मनोज तिवारी के खिलाफ दायर आपराधिक मानहानि मामले की सुनवाई को तैयार कोर्ट

0
2

ई दिल्ली, 13 मई (उदयपुर किरण). राऊज एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को थप्पड़ मारने के मामले में भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष और हरीश खुराना के खिलाफ दायर आपराधिक मानहानि का केस स्वीकार कर लिया है. एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने याचिकाकर्ता को निर्देश दिया कि वे सबूत के तौर पर सीडी, पेन ड्राइव और दस्तावेज पेश करें. कोर्ट ने याचिकाकर्ता को अपने दावे के पक्ष में सबूत के साथ 30 मई को पेश होने का निर्देश दिया.

याचिका आम आदमी पार्टी झुग्गी-झोपड़ी सेल के अध्यक्ष सुशील चौहान ने दायर की है. याचिका में कहा गया है कि पिछले चार मई को केजरीवाल पर हुए हमले के बाद मनोज तिवारी और हरीश खुराना ने प्रेस कांफ्रेंस में तथा ट्विटर पर थप्पड़ मारने वाले व्यक्ति को आम आदमी पार्टी का सदस्य बताया. याचिका में कहा गया है कि ऐसा कर इन नेताओं ने आम आदमी पार्टी की छवि वोटर्स के बीच खराब करने की कोशिश की. याचिका में मनोज तिवारी और हरीश खुराना के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस चलाने की मांग की है.

उल्लेखनीय है कि पिछले चार मई को पश्चिमी दिल्ली में रोड शो के दौरान अरविंद केजरीवाल को खुली जीप में रोड शो के दौरान सुरेश नामक एक व्यक्ति ने थप्पड़ मारा. सुरेश फिलहाल जमानत पर बाहर है. इस मामले पर भाजपा ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए इसे एक नाटक करार दिया था.

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here