अंतर्राज्यीय एटीएम हैकर गिरोह के दो शातिर गिरफ्तार

एडीजी की सर्विलांस टीम व चकेरी थाना पुलिस को मिली कामयाबी

कानपुर, 11 फरवरी (उदयपुर किरण). उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद में एडीजी की सर्विलांस टीम व चकेरी पुलिस ने संयुक्त आपरेशन में दो शातिर एटीएम हैकरों को गिरफ्तार किया है.गिरफ्तार हैकर किराये पर एटीएम लेते थे और फिर लोगों के खाते हैक कर रकम पार करने में माहिर है. हैकरों के कब्जे से एटीएम कार्डों के जरिये पार रकम के साथ 19 एटीएम कार्ड बरामद करते हए पुलिस कार्यवाही कर रही है.

कैंट पुलिस उपाधीक्षक अविनाश पांडेय ने रविवार को बताया कि जनपद में चकेरी के साथ कई थानाक्षेत्रों में एटीएम हैक कर लोगों के खाते से रकम गायब होने की शिकायतें आ रही थी. इसके अलावा एटीएम मशीनों को हैक कर विभिन्न बैंकों को भी चूना लगाया जा रहा है. जिले में एटीएम हैक कर साइबर क्राइम की बढ़ती घटनाओं पर अंकुश लगाने व अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस महानिदेशक की सर्विलांस टीम के साथ चकेरी थाना पुलिस को लगाया गया था.

सर्विलांस प्रभारी अजय अवस्थी की अगुवाई में छानबीन कर रही पुलिस को पता चला कि उत्तर प्रदेश के साथ ही बिहार व मध्य प्रदेश में एटीएम हैकर गिरोह का मकड़जाल फैला हुआ है. हैकरों की तलाश में जुटी पुलिस को छानबीन में कई अहम सबूत मिले और फिर कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए टीम ने चकेरी के श्याम नगर में रहने वाले मोटर साइकिल मैकेनिक अजय को दबोच लिया. उससे पूछतांछ में गिरोह में शामिल साथी मनीष कुमार को दबोच लिया.

हैकरों से पूछताछ में पता चला कि उन्होंने एटीएम मशीनों की जानकारी मोबाइल एप से लेकर हैक करने का तरीका सीखा और फिर उसे अंजाम देने लगे. एटीएम मशीनों में रकम पार करने में पकड़े न जाए इसके लिए वह मशीनों की पावर सप्लाई काट देते हैं और फिर उसका पैनल खोल लेते हैं. जिसके बाद बड़े आराम से एटीएम मशीन हैक हो जाती है और फिर किराये पर लिए गये एटीएम कार्डों के जरिये रकम निकाल लेते हैं.

सीओ कैंट के मुताबिक इस दौरान एटीएम से निकाली गई रकम का लेखाजोखा भी नहीं आ पता है और पकड़े जाने का खतरा भी नहीं होता. हैकरों से पूछताछ में उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद के साथ ही अन्य जिलों व बिहार व मध्य प्रदेश में एटीएम हैक कर रकम निकालने की घटनाएं कबूल की गई है. अभियुक्तों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेजा जा रहा है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *