रंगदारी नहीं देने दुकानदार की गोली मारकर हत्या, लोगों ने पुलिस को दौड़ाया

0
2

देवरिया, 16 मार्च (उदयपुर किरण). रंगदारी देने से मना करने पर शनिवार की शाम बाइक सवार बदमाशों ने दुकानदार को गोली मार कर हत्या कर दी. हत्या के बाद आक्रोशित लोगोंं ने पहुंची पुलिस को दौड़ा दिया. थानेदार समेत अन्य पुलिस कर्मियों ने भागकर अपनी जान बचाई. भीड़ ने गौरीबाजार रुद्रपुर मार्ग को मठिया में जाम कर दिया. गौरीबाजार पुलिस ने आस पास के थानो और पुलिस लाइन से फोर्स मांगी. सूचना पर पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंच घटनास्थल पर पहुंचे.

गौरीबाजार थाना क्षेत्र के पथरहट गांव के रहने वाले योगेश जायसवाल (35) पुत्र कन्हैया जायसवाल की मठिया माफी चौराहा पर बेकरी की दुुुकान है. चौराहे पर सैकड़ोंं की संख्या में छोटी बड़ी दुकानेंं हैं. इस चौराहे पर क्षेत्र के एक बदमाश का दबदबा है. वह दुकानदारों से रंगदारी की वसूली करता है. बदमाश के डर से कोई दुकानदार पुलिस से शिकायत नहीं करता है. एक सप्ताह पूर्व बदमाश ने योगेश की दुकान पर पहुंच कर 50 हजार रुपये की रंगदारी मांगी थी. दुकानदार ने रंगदारी देने से मना कर दिया तो दोनों बदमाश दुकानदार से भिड़ गए. बदमाशों ने दुकानदार को जान से मारने की धमकी दी थी. दुकानदार ने घटना की तहरीर गौरीबाजार पुलिस को दी. पुलिस ने दो लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया जिससे बदमाशों के हौसले बढ़ गए. बदमाश मोबाइल पर दुकानदार से मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने लगे. दुकानदार के मना करने पर शनिवार की शाम छह बजे के लगभग दो बदमाश बाइक से दुकान पर पहुंचे और दुकान में बैठे योगेश को गोली मार दी जिससे वह गंभीर रुप से घायल हो गया. उसकेे एक गोली कंधे में तो दूसरी गोली पेट मेंं लगी.

आस पास के लोग घायल को लेकर अस्पताल पहुंचे जहां चिकित्सकों ने दुकानदार की स्थिति गंभीर देख मेडिकल कालेज रेफर कर दिया. परिजन घायल को इलाज के लिए मेडिकल कालेज पहुंचे जहां चिकित्सकों ने उसे मृृत घोषित कर दिया. घटना की सूचना पर गौरीबाजार पुलिस घटनास्थल पर जा रही थी तो आक्रोशित लोगों ने पुलिस को दौड़ा दिया. पुलिस कर्मी घटनास्थल से एक किमी दूर पर खड़ी रही. थानेदार ने अन्य थानों से सहायता मांगी. आक्रोशित लोगों ने गौरीबाजार रुद्रपुर मार्ग पर घटनास्थल के समीप जाम लगा दिया जिससे वाहनों की कतार लग गई. सूचना पर पहुंचे एसपी राठौर किरीट के हरिभाई गौरीबाजार थाने पहुंचे. इसके बाद भारी फोर्स के बाद वह मौके पर पहुंचे.

http://udaipurkiran.in/hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here