महाविद्यालय की जर्जर भवन में किसान ने लगाई फांसी, मौत

0
2
हमीरपुर, 17 मई (उदयपुर किरण). जिले में शुक्रवार को लाखों रुपये के कर्ज से परेशान एक किसान ने संस्कृत महाविद्यालय के जर्जर भवन में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. इस घटना से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है. घटना की सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया है.
जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र पुरैनी गांव निवासी गयाराम शुक्ला (45) पुत्र प्रताप नारायण शुक्ला ने बैंक और साहूकारों से करीब दो लाख रुपये कर्ज ले रखा था. कर्ज न लौटाने की चिंता में वह काफी दिनों से परेशान था. शुक्रवार को उसने गांव के बाहर स्थित संस्कृत महाविद्यालय की जर्जर भवन में जाकर गयाराम शुक्ला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. घटना की जानकारी होते ही गांव के सैकड़ों लोग मौके पर पहुंच गये. घटना की सूचना पाते ही जलालपुर थाने के एसआई नंदकिशोर फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और शव को फांसी के फंदे के नीचे उतारकर पंचनामा भरने के बाद पोस्टमार्टम के लिये भेजा.
परिजनों ने बताया कि मृतक अपने तीन भाईयों में सबसे बड़ा था. ये पैसा कमाने के लिये पत्नी के साथ दिल्ली जाने की तैयारी में था लेकिन पता नहीं इसने क्यों आत्मघाती कदम उठा लिया. परिजनों ने बताया कि बैंक और साहूकारों का लाखों रुपये कर्ज इसके ऊपर बकाया था जिससे वह चिंतित रहता था. एसआई नंद किशोर ने बताया कि घटना की जांच पड़ताल में यह बात सामने आयी है कि गयाराम शुक्ला पांच दिन पूर्व आत्महत्या करने की कोशिश की थी, लेकिन पत्नी के कारण यह अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो पाया था. उन्होंने बताया कि मामले की जांच अभी की जा रही है.

https://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here