भाई-बहन ने मिलकर भाई की कर दी हत्या

दुर्ग, 14 मार्च (उदयपुर किरण). नगर में एक अजीबो-गरीब हत्या का मामला सामने आया है. अपना ही भाई अपनी छोटी बहन पर बुरी नियत रखने लगा था, समझाने पर भी नहीं मानता था, इसलिए घर की इज्जत बचाने के लिए बडे़ भाई और एक बहन ने मिलकर अपने ही जवान भाई की हत्या कर दी. मोहननगर थाने से मिली जानकारी के अनुसार उरला बस्ती सत्यम स्कूल के निकट रहने वाले आकाश शैलेष घरडे (24) की मौत स्वभाविक नहीं हत्या निकली. मृतक आकाश को उसके बड़े भाई अश्वनी शैलेष व छोटी बहन माधवी ने मिलकर मौत के घाट उतार दिया था.

दरअसल मृतक की नियत एक अन्य छोटी बहन पर खराब हो गई थी. समझाइश का असर नहीं होने पर भाई बहन ने मिलकर घर की इज्जत बचाने हत्या करना उचित समझा. पुलिस के मुताबिक घटना रात 1.30 बजे की है. आकाश देर रात नशे की हालत में घर पहुंचा था. घर पहुंचते ही वह अपनी छोटी बहन से ऊलझने लगा. परिवार के अन्य सदस्यों ने उसे रोकने का प्रयास किया लेकिन आरोपी आकाश द्वारा अपनी हरकतों से बाज नहीं आने पर बड़े भाई ने आकाश के गाल में तमाचा जड़ा. इसके बाद भी वह बहन को बुरी नियत से देख रहा था. बात बढऩे पर अश्वनी ने ताकत से आकाश को दीवार पर धकेला.

इस घटना में आकाश के सिर दिवार से टकरा गया और वह दर्द से कहरने लगा. इसी बीच मौका देखते ही माधवी ने हाथ में रखे गमछे को आकाश के गले में लपेटा और ताकत से खींच दिया. गमछा का फंदा गला में लगते ही आकाश की मौत हो गई. थानेदार राजेश बागड़े ने आगे बताया कि शव को देखने के बाद मामला संदिग्ध लग रहा था. घटना स्थल पर जांच करने से किसी तरह का संघर्ष दिखाई नहीं दिया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर शुरू हुई पूछताछ में आरोपी भाई बहनों ने अपराध करना स्वीकार कर लिया. आरोपी को हत्या की धारा 302 के तहत गिरफ्तार किया गया है. न्यायालय में पेश करने के बाद जेल दाखिल करा दिया गया.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *