जासूसी के आरोप में गिरफ्तार सेना का जवान 26 तक पुलिस रिमांड पर

0
2
भोपाल, 17 मई (उदयपुर किरण). इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) की सूचना पर एन्टी टैरेरिस्ट स्वायड (एटीएस) द्वारा गुरुवार शाम को इंदौर के पास स्थित महू छावनी में तैनात भारतीय सेना के जवान को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया था. शुक्रवार को एटीएस पूछताछ के लिए उसे भोपाल लेकर आई और यहां जिला अदालत में पेश कर उसे 26 मई तक रिमांड पर लिया है. जवान पर आरोप है कि सेना से जुड़ी खुफिया जानकारी पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को बेचता था.

जानकारी के मुताबिक, महू छावनी में पदस्थ सेना के जवान 25 वर्षीय अविनाश कुमार एटीएस ने गुरुवार शाम को गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने हनी ट्रैप के जरिए फंसाया और उससे खुफिया जानकारी ली जा रही थी. एटीएस चीफ संजीव शमी के मुताबिक, इसके लिए उसे रुपये मिल रहे थे. उसके विरुद्ध गोपनीय जानकारी लीक करने का प्रकरण दर्ज किया गया है. शुक्रवार को उसे भोपाल की जिला अदालत में पेश कर एटीएस ने 10 दिन की रिमांड मांगी. भोपाल की जिला अदालत ने सुनवाई के बाद आरोपित जवान को 26 मई तक पुलिस को रिमांड पर सौंप दिया है. एटीएस ने उसका मोबाइल जब्त कर व्हॉट्सएप और फेसबुक अकाउंट की जांच शुरू कर दी है और अभी हनी ट्रैप मामले में पूछताछ की जा रही है.

जानकारी मिली है कि अविनाश कुमार बिहार का मूल निवासी है और उसके पिता आर्मी के रिटायर्ड अधिकारी हैं. वह सेना में भर्ती होने के बाद असम में पदस्थ हुआ. एक साल पहले उसे महू छावनी में बिहार रेजिमेंट में सहायक क्लर्क के पद पर पोस्टिंग मिली थी. जानकारी मिली है कि आईएसआई ने उसे हनी ट्रैप के मामले में फंसाया. वह पिछले साल महू आया था, तब उसकी एक पाकिस्तानी युवती से पहचान हुई थी. वह उससे सेक्सी चैट करने लगा, लेकिन कुछ दिन बाद वह युवती अविनाश को ब्लैकमेल करने लगी. बताया जा रहा है कि अविनाश ने उसे ऐसी गोपनीय जानकारियां भेज दी, जिनसे युद्ध के दौरान पाकिस्तान को फायदा हो सकता है. आईबी पिछले छह महीने से उसकी निगरानी कर रही थी.

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here