जेएनयू के स्कूल ऑफ लैंग्वेज की लाइब्रेरी में छात्र ने की खुदकुशी

0
2
नई दिल्ली, 17 मई (उदयपुर किरण). राजधानी के जेएनयू के स्कूल ऑफ लैंग्वेज की लाइब्रेरी में एमए इंग्लिश, सेकेंड इयर के 22 वर्षीय एक छात्र ने पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली. उसने लाइब्रेरी के बेसमेंट के पास बने कॉमन एरिया में दोपहर करीब 12 बजे अपनी जान दी. खुदकुशी करने से पहले छात्र ने एक टीचर को मेल कर सुसाइड के बारे में जानकारी दी थी.
खुदकुशी करने वाले छात्र की पहचान ऋषि जोशुआ के रूप में हुई. वह मही मांडवी ब्वॉयज हॉस्टल में रहता था. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच शुरू कर दी है. जांच में जुटी पुलिस छात्र द्वारा टीचर को किए गए मेल के आधार पर अपनी जांच आगे बढ़ा रही है. घटना की जानकारी पुलिस को जेएनयू के माही मांडवी छात्रावास के वार्डन की तरफ से सुबह करीब 11.30 बजे मिली. जोशुआ इसी छात्रावास में रहता था.
दक्षिण पश्चिमी जिले के डीसीपी देवेंद्र आर्य ने बताया कि ‘फोन कॉल करने वाले माही मांडवी छात्रावास के प्रभारी से सम्पर्क करने के बाद पुलिस विश्वविद्यालय के स्कूल आफ लैंग्वेजेज पहुंची, जहां लाइब्रेरी के बेसमेंट में बने कॉमन एरिया के एक कक्ष के वह था. वह कक्ष अंदर से बंद था. काफी आवाज लगाने के बाद भी कुछ पता नहीं चला तो खिड़की से झांककर अंदर देखा गया तो वह पंखे से लटका हुआ था. फिर किसी तरह दरवाजा काटकर अंदर जाने पर उसका शव नीचे उतारा गया.
मौके पर पहुंची क्राइम टीम ने मौका मुआयना कर कुछ साक्ष्य जुटाए. इसके बाद शव को सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया है. मृत छात्र के रिश्तेदारों को सूचित कर दिया गया, जो जोशुआ के एक रिश्तेदार मैथ्यू वर्गीज विश्वविद्यालय पहुंच भी गए. डीसीपी के मुताबिक ‘शुरूआती जांच के अनुसार जोशुआ का उपचार चल रहा था. इस आधार पर यह आशंका जताई जा रही है कि बीमारी से परेशान होकर उसने खुदकुशी की है. बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही हैं.

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here