तमिलनाडू की थी गैंग, सभी नौ सदस्य राजस्‍थान से गिरफ्तार

कार से 10 लाख रुपये से भरा ब्रीफकेस चोरी करने वाले पकड़े गए

अजमेर, 16 मार्च (उदयपुर किरण).(अपडेट…) जयपुर रोड पर होटल एम्बेसी के सामने खड़ी कार का शीशा तोड़कर दस लाख रुपए व लाईसेंसी पिस्टल समेत दस्तावेजों से भरा सूटकेस लेकर फरार हुए बदमाशों को रेलवे थाना पुलिस ने पकड़ लिया. लुटेरे वारदात करके भागने में नाकाम हो गए, फिलहाल कोतवाली थाना पुलिस की पकड़ में आए नौ बदमाशों को पुलिस रिमाण्ड पर लेकर गहन पूछताछ कर रही है. बताया जा रहा है कि पकड़े गए बदमाश साउथ इण्डियन है तथा उनका सरगना भी साउथ इण्डियन है, जो फिलहाल फरार है.

पुलिस की प्रारम्भिक पूछताछ में यह बात सामने आई है कि गिरोह का सरगना अजमेर से इन्दौर एक्सप्रेस रेलगाड़ी में सवार होने के बाद बीच में किसी स्टेशन पर उतर गया और सडक मार्ग से फरार हो गया, जबकि गिरोह के बाकी नौ अपराधी निम्बाहेडा स्टेशन पर जीआरपी थाना पुलिस द्वारा हिरासत में ले लिए गए. पुलिस के अनुसार लूट की सारी राशि को सरगना लेकर फरार हुआ है, जिसकी तलाश जारी है. जीआरपी थाना प्रभारी रामअवतार ने बताया कि लूट की वारदात को अंजाम देकर भागते समय अपराधियों ने लूटी गई लाईसेंसी रिवाल्वर व जिन्दा कारतूस स्टेशन परिसर में पटक गए थे, जिन्हें आईपीसी की सेक्शन 102 के तहत जब्त कर लिया था, उक्त रिवाल्वर व जिन्दा कारतूस सहित अन्य दस्तावेज को जीआरपी थाना पुलिस नियमानुसार कोतवाली थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया है.

जिला पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप सिंह ने बताया कि होटल व अभय कमांड सेंटर के कैमरे चैक करने पर पता चला कि उक्त वारदात में करीब नौ से 10 लोग शामिल थे. वारदात करते ही गैंग द्वारा आटो किराए पर लेकर अजमेर रेलवे स्टेशन पर पहुंचे गए. वहां पहुंचकर ब्रीफकेस को तोड़कर उसमें रखे रुपए ले गए. जीआरपी पुलिस आरपीएफ व निम्बाहेडा थाना कोतवाली की सहायता से निम्बाहेड़ा स्टेशन पर बीती रात सात बजे ट्रेन की तलाशी लेकर अजमेर पुलिस द्वारा उपलब्ध करवाए गए फोटोज के आधार पर उनको दस्तयाब करने में बड़ी कामयाबी मिली.

गनीमत रही नीमच क्राॅस नहीं किया: जीआरपी थाना प्रभारी रामअवतार ने बताया कि अजमेर लूट की सूचना मिलते ही उन्होंने जीआरपी थाना पुलिस सहित जयपुर, भीलवाडा जीआरपी थाना पुलिस को अलर्ट कर दिया था, जिसके चलते रेलगाड़ी में सघन तलाशी शुरू कर दी गई थी. रामअवतार ने बताया कि गनीमत यह रही कि इन्दौर एक्सप्रेस रेलगाड़ी से समय रहते अपराधियों को निम्बाहेडा जीआरपी पुलिस ने दबोच लिया, अन्यथा यदि उक्त रेलगाडी नीमच रेलवे स्टेशन को क्राॅस कर जाती तो अपराधियों को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन हो जाता. जिला पुलिस अधीक्षक कुवंर राष्ट्रदीप सिंह ने बताया कि कार का शीशा तोड़कर 10 लाख रुपये से भरा ब्रीफकेस चोरी करने के मामले में आनंदराज पुत्र विश्वनाथ तमिलनाडू, वेंकेटेश पुत्र किशनप्पा, शावित वेन पुत्र आरमुगम, के नवीन कुमार पुत्र कदीरवेग, कुमरन पुत्र कुष्णन, रंगन पुत्र अमरनागन, शिवा पुत्र न्यूदुरई, कनन पुत्र गोपाल व सुरेश कुमार पुत्र नारायण स्वामी को गिरफ्तार किया है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *