भाभी के हत्यारे देवर को उम्रकैद

0
2
पानीपत, 17 मई (उदयपुर किरण). एडीजे एचएस दहिया की अदालत ने शुक्रवार को गांव फरीदपुर निवासी बूटा सिंह को भाभी रूपिंद्र कौर की हत्या करने के आरोप में दोषी करार देते हुए बूटा सिंह को आजीवन कठोर कारावास व 40 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है. प्राप्त जानकारी के अनुसार 7 जुलाई 2016 की रात को पानीपत के भैंसवाल मोड़ पर चौहान फैक्टरी के पास स्थित मकान में रात को दोषी चोरी की नीयत से दीवार फांद कर घर के भीतर घुसा था. उसके कूदने पर आवाज सुनकर घर में सो रही भाभी रूपिंद्र कौर की आंख खुल गई थी, जिसने देवर को देख कर उसका विरोध करने स्वरूप चिल्लाने की कोशिश की. इसी दौरान दोषी ने भाभी के गले में पड़ी चुन्नी से उसका गला घोंट कर उसकी हत्या कर दी थी. शव को वहीं छोड़कर दोषी मौके से फरार  हो गया था. वारदात को अंजाम देने के बाद बूटा सिंह पांच दिनों तक अंबाला व पंजाब में फरारी काटता रहा. पानीपत पुलिस ने उसकी लोकेशन ट्रैस कर उसे गिरफ्तार कर लिया था. बूटा सिंह ने अपने भाई महल सिंह के घर से 90 हजार रुपये चोरी किए थे. रिश्ते में बूटा सिंह महल सिंह का मौसेरा भाई है. 

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here