाइफ गार्ड्स प्राइवेट लिमिटेड के कर्मियों ने बताया कि मुंबई ग्रेटर, गिरगाम, दादर, जुहू, वर्सोवा, अक्सा, गोराई समेत मुंबई शहर और उपनगरों की छह समुद्र तटों पर जीवन रक्षक सेवाएं प्रदान करने और समुद्र तट सुरक्षा का प्रबंधन करने के लिए ब्रृहन्मुंबई महानगर पालिका और मुंबई फायर ब्रिगेड की ओर से कंपनी को ठेका दिया गया है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

शोभजी का खेड़ा निवासियों ने ग्राम पंचायत का परिसीमन सही करने की उठाई मांग

0

उदयपुर. जिले के मावली पंचायत समिति का राजस्व गांव शोभजी का खेड़ा दो पाटों के बीच साबुत की तरह पिसा रहा है. यहाँ के ग्रामीण नामरी ग्राम पंचायत से निकलकर साकरिया खेड़ी में शामिल होना चाहते है और प्रशासन कान में तेल डालकर बैठा है. ग्रामीणों का कहना है उनका गांव नामरी से 9 किमी दूर है जबकि साकरिया खेड़ी ग्राम पंचायत महज एक से डेढ़ किमी की दूरी पर स्थित है.

ग्रामीणों के अनुसार 350 लोगों की जनसंख्या वाले गांव शोभजी का खेड़ा आज पंचायत से अलग थलग पड़ा हुआ है. ग्रामीणों का कहना है कि हमारे राजस्व गांव के पास साकरिया खेड़ी पंचायत की सीमा लगती है, जबकि नामरी का दूर तक कोई नामो निशान नहीं है इसके बावजूद नामरी पंचायत में मानो जबरदस्ती द्वेषतापूर्वक डाल रखा है. ग्रामीणों का कहना है मतदान तक हम साकरिया खेड़ी पोलिंग बूथ पर करते है. राशन सामग्री भी साकरिया खेड़ी से ही मिलती है.

ग्रामीणों का कहना है कि राजस्थान सरकार के द्वारा पंचायती राज अधिनियम 1994 की धारा 101 के अंतर्गत ग्राम पंचायत की सीमा पुनर्निर्धारण का अधिकार है. ऐसे में इस अधिकार का उपयोग कर के शोभजी का खेड़ा को नामरी से निकालकर साकरिया खेड़ी में शामिल करने की मांग ग्रामीणों ने जोर शोर से की.

गौरतलब है ग्रामीणों ने विधानसभा चुनाव के दौरान इस मांग को लेकर चुनाव बहिष्कार का निर्णय लिया था लेकिन लोकतंत्र के सम्मान में और प्रशासन द्वारा किए गए वादे के बाद यह निर्णय वापस लिया था. ये भी बता दें कि ग्रामीण जनप्रतिनिधियों से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों तक से इस मांग को लेकर अनुनय विनय कर चुके है लेकिन ग्रामीणों की ये मांग नक्कारखाने में तूती बनकर ही रह गई है.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today