दुराचार का शिकार पीड़िता के पिता ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

0
2
शिमला, 17 मई (उदयपुर किरण). शिमला में चलती कार में अपहरण के बाद कथित दुराचार का शिकार हुई पीडिता के पिता का सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें असहाय पिता बेटी के साथ हुए अन्याय के लिए मदद करने की गुहार लगा रहा है. सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में पीडिता का पिता कह रहा है कि शिमला में उसकी बेटी से दिल्ली जैसे निर्भय कांड की तरह चलती कार मे दुराचार किया गया. पुलिस लोकसभा चुनाव के चलते इस शर्मनाक घटना पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है. असहाय पिता ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर आरोप लगाते हुए कहा कि शिमला पुलिस इस मामले को रफा दफा करने का प्रयास कर रही है, जबकि दुराचारियो ने मेरी बेटी का एक एक भंग कर दिया और इस घटना के बाद बेटी सदमें में है.
वायरल वीडियो में पीडिता के पिता ने प्रदेश के सभी राजनैतिक दलो से गुहार लगाई है कि बेटी को न्याय दिलाने के लिए मेरी मदद करे, क्योकि जब तक दुराचारी नही पकड़े जाते तब तक में बेटी को न्याय दिलाने के लिए लड़ाई लड़ता रहुंगा. पुलिस पर यह भी आरोप लगाए जा रहे है कि घटना के बाद 10 दिन तक पुलिस ने पीडिता को नजरबंद रखा.
बहरहाल युवती के अपहरण कर दुष्र्कम मामले में एसआईटी 18 दिन से जांच कर रही है, लेकिन एसआईटी जांच का नतीजा अभी तक शून्य ही है. एसआईटी अभी तक न तो गाड़ी को  ट्रेस कर पाई है और न ही अपहरण और रेप करने वाले आरोपियो का सुराग लगा पाई है.
इस बीच शिमला के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी के अध्यक्ष परवीर ठाकुर ने कहा है कि इस तरह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. लेकिन वायरल वीडियो पीड़िता के पिता का है, इस बात की वह पुष्टि नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि एसआईटी ने दुराचार मामले में दो दिन पहले पीड़िता के पिता से संपर्क साधा था.
गौरतलब है कि हरियाणा की 19 वर्षीय युवती ने बीते 28 अपै्रल रविवार देर रात ढली पुलिस में शिकायत दी थी कि जब वह मॉल रोड से भट्टाकुफर अकेली जा रही थी, तब ढली टनल के आगे शिव मंदिर के पास अज्ञात कार सवारों ने उसका अपहरण किया. एक कार सवार ने उसके साथ दुष्कर्म भी किया. इसके बाद कार सवार उसे बाहर धकेल कर फरार हो गए. अंधेरा होने के कारण वह कार का रंग नहीं देख पाई. पीडिता का यह भी आरोप था कि घटना से पहले रविवार शाम वह छेड़खानी के एक अन्य मामले की शिकायत करने लक्कड़ बाजार पुलिस चैकी गई थी, लेकिन चैकी में तैनात पुलिस वालों ने उसकी शिकायत दर्ज करने से इंकार कर दिया था.

 

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here