पूर्णिया में 1000 से ज्यादा कारतूस के साथ तीन मशीन गन लॉन्चर पकड़ा गया

पूर्णिया,11 फरवरी(उदयपुर किरण). पूर्णिया के बायसी में पुलिस ने तीन हथियार तस्करोंं को गिरफ्तार किया है.एक सफारी गाड़ी भी जब्त की जिससे एक हजार से ज्यादा कारतूस और तीन मशीन गन लांचर बरामद हुए. यह बरामदगी 7 फरवरी को हुई.इस हथियार से बम से भी हमला किया जा सकता है और गोली भी चलाई जा सकती है.

बताते चलें की पूर्णिया और बंगाल के बीच बायसी चेक पोस्ट पर उत्पाद विभाग द्वारा जांच के दौरान एक सफारी गाड़ी से 1000 से ज्यादा कारतूस बरामद हुए थे.बाद में बायसी थाना पुलिस को इन तस्करों को सौंप दिया गया था.पुलिस इसे साधारण घटना नहीं मानते हुए और भी पूछताछ में लग गई. पूर्णिया एसपी विशाल शर्मा ने रविवार को अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता के दौरान यह जानकारी दी.उन्होंने बताया कि उस दिन से ही इन लोगों से लगातार पूछताछ की जा रही थी.तब इन लोगों ने बताया इस सफारी के बॉडी के नीचे 3 मशीन गन लांचर के खुले हुए पार्ट रखे हुए हैं तथा 1200 गोलियां और भी हैंं. इसके बाद जब सफारी के निचले हिस्से को खोला गया तो सही में हथियार और गोलियां मिलींं.

एसपी विशाल शर्मा ने बताया की इस घटना का मास्टरमाइंड पटना और आरा का रहने वाला मुकेश सिंह और संतोष सिंह है.इन दोनों की मणिपुर तथा नगालैंड के अपराधियों से सांठगांठ है और उन अपराधियों ने ही इन गोलियों को पटना पहुंचाने का निर्देश दिया था. पूर्णिया पुलिस ने इन लोगों से पूछताछ के आधार पर सत्यापन के लिए एक टीम पटना रवाना की जहां मुकेश सिंह के आरके पुरम थाना दानापुर स्थित निजी फ्लैट में छापेमारी की गई लेकिन मुकेश सिंह वहां पर पुलिस को हाथ नहीं लगा. परंतु मुकेश सिंह के घर से पुनः 50 जिंदा कारतूस मिले.

पुलिस ने दानापुर थाना को थानाध्यक्ष के सामने उन सारे कार्टूनों को सुपुर्द कर दिया तथा दानापुर थाने में भी एक केस दर्ज करवाया गया. जिन तीन अपराधियों को पकड़ा गया वे हैं सूरज कुमार पिता प्रभु प्रसाद,ग्राम – बसंतपुर गोपालपुर, थाना पिपराइच गोरखपुर यूपी तथा दूसरा तस्कर वीआर हमरेई नपुर नगम पिता वी आर हमरेई साकिन- पोंगयार,उखरुल जिला -मणिपुर एवं तीसरा तस्कर क्लियरसन काबो, पिता- सिलस काबो,साकिन ग्राम सांगशक उखरुल, जिला -मणिपुर. पुलिस रिमांड पर रखकर तीनों से पूछताछ की गई.एसपी विशाल शर्मा ने बताया कि इस आधुनिक आग्नेेेयास्त्र में यूबीजीएल लगा हुआ है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *