एक लाख की इनामी महिला समेत 15 माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

0
3

बीजापुर. छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिला में एक लाख की इनामी महिला समेत 15 माओवादियों ने रविवार को पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है, जिसमें 3 पुरुष माओवादियों ने बंदूक के साथ आत्मसमर्पण किया है.

बीजापुर एसपी गोवर्धन ठाकुर और सीआरपीएफ 85 बटालियन के सीओ सुधीर कुमार के सामने यह आत्मसमर्पण किया गया है. ये सभी नक्सली नेशनल पार्क क्षेत्र में सक्रिय थे. एसपी गोवर्धन ठाकुर ने रविवार को बताया कि ग्राम जारामरका से 9 पुरुष एवं 6 महिला माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है, जिसमें एक लाख की इनामी महिला माओवादी ईरपा वाचम सीएनएम कमाण्डर है.

समर्पित करने वाले नक्सलियों में एक सीएनएम अध्यक्ष, 5 मिलिशिया सदस्य, 8 डीएकेएमएस सदस्य एवं एक आरपीसी सदस्य है. माओवादियों में कु. इरपे वाचम सीएनएस कमाण्डर, इनाम एक लाख रुपये, राजू राम वाचम डीएकेएमएस सदस्य (बंदूक भरमार), सुक्कु वाचम डीएकेएमएस सदस्य, बंजाराम गोटा डीएकेएमएस सदस्य (भरमार बंदूक), रैनु वाचम डीएकेएमएस सदस्य, राजू वाचम आरपीसी सदस्य सुक्कु पल्लो डीएकेएमएस सदस्य हैं.

ओवा राम वाचम डीएकेएमएस सदस्य, कु. जुर्री पल्लो मिलिशिया सदस्य, बुधरी तेलम मिलिशिया सदस्य, माण्डी तेलम मिलिशिया सदस्य, सुनिता वाचर्म मिलिशिया सदस्य, वडडे शंकर मिलिशिया सदस्य (भरमार बंदूक), कु. जिम्मो वाचम डीएकेएमएस सदस्य शामिल हैं.

उन्होंने बताया कि आत्मसमर्पित नक्सलियों को प्रोत्साहन स्वरूप 10-10 हजार रुपये नगद राशि प्रदान की गयी. एसपी गोवर्धन ठाकुर ने माओवादियों से अपील की है कि हिंसा किसी भी मसले का हल नहीं है. हिंसा छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुड़ें और शासन की कल्याणकारी नीतियों का लाभ उठायें.

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here