मुंबई ब्रिज हादसा: बीएमसी और रेलवे अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज, मृतकों की संख्या बढ़कर हुई छह

मुम्बई, 14 मार्च (उदयपुर किरण) (अपडेट). भारत की आर्थिक राजधानी मुम्बई में गुरुवार शाम छत्रपति शिवाजी टर्मिनस स्टेशन के पास एक फुट ओवर ब्रिज गिरने के कारण छह लोगों की मौत हुई है. जबकि 30 से अधिक लोग घायल हुए हैं. घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बीएमसी और रेलवे अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. घटना के बाद पुलिस ने यात्रियों को वैकल्पिक मार्ग चुनने की सलाह दी है, क्‍योंकि घटना के बाद यहां यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है. घटना के तुरंत बाद बचाव एवं राहत शुरू कर दिया गया.

मृतकों की पहचान अपूर्वा प्रभु (महिला, 35), रंजना तांबे (महिला, 40), जाहिद शिराज खान (पुरुष, 32), भक्ति शिंदे (महिला, 40), तपेंद्र सिंह (महिला, 35) और मोहन जी कयागुंडे (पुरुष, 55) के रूप में हुई हैं. आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 304 ए (लापरवाही से मौत) के तहत मध्य रेलवे और बीएमसी ऑफिस के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. हमारे मुम्बई संवाददाता से प्राप्त जानकारी के अनुसार हादसा गुरुवार शाम करीब 7:30 बजे हुआ. जिस वक्त यह घटना हुई वह मुम्बई की कार्य अवधि का समय होने के कारण पुल के नीचे बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, हादसे के बाद ब्रिज के मलबे में कई लोग दब गए और यहां मौजूद कुछ वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए. दूसरी ओर मौके पर पहुंची राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), रेलवे और मुम्बई पुलिस की टीमों ने तत्काल घायलों को सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल और गोकुलदास तेजपाल अस्पताल में पहुंचाया.

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी जताया दु:ख

पीएम नरेंद्र मोदी ने घटना के बाद अपने ट्वीट में लिखा, मुम्बई में हुए ब्रिज हादसे के कारण हुई लोगों की मौत की खबर सुनकर बेहद दु:खी हूं. मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं और मैं इस घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. महाराष्ट्र सरकार इस हादसे में हताहत सभी लोगों को हर संभव मदद दे रही है.

माहारष्ट्र सरकार मृतक के परिवार को देगी पांच लाख

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने मृतकों के परिजनों को पांच लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है. हादसे पर दुख जताते हुए महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट किया, ‘मुम्बई में टाइम्स ऑफ इंडिया बिल्डिंग के पास हुए फुटओवर ब्रिज हादसे की खबर सुनकर कष्ट हुआ. अभी बम्बई महानगर पालिका (बीएमसी) आयुक्त और मुम्बई पुलिस के अधिकारियों से बात की है और उन्हें निर्देश दिए हैं कि वे रेल मंत्रालय के अधिकारियों के साथ समन्वय बनाकर काम करें और तेजी के साथ राहत और बचाव कार्य करें. रेलवे सूत्रों के अनुसार, इस ब्रिज के मलबे में अभी भी कई लोगों के दबे होने की आशंका है, जिसे देखते हुए इलाके में बड़े स्तर पर राहत कार्य शुरू कराए गए हैं.

अब तक प्राप्त सूचना के मुताबिक राहत कार्यों के लिए एनडीआरएफ, मुम्बई पुलिस और रेलवे पुलिस की टीम को भी मौके पर लगाया गया है. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जिस वक्त यह हादसा हुआ ब्रिज के नीचे बड़ी संख्या में लोग और वाहन मौजूद थे. ऐसे में इस पुल के मलबे में कई लोग दबे हो सकते हैं. इस संभावना को देखते हुए एनडीआरएफ और पुलिस की टीम जल्द से जल्द लोगों को बाहर निकालने के प्रयास कर रही है. इसके अलावा पुल के शेष बचे हिस्से को भी अधिकारियों द्वारा गिरवा दिया गया है, जिससे कि इसके कारण कोई और हादसा ना हो.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *