Home Blog Page 100

न्यायालय ने राजीनामा करवाकर पति व पत्नी को मिलवाया

0

छबड़ा, 25 मार्च (उदयपुर किरण). तालुका विधिक सेवा समिति छबड़ा में सोमवार को अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्वेता गुप्ता द्वारा न्यायालय एसीजेएम कोर्ट छबडा में चल रहे प्रकरण में 10 वर्ष से अलग रह रहे पति पत्नी के बीच राजीनामा करवाया गया. राजीनामे के दौरान उनकी चार लड़कियों में काफी खुशी देखी गई. राजीनामा करवा कर पति पत्नी ने आपस में माला पहनाई और मिठाई खिलाकर मुंह मीठा किया. राजीनामे में अधिवक्ता रामकरण शर्मा, ब्रज भूषण शर्मा, भगवान कृष्ण, हेमंत कुमार पारीक उपस्थित रहे.

https://udaipurkiran.in/hindi

दाऊद के पूर्व साथी शकील शेख की हृदयाघात से मौत

0

मुंबई, 25 मार्च (उदयपुर किरण). अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के पूर्व सहयोगी शकील अहमद शेख की रविवार रात हृदयाघात से मौत हो गई. उसका यहां के जसलोक अस्पताल में इलाज चल रहा था. वह दिल की बीमारी से पीड़ित था. अस्पताल के मुताबिक उसे कुछ दिन पहले दिल की बीमारी के इलाज के लिए यहां भर्ती कराया गया था. इस दौरान दिल का दौरा पड़ने से उसने दम तोड़ दिया.

उल्लेखनीय है कि शकील शेख को दाऊद की गैंग में लंबू शकील के नाम से भी जाना जाता था. 1990 के दशक में वह दाऊद का भरोसेमंद साथी था. वह हवाला और तस्करी के काम में दाऊद की मदद करता था. उस समय छोटा शकील के समान लंबू शकील की भी डी कंपनी में धाक थी. पुलिस के मुताबिक, लंबू शकील सोने की तस्करी, हथियारों और विस्फोटक पदार्थ उपलब्ध कराने के वारदातों में शामिल था.

वह देश में विस्फोटक पदार्थ लाने और विस्फोट करने वालों में प्रमुख आरोपी था. 1993 में मुंबई में हुए बम विस्फोट में दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी का हाथ था. इस बम धमाके में 257 लोगों की मौत हुई थी और सैकड़ों लोग घायल हुए थे. इस वारदात के बाद शकील देश छोड़कर दुबई भाग गया था. उसे वर्ष 2003 में प्रत्यार्पण कर भारत लाया गया. वह मुंबई के बाहरी मोहल्ला में पत्नी और मां-पिता के साथ रहता था.

https://udaipurkiran.in/hindi

मुजफ्फरपुर में रिलायंस पेट्रोल पंप कर्मी से 29 लाख रुपये की लूट

0

मुजफ्फरपुर,25 मार्च (उदयपुर किरण). कुढ़नी थाना के तुर्की ओपी क्षेत्र में माधौल स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप के कर्मचारी से बाइक सवार हथियारबंद अपराधियों ने सोमवार को लगभग 29 लाख रुपये लूट लिये. पेट्रोल पंप का एक कर्मचारी बैंक में जमा कराने 28 लाख 97 हज़ार 897 रुपये लेकर बाइक से जा रहा था. इस दौरान बाइक सवार अपराधियों ने पिस्टल दिखा कर रुपये लूट लिये. घटना की सूचना मिलते ही ओपी अध्यक्ष ललित कुमार मौके पर पहुंचे और मामले की छानबीन की.

https://udaipurkiran.in/hindi

होली पर तीन स्पेशल ट्रेनों के संचालन से चार हजार से अधिक यात्रियों ने यात्रा की

0

जयपुर,25 मार्च (उदयपुर किरण). उत्तर पश्चिम रेलवे ने होली पर्व पर यात्रियों की सुविधा के लिये विशेष प्रयास किये, जिससे यात्रियों को त्योहार के अवसर पर सुगम रेल सुविधा के लिए तीन स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया गया. स्पेशल ट्रेनों के संचालन से रेलवे कर करीब तीस लाख रुपये की आय प्राप्त हुई.
उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा होली के अवसर पर तीन स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया गया, जिसमें जयपुर-बान्द्रा टर्मिनस-जयपुर, जयपुर-पुणे-जयपुर तथा अजमेर-बान्द्रा टर्मिनस-अजमेर स्पेशल ट्रेनें सम्मलित है. इन ट्रेनों के माध्यम से 4120 यात्रियों ने आरक्षित श्रेणी में यात्रा की तथा इनसे रेलवे को 29 लाख 88 हजार 721 रुपये की आय प्राप्त हुई. इसके अतिरिक्त रेलवे द्वारा होली पर अतिरिक्त यात्रीभार को देखते हुये 15 से 25 मार्च तक 417 ट्रेनों (ट्रिप) में 463 अतिरिक्त डिब्बें लगाये गये. इनमें 118 ट्रेनों में 118 डिब्बे आरक्षित श्रेणी तथा 299 ट्रेनों में 345 डिब्बे अनारक्षित श्रेणी के लगाये गये.

https://udaipurkiran.in/hindi

महिला आयोग की मांग के बाद कोर्ट ने रेप पीड़िता को दिया मुआवजा

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). बलात्कार के एक मामले में 6 साल बाद दिल्ली की पोक्सो कोर्ट ने नाबालिग पीड़िता को साढ़े सात लाख रुपये का मुआवजा दिया है. कोर्ट ने यह आदेश दिल्ली महिला आयोग(डीसीडब्ल्यू) द्वारा दाखिल की गई रिपोर्ट के आधार पर दिया है. डीसीडब्ल्यू की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने बताया कि नाबालिग पीड़िता के साथ दिवाली के अगले दिन उसके प बलात्कार किया था. उस समय पीड़िता केवल चार साल की थी. वह आरोपित की दुकान गई थी तभी वह बच्ची को सुनसान जगह पर ले गया और उसके साथ बलात्कार किया. इस दौरान आरोपित बच्ची को बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गया.

जानकारी होने पर बच्ची की मां ने उसे अस्पताल नहीं ले गई और घर पर ही उसका इलाज किया. बाद में बच्ची को शारीरिक और मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ा, जिस कारण आज बच्ची को रोज उपचार की जरूरत पड़ती है. बच्ची की मां घरों में खाना बनाती थी और उसके पास दो बच्चों को पालने के लिए समुचित साधन नहीं थे. स्वाती मालीवाल ने सोमवार को बताया कि आरोपित को मई,2015 में कोर्ट ने दोषी ठहरा दिया था और अभी वह सजा काट रहा है मगर पीड़िता और उसकी मां असहाय अवस्था में थीं क्योंकि बच्ची का उपचार लम्बा चल रहा था. बच्ची की मां को नौकरी छोड़नी पड़ी थी क्योंकि उसे बच्ची के साथ रुकना पड़ता था. अप्रैल 2018 में पीड़िता की मां ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में मुआवजे के लिए संपर्क किया और उसको 20 हजार रुपये मिल गए. इस मुआवजे को नाकाफी मानते हुए पीड़िता की मां ने पिछले साल दिसम्बर में डीसीडब्ल्यू में संपर्क किया. डीसीडब्ल्यू ने पीड़िता को उचित मुआवजा दिलवाने के लिए कोर्ट में प्रार्थना पत्र दाखिल किया.

डीसीडब्ल्यू की प्रार्थना पर पटियाला हाउस में पॉक्सो कोर्ट के जज ने मुआवजे की राशि निश्चित करने के लिए मामले के जांच अधिकारी और डीसीडब्ल्यू से रिपोर्ट मांगी. जांच अधिकारी की रिपोर्ट असंतोषजनक थी लेकिन डीसीडब्ल्यू ने बच्ची की वर्तमान चिकित्सीय जरूरतें, अस्पताल आने जाने में यात्रा का खर्चा, बच्ची की मां की बेरोजगारी और बच्ची के खानपान की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए रिपोर्ट तैयार की. डीसीडब्ल्यू की रिपोर्ट और संलग्न सबूतों के आधार पर कोर्ट ने नाबालिग बच्ची को साढ़े सात लाख रुपये का मुआवजा दिया.

डीसीडब्ल्यू की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने कहा, ‘बलात्कार पीड़िता को बहुत कष्ट झेलने पड़ते हैं. कोई भी पैसा उसकी भरपाई नहीं कर सकता, मगर इस मामले में कोर्ट द्वारा दिया गया मुआवजा बच्ची और उसके परिवार को कुछ हद तक इस परेशानी को कम करने में मदद करेगा. डीसीडब्ल्यू का बलात्कार पीड़िता सहायता केंद्र लगातार पीड़िताओं की मदद कर रहा है और सैकड़ों परिवारों को अदालतों से मुआवजा दिलवाने में सहायता की है.’

https://udaipurkiran.in/hindi

ब्राउन शुगर व हेरोइन समेत एक तस्कर गिरफ्तार

0

चिरांग (असम), 26 मार्च (उदयपुर किरण). चिरांग जिले के बिजनी में बीती देर रात को पुलिस ने अभियान चलाकर एक व्यक्ति ड्रग्स तस्कर को गिरफ्तार कर लिया. तस्कर के पास से ब्राउन शुगर व हेरोइन बरामद किया गया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुप्त सूचना के आधार पर चलाए गए अभियान के दौरान बाइक (एएस-01डीआर-1072) समेत काउवाटिका निवासी ड्रग्स तस्कर शाह मुहम्मद को गिरफ्तार किया गया. उसके पास से प्लास्टिक के 12 कंटेनर बरामद किया गया. जिसमें 14 ग्राम 850 मिलीग्राम ब्राउन शुगर, हेरोइन के साथ ही नगद 11,600 रुपए व एक मोबाइल हैंडसेट बरामद किया गया.

बिजनी के एसडीपीओ प्रकाश मेधी के नेतृत्व में चलाए गए अभियान के दौरान शाह मोहम्मद को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

अदालत परिसर की तीसरी मंजिल से गिरा युवक, परिजनों ने का आरोप पुलिस ने दिया धक्का

0

फरीदाबाद, 25 मार्च (उदयपुर किरण). अदालत में पेशी पर लाए एक युवक रहस्यमय परिस्थितियों में अदालत परिसर की तीसरी मंजिल से नीचे जा गिरा. इस घटना में युवक गंभीर रुप से जख्मी हो गया, जिसे उपचार के लिए सिविल अस्पताल बादशाह खान ले जाया गया, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे मेट्रो अस्पताल रैफर कर दिया. जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है. समाचार भेजे जाने तक डाक्टरों ने बताया कि घायल युवक की हालत गंभीर है और अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है. वहीं इस घटना के लिए युवक के परिजन सीधे तौर पर पुलिस कर्मियों को जिम्मेदार ठहरा रहे है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव राजूपुर खादर निवासी संदीप का बल्लभगढ़ के फज्जूपुर में रहने वाली एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसकी जानकारी जब परिजनों को लगी तो दोनों परिवारों में टकराव की स्थिति पैदा हो गई. इस बाबत लडक़ी ने पुलिस चौकी में स्पष्ट बयान दिए कि वह अपनी मर्जी से युवक से शादी करना चाहती है, लेकिन उसके परिजन इससे खुश नहीं है. बताया जाता है कि मंगलवार को दोनों युवक-युवती शादी करने वाले थे. लडक़े के परिजनों ने बताया कि इस बीच कल उनका थाने में राजीनामा हुआ परंतु लडक़ी वालों ने पुलिस वालों से षड्यंत्र रचकर युवक के खिलाफ जबरन धारा 376 के तहत मामला दर्ज करवा दिया, जबकि अदालत में लडक़ी ने 164 के तहत बयान दर्ज करवाए कि वह बालिग है और शादी अपनी मर्जी से करवाना चाहती है परंतु इसके बावजूद पुलिस ने संदीप को उसे गिरफ्तार कर लिया.

सोमवार करीब चार बजे संदीप को लेकर मामले की जांच अधिकारी एएसआई सुमन, एसएचओ रेनू शेखावत व पुलिस कर्मी महेश लेकर अदालत परिसर में लाए थे, जहां जज सैनी की अदालत में उसे पेश किया गया, जिसके बाद उसे पुलिस वापिस ले जा रही थी, इस बीच अदालत परिसर की तीसरे मंजिल से संदीप जमीन पर नीचे आ गिरा, यह घटना देखते ही पूरे अदालत परिसर में अफरा-तफरी मच गई और आनन फानन में पुलिस कर्मचारी उसे उपचार के लिए बीके अस्पताल लेकर दौड़, घायल युवक के शरीर में खून निरंतर बह रहा था. जब वह बीके अस्पताल पहुंचे तो वहां आपातकालीन में युवक की हालत गंभीर देख उसे उपचार के लिए मेट्रो रैफर कर दिया गया, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई. इस मामले में फिलहाल पुलिस कोई बयान नहीं दे रही है, जबकि परिजन सीधे तौर पर कह रहे है कि पुलिस कर्मी ने उसे धक्का देते हुए कहा कि अब तो बाज आ जा. इस मामले में पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह का कहना है कि ऐसा मामला प्रकाश में आया है, फिलहाल युवक उपचाराधीन है, अभी जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि आखिरकार हुआ क्या है. युवक पर 376 का मामला दर्ज है और पुलिस कर्मचारियों का कहना है कि वह खुद तीसरी मंजिल से कूदा है, फिर भी जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.

https://udaipurkiran.in/hindi

सहरसा शहर में वाहन जांच के दौरान 15 लाख रुपये बरामद

0

सहरसा,25 मार्च (उदयपुर किरण). लोकसभा निर्वाचन के मद्देनजर पुलिस ने वाहन जाँच के क्रम में सोमवार को धर्मशाला रोड स्थित आईसीआईसीआई बैंक के समीप तीन लोगों के पास से चौदह लाख बीस हजार रुपये बरामद किये. सदर एसडीओ शंभूनाथ झा ने बताया कि चुनाव के मद्देनजर सभी प्रकार के वाहनों की नियमित जांच का अभियान चलाया जा रहा है. उसी क्रम में धर्मशाला रोड स्थित आईसीआईसीआई बैंक के समीप तीन लोगों को रुपये के साथ पकड़ा गया है.इसकी सूचना आयकर विभाग एवं एक्सपेनडीचर सेल के नोडल पदाधिकारी, जिलाधिकारी और आरक्षी अधीक्षक को दी गई है. रुपये को जब्त कर कोषागार में रखा गया है. जाँच के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी. मालूम हो कि चुनाव आयोग के निर्देशानुसार आचार संहिता लागू रहने तक पचास हजार रुपये से अधिक ले जाने की अनुमति नहीं है. उसके लिए रुपये का सबूत देकर सत्यापन करना होगा. साथ ही चुनाव में राजनीतिक दलों को दो हजार रुपये ही नकद राशि चंदा या दान लेने की अनुमति है. मात्र दस हजार रुपये ही नकद खर्च करने का प्रावधान किया गया है.

https://udaipurkiran.in/hindi

बदमाशों ने सिपाही को मारा चाकू

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). पश्चिमी जिले के जनकपुरी इलाके में बीती देर रात गश्त कर रहे पुलिसकर्मी को बदमाशों ने चाकू मार दिया. घायल होने के बाद भी बहादुर सिपाही ने एक बदमाश को दबोचे रखा, जबकि उसका दूसरा साथी भागने में कामयाब हो गया. इधर मामले की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को देकर घायल पुलिसकर्मी को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार घायल पुलिसकर्मी की पहचान ओमबीर के रूप में हुई है.

वहीं आरोपित की पहचान प्रताप गार्डन निवासी प्रकाश पिल्लई के रूप में हुई है. फिलहाल पुलिस आरोपित से पूछताछ कर उसके दूसरे साथी वसीम की तलाश में जगह-जगह दबिश दे रही है. पुलिस के अनुसार ओमबीर दिल्ली पुलिस में बतौर सिपाही कार्यरत है. फिलहाल उसकी तैनाती जनकपुरी थाने में है. पुलिस को दी शिकायत में ओमबीर ने बताया कि देर रात वह अपने साथी अनुज के साथ इलाके में गश्त कर रहा था. सी-1 रेड़ लाइट के पास ओमबीर को दो युवक संदिग्ध दिखाई दिये. जिन्हें ओमबीर ने आवाज देकर रूकने के लिये कहा तो दोनों आरोपित भागने लगे. ओमबीर ने दौड़कर एक आरोपित को दबोच लिया. अपने साथी को फंसता देख दूसरे आरोपित ने चाकू निकालकर पीड़ित ओमबीर के ऊपर चाकू से प्रहार किया. चाकू ओमबीर के हाथ में लगा. इधर घायल होने के बाद भी ओमबीर ने आरोपित को नहीं छोड़ा और अपने साथी को आवाज लगाई. ओमबीर की आवाज सुनते ही सिपाही अनुज दौड़कर आया और आरोपित को दबोच लिया. वहीं दूसरा आरोपित मौके से फरार हो गया.

https://udaipurkiran.in/hindi

हॉर्न सुनकर रास्ता नहीं दिया तो चलाई गोलियां, एक गिरफ्तार

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). दिल्ली वालों का गुस्सा बाप रे बाप,वाहन चलाते हुए अगर रास्ता नहीं मिलता तो सामने वाले की जान तक लेने की कोशिश कर बैठते हैं. ऐसे ही एक मामले में उत्तर पश्चिमी जिले के आदर्श नगर थाना पुलिस ने एक कैब चालक को गिरफ्तार किया है जिसके दोस्तों ने दिनदहाड़े सड़क पर हवा में कई राउंड गोलियां चला दी थी. वारदात के बाद आरोपित अपने साथियों के साथ कैब से फरार हो गये थे. पकड़े गए आरोपित की पहचान जसविंदर सिंह के रूप में हुई है. आरोपित के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल स्विफ्ट डिजायर कैब जब्त कर ली है. पुलिस आरोपित की निशानदेही पर उसके बाकी फरार साथियों की तलाश में छापेमारी कर रही हैं.

पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार गत दिवस पीसीआर को आदर्श नगर के आजादपुर डीटीसी बस टर्मिनल के पास गोली चलने की सूचना मिली. पुलिस मौके पर पहुंची. शिकायतकर्ता केला गोदाम शालीमार बाग स्थित झुगगी में रहने वाले सियाराम से पता चला कि वह ई रिक्शा चलाया करता है. सड़क पर भीड़ होने के कारण उसका ई रिक्शा ट्रैफिक में फंस गया था. उसके ठीक पीछे स्विफ्ट डिजायर का चालक कई बार हॉर्न बजाकर आगे निकलने की कोशिश कर रहा था, लेकिन वो आगे नहीं निकल पा रहा था. कार में पीछे बैठे एक युवक ने अचानक बाहर निकलकर गालियां देकर हवा में कई राउंड गोली चलाई. जिससे आसपास भगदड़ का माहौल बन गया. बदमाश कैब में बैठकर अपने साथियों के साथ फरार हो गये. पुलिस ने मौके पर से कारतूस के खोल भी बरामद किये.

पुलिस ने अज्ञात कैब चालक और उसके साथी के खिलाफ केस दर्ज किया. वारदात के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली. जिसमें पता चला कि कैब पर पीले रंग से कार का नंबर लिखा हुआ था. शिकायतकर्ता से कार के कुछ नंबर पता लगे. जिसको लेकर सौ से ज्यादा कैब नंबर के नंबरों के बारे में पता लगाया. कैब का नंबर पूरी तरह से पता लगाने के बाद ट्रैफिक यूनिट की भी सहायता ली गई. इस बीच एक पुख्ता सूचना पर आरोपित जसविंदर सिंह को गिरफ्तार कर कैब जब्त कर ली. जसविंदर से पूछताछ करने पर पता चला वह परिवार के साथ भगत सिंह पार्क सिरसपुर इलाके में रहता है. वह पहले भी नरेला इलाके में चोरी और लूट की दो वारदातों में शामिल रहा है. आरोपित से उसके साथियों की जानकारी मिली है. जिसमें से एक गोली चलाने वाला बदमाश काफी कुख्यात है और कई वारदातों में शामिल रहा है.

https://udaipurkiran.in/hindi

बैंकों में सुरक्षित नहीं है पैसा, बिना ओटीपी बताये खाली हो रहे अकाऊंट

0

छतरपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा भारत को डिजीटल बनाने के प्रयास लगातार किये जा रहे हैं, लेकिन शैतानी दिमाग उनके प्रयास विफल कर रहे हैं. छतरपुर जिले में अब बैंकों में पैसा सुरक्षित नहीं बचा. बिना ओटीपी बताये रातों रात बैंक अकाउंट खाली हो रहे हैं. छतरपुर जिले में कई ऐेसे लोग हैं, जिनका कहना है कि न तो किसी का उनके पास फोन आया और ना किसी ने ओटीपी पूछा और ना ही एटीएम मेरे पास है फिर भी बैंक खाते से पैसे निकल गये. जब तक नंबर ब्लॉक करवाया जाता है तब तक अकाउंट खाली हो चुका होता है.

बिजावर क्षेत्र के दालौन निवासी एक व्यक्ति का एसबीआई में खाता है, जिसके 30 हजार रुपये निकल चुके. राजनगर के भैरा निवास हरिओम पटवारी के एसबीआई ने 90 हजार निकल चुके. राजू सेानी निवासी चेतगिरी कॉलोनी के खाते से 80 हजार निकल गये. प्रशांत खरे निवासी सटई रोड के खाते से 15 हजार रुपये निकल गये. इन खातेदारों का कहना है कि जब इस संबंध में बैंक अधिकारियों से संपर्क किया जाता है तो कहते हैं कि यह साईबर क्राईम है, इसमें हम कुछ नहीं कर सकते. वहीं साईबर वालों का कहना है कि बिना ओटीपी के क्लोनिन कार्ड के जरिये ठगी की गयी है तो हम इसमें कुछ नहीं कर सकते. इस तरह की घटनाओं से लोगों का बैंकों से विश्वास उठता जा रहा है. कुछ लोग तो बैंकों से अपना खाता बंद करवा रहे हैं.

https://udaipurkiran.in/hindi

बिजली के झूलते तारों से लगी आग, फसल जली

0

सिवनी, 25 मार्च (उदयपुर किरण). मध्यप्रदेश के सिवनी जिले के केवलारी विकासखंड अंतर्गत आने वाले ग्राम कोहका(रायखेडा) में सोमवार की दोपहर किसानों के खेत में लगे बिजली के खंभों में झूलती तारों के आपसी टकराव से निकली चिंगारी के कारण खेत में लगी गेहूं की फसल(लगभग 18एकड) जलकर राख हो गई. घटना की जानकारी लगते ही राजस्व अमला जांच में जुटा हुआ है.

जानकारी के अनुसार जिले के केवलारी तहसील के अंतर्गत आने वाले ग्राम कोहका (रायखेड़ा) में सोमवार की दोपहर खेत पर लगे बिजली के खंभों में झूलती तारों का आपस में टकराव हो गया जिससे तेज चिंगारी निकली एवं गेहूं की फसल में आग लग गई देखते ही देखते आग ने भीषण रूप ले लिया जिसमे ग्राम कोहका निवासी शिव कुमार सिंह पिता पंचराज सिंह राजपूत लगभग 2 हेक्टेयर, जीवन सिंह पिता छोटे सिंह राजपूत 2 हेक्टेयर एवं चौधरी सिंह पिता रूप सिंह राजपूत की लगभग 3 हेक्टेयर गेहूं की खड़ी फसल जलकर राख हो गई. वहीं किसानों की गेहूं की फसल के साथ-साथ खेत पर रखे हुऐ प्लास्टिक के पाइप को भी आग ने अपने अंदर समेट लिया जिससे किसानों को लाखों का नुकसान हो गया.

ग्रामीण के अनुसार खेतों में आग देखते ही स्थानीय ग्रामीणों द्वारा संबंधित थाना केवलारी, तहसीलदार,हल्के के पटवारी को सूचना दी गई एवं सभी ग्रामवासी एकजुट होकर आग पर काबू पाने में जुट गए ग्रामीणों द्वारा अपने अपने घरों से पानी ले जाकर, गांव के टैंकर में पानी भरकर, एवं अनेक प्रकार के उपाय करके आग पर काबू पाया गया. इस घटना में ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि घंटो बीत जाने के बाद भी मौका स्थल पर ना ही फायर ब्रिगेड की गाड़ियां पहुंची और ना ही केवलारी मुख्यालय से कोई जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी मौका स्थल का निरीक्षण करने पहुंचा वहीं किसानों का यह कहना भी रहा कि केवलारी ब्लाक के किसानों द्वारा कई वर्षो से फायर ब्रिगेड गाड़ी की मांग की गई थी जिस पर आज तक फायर बिग्रेड उपलब्ध नही कराई गई.

https://udaipurkiran.in/hindi

आबकारी इंस्पेक्टर 40 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार

0

चंडीगढ़, 25 मार्च (उदयपुर किरण). पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने सोमवार को मुक्तसर में गिदड़बाहा के आबकारी इंस्पेक्टर दीप दीदार सिंह को 40 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया. विजिलेंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि शिकायतकर्ता मुक्तसर के गांव दानेवाला निवासी गुरमीत सिंह की शिकायत पर उसको पकड़ा गया. शिकायतकर्ता ने विजिलेंस को दी गयी शिकायत में बताया था कि वह शराब का ठेकेदार है और आबकारी इंस्पेक्टर दीप दीदार उसे धमका कर उससे 60 हजार रुपये की रिश्वत माँग रहा है. इसके बाद उक्त इंस्पेक्टर को 20 हजार रुपये पहली किश्त के तौर पर अदा किये जा चुके हैं. विजिलेंस द्वारा शिकायत की पड़ताल के उपरांत उक्तक्टर को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में दूसरी किश्त के 40 हजार रुपये की रिश्वत दी गयी और जिसके बाद उसे रंगेहाथ पकड़ लिया गया. भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की विभिन्न धाराओं के अंतर्गत फिऱोज़पुर स्थित विजिलेंस ब्यूरो के थाने में मुकदमा दर्ज करके आगामी कार्यवाई आरंभ कर दी गयी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

छत्तीसगढ़ः सुकमा में मुठभेड़, चार नक्सली ढेर

0

सुकमा, 26 मार्च (उदयपुर किरण). छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है. सुरक्षाबलों ने चार नक्सलियों को ढेर कर दिया. साथ ही बड़ी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं. पुलिस मृतकों की शिनाख्त कराने में लगी है. बताया जा रहा है कि कोबरा कमांडो और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है. मौके से एक इंसास एक 303 रायफल एंव अन्य हथियार बरामद हुए है. लोकसभा चुनाव से पहले कोबरा 201 बटालियन को बड़ी सफलता मिली है. एएसपी नक्सल शलभ सिन्हा ने इसकी पुष्टि की है. फिलहाल मुठभेड़ जारी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

स्ट्रीट क्राइम में हथियारों का प्रयोग बना खतरनाक ट्रेंड, रोज 3 वारदातों में होता है इस्तेमाल

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). राजधानी में होने वाले ‘स्ट्रीट क्राइम’ (सड़क पर होने वाले अपराध) में बदमाशों द्वारा हथियारों का इस्तेमाल करना एक खतरनाक ट्रेंड बनता जा रहा है. आलम यह है कि दिल्ली मे होने वाली ऐसी वारदातों में कम से कम तीन से ज्यादा घटनाओं में बदमाशों द्वारा हथियारों का इस्तेमाल किया जा रहा है. खासतौर से झपटमारी का विरोध करने पर उन्हें हथियार का प्रयोग करने में कोई गुरेज नहीं है.

स्ट्रीट क्राइम में अंजाम देने वाले गैंग

दिल्ली पुलिस से प्राप्त आंकडों के अनुसार राजधानी में होने वाले स्ट्रीट क्राइम की वारदातों को ये पांच गैंग के बदमाश अंजाम देते हैं. खास बात यह है कि इन पांचों गैंग और इनमें शामिल ज्यादातर बदमाश दिल्ली के बाहर के रहने वाले हैं. यह अपराध को अंजाम देने के बाद दिल्ली से फरार हो जाते हैं. इन वारदातों को अंजाम देने वाले गैंग में ये प्रमुख हैं. पसौंदा गैंग, फुकरे गैंग, रंगा गैंग, अन्ना गैंग, जिशान गैंग.

आसानी से उपलब्ध हो रहे हैं हथियार

दिल्ली में बाहर से हथियार की खेप लेकर आने वाले तस्करों की संख्या में बेहिसाब बढ़ोतरी हुई है. हालांकि दिल्ली आने वालों के खिलाफ जब पुलिस ने अभियान छेड़ा और इनके ठिकानों पर छापेमारी कर हथियार फैक्टरी का खुलासा किया तो उन्होंने भी अपना अंदाज बदल दिया. इन गैंग ने हथियार बनाने में इस्तेमाल होने वाले सामान व उसे बनाने वाले कारीगरों को दिल्ली-एनसीआर में स्थापित कर हथियारों की तस्करी आरंभ कर दी.

हथियार मुहैया कराने वाले 55 गिरोह

दिल्ली पुलिस ने हथियार तस्करों के खिलाफ पिछले दो साल से छेड़े गए अभियान के तहत अबतक 55 गिरोहों का खुलासा किया है जो बदमाशों को हथियार मुहैया कराते हैं. इन गिरोहों के सरगना ज्यादातर छुटभैया बदमाशों को 20 से 30 हजार रुपये के पगार पर रखकर उनसे हथियारों की खेप अपने नेटवर्क के जरिये दिल्ली भेजने का काम करते हैं.

https://udaipurkiran.in/hindi

बुजुर्ग ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). रोहिणी जिले के केएन काटजू मार्ग इलाके में एक बुजुर्ग ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है.पुलिस को मौके पर से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है.

जानकारी के अनुसार मृतक की पहचान योगराज के रूप में हुई है. वह परिवार के साथ डी ब्लॉक सेक्टर-16 रोहिणी इलाके में रहता था. परिवार में पत्नी,दो बेटी और एक बेटा है. योगराज का निजी कारोबार है, लेकिन पिछले कुछ समय से कर्जा बढ़ने और कारोबार सही तरह से नहीं चलने के साथ साथ आयकर विभाग से भी वह परेशान थे. सोमवार सुबह वह बाथरूम में गए थे. काफी देर तक बाहर नहीं आने पर उनकी पत्नी ने अपने बेटे को बताया और दरवाजे को कई बार खटखटाया. अंदर से कोई आवाज नहीं आने पर बेटे ने बाथरूम की खिड़की लगा शीशा तोड़ दिया. अंदर झांककर देखा योजराज पंखे के हुक में तार का फंदा लगाकर लटका हुआ था. दरवाजे को जबरन खोलकर योगराज को अस्पताल में भर्ती कराया. जहां डॉक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया. फिलहाल पुलिस मृतक के परिजनों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है.

https://udaipurkiran.in/hindi

गैंगरेप के आरोपित सपा विधायक की जमानत निरस्त, जेल भेजने के निर्देश

0

समर्पण न करने पर गिरफ्तार कर जेल भेजने का निर्देश

प्रयागराज, 25 मार्च (उदयपुर किरण). इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने सपा विधायक बदायूं निवासी तेजेन्द्र सागर उर्फ योगेन्द्र की जमानत निरस्त कर दी है. विधायक पर बी.ए समाज शास्त्र की परीक्षा देने वाली छात्रा का अपहरण कर गैंगरेप करने का आरोप है. विधायक पिछले चार साल से सत्र न्यायालय के आदेश से जमानत पर था. पीड़िता के पिता ने जमानत निरस्त करने की अर्जी दाखिल की थी जिसे कोर्ट ने स्वीकार करते हुए विधायक को एक अप्रैल 19 तक कोर्ट में समर्पण करने का निर्देश दिया है और कहा है कि यदि वह समर्पण नहीं करता है तो पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज दे और जरूरी होने पर विचारण न्यायालय के समक्ष पेश करे.

यह आदेश न्यायमूर्ति सुधीर अग्रवाल ने बिलसी बदायूं निवासी पीड़िता के पिता कुलदीप किशोर शर्मा की अर्जी को स्वीकार करते हुए दिया है. मालूम हो कि 23 अप्रैल 8 को परीक्षा देने गयी पीड़िता को कार से अपहरण कर लिया गया और ड्रग्स देकर बेहोश कर सामूहिक दुराचार किया गया. अपहरण में विधायक व साथी नीरज शर्मा शामिल था. 17 मई 08 को मुजफ्फरनगर रेलवे स्टेशन से पीड़िता की बरामदगी की गयी. पुलिस ने अपहरण व गैंगरेप के आरोप में दर्ज मामले की जांच करते हुए फाइनल रिपोर्ट पेश की जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया और पीड़िता के पिता की आपत्ति को इस्तगासा मानकर कार्यवाही शुरू की. दो बार गैर जमानती वारंट व कुर्की के आदेश के बावजूद आरोपी विधायक कोर्ट में हाजिर नहीं हुआ. हाईकोर्ट ने प्रमुख सचिव को गिरफ्तार करे या कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया, तो 3 जून 14 को विधायक ने समर्पण किया.

कुछ दिनों बाद सेवानिवृत्त हो जा रहे सत्र न्यायाधीश ने उसे जमानत दे दी. कहा लखनऊ-दिल्ली व अन्यत्र स्थान कहां पर दुराचार हुआ, स्पष्ट नहीं और विधायक पर अपहरण का आरोप भी नहीं है जिसे निरस्त करने की हाईकोर्ट में अर्जी दी गयी थी. कोर्ट ने कहा कि राजनैतिक छत्रछाया के चलते पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया. शीर्ष अधिकारी के हस्तक्षेप पर समर्पण कराया गया. आरोपी ने पीड़िता के परिवार को परेशान करने की कोई कोर कसर नहीं छोड़ी. जमानत का दुरूपयोग किया. पांच साल बीत गये लेकिन विचारण पूरा नहीं हो सका. ऐसे में जमानत निरस्त किये जाने का पर्याप्त आधार है.

https://udaipurkiran.in/hindi

लग्जरी कार से 22 लाख की रकम बरामद

0

रकम के साथ पकड़े गये दो मीट निर्यातकों से आयकर की टीमें कर रही पूछताछ

कानपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). लोकसभा चुनाव को लेकर लगी आदर्श आचार संहिता के बीच कलक्टरगंज थानाक्षेत्र में 22 लाख की नकदी पकड़ी गई है. पुलिस ने बरामद रकम को लेकर स्टेटिक टीम के जरिए आयकर अफसरों को जानकारी दी. अफसरों ने दो लोगों को हिरासत में लेकर रकम के दस्तावेजों की जांच पड़ताल शुरु कर दी है. लोकसभा चुनाव का शंखनाद बजते ही आदर्श आचार संहिता का पालन कराने में अफसर जुट गये हैं. आचार संहिता के तहत नकदी, शराब व मतदाताओं की खरीद-फिरोख्त को देखते हुए जनपद में स्टेटिक टीमें गठित कर दी गई हैं. इसी कड़ी में सोमवार को जनपद के कलक्टरगंज थानाक्षेत्र में जिला व पुलिस प्रशासन की संयुक्त कर्मियों की स्टेटिक टीम घंटाघर चौराहे पर जांच कर रही थी. तभी काले रंग की इेको स्पोटर्स कार आती दिखाई दी. टीम ने जांच के लिए जैसे ही कार चालक को रुकने का इशारा किया, चालक ने स्पीड बढ़ा दी और भागने लगा.

टीम में मौजूद पुलिस कर्मियों ने दौड़ाकर कार को घेर लिया और रोककर तलाशी ली. तलाशी के दौरान कार में 22 लाख की नकदी बरामद होने पर स्टेटिक टीम चालक को कार समेत कलक्टरगंज थाने ले आई और रकम के बाबत पूछताछ व दस्तावेजों की जांच करने लगी. स्टेटिक टीम ने रकम के दस्तावेजों की जांच के लिए आयकर अफसरों को बुलाया.  बरामद 22 लाख की रकम को लेकर ज्वांइट मजिस्ट्रेट संतोष कुमार ने बताया कि कार से मिली रकम के साथ दो युवकों को हिरासत में लिया गया. पकड़ा गये युवक खुद को मीट निर्यातक बता रहे हैं. मीट निर्यातक बरामद रकम मीट कंपनी इंडार्गो का बता रहे हैं. रकम के साथ युवक जुनैद और इरफान को हिरासत में लेकर दस्तावेजों की जांच के लिए आयकर के अफसरों को बुलाया गया है. ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने बताया कि रकम के दस्तावेज न मिलने पर नकदी जब्त करते हुए विधिक कार्रवाई की जाएगी.

https://udaipurkiran.in/hindi

बर्थडे पार्टी मनाकर लौट रहे छह दोस्त हुए हादसे का शिकार

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). दोस्त की बर्थडे पार्टी मनाकर खाने गए छह दोस्त एनएच-24 पर हादसे का शिकार हो गए. कल्याणपुरी इलाके में ईस्ट विनोद नगर डिपो के सामने इनकी होंडा सिटी कार डिवाइडर से टकराकर पलट गई. कार ने कई कलाबाजियां खाई. राहगीरों ने मामले की सूचना पुलिस को दी. घायलों को एलबीएस अस्पताल ले जाया गया, जहां एक युवक को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि पांच बुरी तरह घायल हो गए. मृतक की पहचान साहिल बजाज (24) के रूप में हुई है. हादसे में घायल हुए दीपांशु, जीवा कालरा, शिवा कालरा, अभिषेक धमीजा और हेमंत चावला का अस्पताल में उपचार जारी है.

पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद साहिल का शव परिवार को सौंप दिया है. कल्याणपुरी थाना पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है. पुलिस के अनुसार साहिल परिवार के साथ शिवपुरी, लैबर चौक, गीता कालोनी में रहता था. परिवार में पिता गुलशन बजाज, मां किरण बजाज और दो शादीशुदा बहनें हैं. साहिल ग्रेजुएशन करने के बाद नौकरी की तलाश कर रहा था. साहिल के जीजा सोनू ने बताया कि शनिवार को साहिल के दोस्त जीवा का जन्मदिन था. सभी दोस्तों जीवा कालरा उसका भाई शिवा कालरा, दीपांशु, अभिषेक धमीजा, हेमंत चावला और साहिल ने पहले गीता कालोनी में जन्मदिन पार्टी मनाई. इसके बाद देर रात को सभी ने सराय काले खां जाकर खाना खाने का कार्यक्रम बनाया. हेमंत की होंडा अमेज कार में सवार होकर सभी छह दोस्त काले खां पहुंच गए. सभी ने वहां खाना खाया और रविवार तड़के चार बजे सभी घर आने के लिए निकले.

कार जीवा चला रहा था, जबकि साहिल चालक के बराबर वाली सीट पर बैठा था. इस बीच अक्षरधाम मंदिर से आगे निकलने पर साहिल व जीवा मजाक करने लगे. मजाक करने के दौरान अचानक कार अनियंत्रित हुई और डिवाइडर से टकराकर पलट गई. कार पलटने के दौरान साहिल कार से निकलकर सड़क पर गिर गया. राहगीरों ने तुरंत घायलों को कार से बाहर निकाला और पुलिस की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया. अस्पताल में साहिल को मृत घोषित कर दिया गया.

कार की रफ्तार 100 से थी अधिक

मौज-मस्ती कर घर लौट रहे दोस्तों को शायद पता नही था कि वह हादसे का शिकार हो जाएंगे. दीपांशु ने बताया कि जीवा कार बहुत तेज चला रहा था. उसी दौरान साहिल ने जीवा से मजाक शुरू कर दिया और कार अनियंत्रित होकर पलट गई. हादसे के समय रफ्तार अधिक होने के कारण कार ने कई कलाबाजियां खाई. पुलिस इस बात का पता लगाने का प्रयास कर रही है कि जीवा ने शराब तो नही पी हुई थी. पुलिस घायलों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है.

इकलौता था साहिल, परिवार में मातम का माहौल

इकलौते बेटे की मौत के बाद से साहिल के परिवार में मातम का माहौल है. भाई-बहनों में साहिल सबसे छोटा था. दोनों बहनों की शादी हो चुकी है. साहिल के पिता चांदनी चौक इलाके में लकड़ी की पेटी बनाने का काम करते हैं. इधर बेटे की मौत की खबर सुनने के बाद से साहिल की मां किरण बार-बार रोते हुए बेहोश हुए जा रही थी. जीजा सोनू ने बताया कि परिवार साहिल की नौकरी लगते ही उसकी शादी की तैयारी कर रहा था.

https://udaipurkiran.in/hindi

ठगी में शामिल अधेड़ उम्र के दंपति गिरफ्तार

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). दक्षिणी जिले के कोटला मुबारकपुर पुलिस ने दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में ठगी के मामलों में फरार चल रहे अधेड़ उम्र के दंपति को सोमवार को गिरफ्तार किया है. इन्हें कोर्ट ने भगौड़ा भी घोषित किया हुआ था. आजकल दोनों राजौरी गार्डन इलाके में किराए के मकान में रह रहे थे. आरोपितों की पहचान नरेंन्द्र सिंह नारंग व रविन्द्र कौर के रूप में हुई हैं. नरेंन्द्र पांच मामलों में भगौड़ा घोषित किया जा चुका था.

डीसीपी विजय कुमार के अनुसार 2017 में चितरंजन पार्क इलाके में दंपति ने बैंक में पहले से गिरवी रखी प्रॉपर्टी को दूसरे लोगों को बेच दिया था. इस बाबत उनके खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ था. इसके बाद दोनों अंडरग्राउंड हो गए थे. कोटला मुबारकपुर थानाध्यक्ष अजय नेगी व सब इंस्पेक्टर दुर्गादास ने दंपति के बारे में जानकारी जुटाई.

उनके पुराने रिकॉर्ड, टैक्नीकल सर्विलांस और मुखबिर तंत्र की मदद से पुलिस ने इनके वर्तमान ठिकाने का पता लगाया. इसके बाद सोमवार को महिला एएसआाई मंजू ध्यानी के साथ राजौरी गार्डन इलाके में इनके संभावित ठिकाने पर छापेमारी की कार्रवाई की गई और दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया. महिला रविन्द्र कौर के खिलाफ भी गैर जमानती वारंट जारी हो चुका था. पुलिस का दंपति के बारे में कहना है ये लोगों से निवेश के नाम पर भी रकम ऐंठते थे. दिल्ली-हरियाणा के अलावा उत्तर प्रदेश में भी इनके खिलाफ कई शिकायतें पुलिस को मिली थी. गिरफ्तारी से बचने के लिये दंपति कुछ ही समय में अपना ठिकाना बदल देते थे. आसपास रहने वाले लोगों व पड़ोसियों से भी इनका ज्यादा वास्ता नहीं रहता था.

https://udaipurkiran.in/hindi

मेट्रो भवन के अंदर मिली युवक की लाश

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). दिल्ली मेट्रो में काम करने वाले एक युवक की संदिग्ध हालत में मौत हो गई. मृतक की पहचान महेश प्रजापति के रूप में हुई हे. पुलिस आशंका जता रही है कि युवक ने सातवीं तल से छलांग लगाकर आत्महत्या की है हालांकि विभिन्न कोणों से मामले की जांच की जा रही है. फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है.

नई दिल्ली जिले के डीसीपी मधुर वर्मा के अनुसार सोमवार को एक युवक की लाश बाराखंभा रोड के मेट्रो भवन के अंदर मिली थी. मृतक की पहचान महेश प्रजापति के रूप में हुई. जांच में पता चला कि युवक मेट्रो में तैनात था और पिछले दो दिन से लापता था, इसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट बाराखम्भा रोड़ थाने में दर्ज भी की गई थी. आरोप है कि पुलिस ने इस युवक को तलाशने के लिए कुछ भी नहीं किया. इस बीच उसकी लाश बरामद की गई. मृतक महेश प्रजापति (33) के बारे में पुलिस ने जांच में पाया कि उसकी शादी पिछले साल 15 दिसम्बर को प्रिया वर्मा नामक युवती से हुई थी. महेश दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में मैनटेनेंस फिटर के तौर पर काम करता था. शादी के एक माह बाद ही पति पत्नी में किसी बात को लेकर अनबन हो गई और इसके बाद उसकी पत्नी घर छोड़कर मायके चली गई.

मूलत: वाराणसी का रहने वाला महेश दिल्ली में गोविंदपुरी इलाके में रहता था जबकि वह 23 मार्च से लापता था. सोमवार सुबह एक कर्मी ने मेट्रो भवन स्थित बेसमेंट में एक युवक की लाश को देख इसकी सूचना गार्ड को दी. जिसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई. घटना की सूचना पाकर मौके पर स्थानीय पुलिस और क्राइम टीम ने पहुंचकर जाएजा लिया. पुलिस ने बताया कि मेट्रो भवन में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली गई. जिसमें 22 मार्च की शाम शुक्रवार को महेश सातवीं मंजिल पर सीढियो की तरफ टहलते नजर आया है. पुलिस को शक है कि उसने वहीं से नीचे छलांग लगाकर खुदकुशी की है. पुलिस ने बताया कि महेश करीब दो साल से मेट्रो में काम कर रहा था. इस घटना के बाद मेट्रो की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हो गए क्योकि दो दिन तक बॉडी भवन के अंदर पड़ी रही, लेकिन सुरक्षा कर्मिंयों को इसकी भनक तक नहीं लग सकी. फिलहाल पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार है ताकि मौत के सहीं कारणों का पता चल पाए.

https://udaipurkiran.in/hindi

नौकरी का झांसा देकर महिला से सामूहिक दुष्कर्म, पुलिसकर्मी समेत चार के खिलाफ केस दर्ज

0

सोनीपत, 25 मार्च (उदयपुर किरण). सोनीपत में सोमवार को एक महिला ने नौकरी दिलाने का झांसा देकर पुलिसकर्मी व उसके साथियों पर सामूहिक दुराचार करने का आरोप लगाकर मामला दर्ज कराया है. महिला का आरोप है कि उसके साथ दिसंबर, 2018 में पहली बार दुष्कर्म हुआ था. इसके बाद वीडियो बनायी गयी थी. उस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया जा चुका है जिसमें सामूहिक दुष्कर्म भी शामिल है. गोहाना सदर थाना में एक पुलिसकर्मी समेत चार लोगों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

सदर थाना गोहाना के गांव की रहने वाली 25 वर्षीय महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि कुछ दिन पहले वह बस में सफर कर रही थी. इस दौरान बस में उसे एक युवती मिली थी. बातचीत में आरोपित युवती ने कहा था कि गांव रोलद निवासी सुमेर उसे नौकरी दिलवा सकता है. उसने सुमेर का मोबाइल नंबर भी दिया था. इसके बाद उसकी सुमेर से बातचीत होने लगी. सुमेर सोनीपत में काम करता है. उसने सुमेर से नौकरी दिलवाने को कहा था. महिला का आरोप है कि सुमेर ने 10 अक्टूबर, 2018 को उसे सोनीपत बुलवाया था. सोनीपत में कार लिए हुए सुमेर मिला. उसके साथ कार में एक अन्य व्यक्ति था जो कार चला रहा था. महिला का आरोप है कि सुमेर ने बताया था कि वह कोर्ट में रीडर का काम करता है. सुमेर ने उसके सभी कागजात ले लिए और बाद में जबरन कार के अंदर उसके साथ दुष्कर्म किया. कार राजीव कालोनी में खड़ी थी.

महिला ने बताया कि जब उसने पुलिस में शिकायत करने की बात कही तो रीडर व सुमित ने धमकी दी कि उन्होंने उसकी अश्लील वीडियो बना ली है. वह उसे वायरल कर देंगे, जिसके चलते वह चुप रही. महिला ने बताया कि बाद में सुमेर ने उसे दोबारा कागजात देने के बहाने एक प्रापर्टी डीलर के कार्यालय में बुलाया. वहां पर सुमेर व एक अन्य युवक सुनील मिला. सुनील का परिचय उन्होंने पुलिस कर्मी के रूप में कराया था. महिला ने बताया कि सुमेर व पुलिस कर्मी ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. प्रापर्टी डीलर कार्यालय के मालिक गौरव ने छेडख़ानी की और उसके वीडियो बनाकर भी वायरल करने की धमकी दी.

महिला का आरोप है कि बाद में खुद को रीडर बताने वाले युवक ने साहब से मिलवाने व कागजात पर हस्ताक्षर करने के बहाने उसे मुरथल रोड स्थित एक ढाबे पर बुलवाया और उसके साथ दुष्कर्म किया. बाद में पुलिस कर्मी बताने वाले सुनील ने उसे मामा-भांजा के पास एक दुकान में बुलाकर फिर उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद सुमेर ने उसे गोहाना में फिर से बुलाया. वहां पर वह एक अन्य व्यक्ति के साथ आया था. आरोपित ने तब खेतों में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया. आरोपितों की प्रताड़ना से तंग आकर उसने पुलिस को शिकायत दी. जिस पर सदर थाना पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म, छेडख़ानी व अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि उसका पति हत्या के प्रयास के मामले में जेल में बंद है. आरोपितों द्वारा बार-बार यह धमकी भी दी जा रही थी कि अगर उसका पति जेल से बाहर निकलेगा, तो वह उसे दोबारा फर्जी केस में फंसा कर बंद करवा देंगे.

https://udaipurkiran.in/hindi

लादेन को घर में घुसकर मारने वाला चिनूक हेलीकॉप्टर अब भारतीय वायुसेना के पास

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). भारतीय वायुसेना की मारक शक्ति अब और घातक हो गई है. भारत अब दुनिया के उन 19 देशों की कतार में शामिल हो गया है, जिनके पास चिनूक हेलीकॉप्टर हैं. दुनियाभर की वायुसेना में चिनूक हेलीकॉप्टर अपनी मारक क्षमता, भार उठाने की शक्ति, डबल इंजन जैसी तमाम विशेषताओं के लिए जाना जाता हैका ने अंतराष्ट्रीय आतंकी ओसामा-बिन-लादेन को मारने के लिए चलाए सीक्रेट ऑपरेशन में चिनूक हेलीकॉप्टर का ही उपयोग किया था. भारत ने 15 चिनूक हेलीकॉप्टर खरीदे हैं, जिसमें से 4 भारत को मिल चुके हैं. सभी 15 चिनूक हेलीकॉप्टर भारत को मार्च,2020 तक मिल जाएंगे. भारत ने इसके लिए डेढ़ अरब डॉलर खर्च किए हैं.

सोमवार को भारतीय वायुसेना में चार चिनूक हेलीकॉप्टर शामिल किए गए. चिनूक हेलीकॉप्टर को भारतीय वायुसेना में शामिल करने का समारोह चंडीगढ़ में आयोजित किया गया. इन चिनूक हेलीकॉप्टर का उपयोग भारत-पाकिस्तान सीमा पर ऊंचाई वाले स्थानों पर सीमा सुरक्षा के लिए किया जाएगा, जिसमें ऊंची चौकियों पर भारतीय सैनिकों को ले जाना, सेना के भारी अस्त्र-शस्त्र को पहुंचाना शामिल होगा. चिनूक के द्वारा भारतीय सेना अब भारी-भरकम होवित्जर तोपों को भी एक स्थान से दूसरे स्थान पर आसानी से कम समय में ले जाया जा सकेगा.

चिनूक हेलीकॉप्टर को लेकर वायुसेना अध्यक्ष बीएस धनोवा ने कहा कि चिनूक हेलीकॉप्टर का भारतीय वायुसेना में समावेश हमारी एयरलिफ्ट क्षमताओं को बढ़ाएगा. यह आधुनिक, बहु-मिशन-सक्षम, भारी-भरकम परिवहन हेलीकॉप्टर सभी प्रकार के इलाकों में हमारी हेली-लिफ्ट क्षमता को एक उच्च स्तर पर ले जाने में सक्षम है. इस मौके पर चिनूक हेलीकॉप्टर बनाने वाली कंपनी बोईंग डिफेंस के वाइस प्रेसीडेंट माइकल कोच ने कहा कि अपनी उन्नत क्षमताओं और बहुमुखी विशेषताओं के साथ चिनूक हेलीकॉप्टर भारतीय वायु सेना के लिए एक महत्वपूर्ण हिस्सा साबित होगा. बोइंग डिफेंस, भारतीय सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण के मिशन और उसे पूरा करने के लिए भारत के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है. 

https://udaipurkiran.in/hindi

मनेर में हुआ आँख बंद व डब्बा गायब वाला मामला, स्वर्णकार को झांसा दे गायब किया 7 लाख का जेवर

0

बिहटा,25 मार्च (उदयपुर किरण).सोमवार की शाम मनेर के एक स्वर्णकार के साथ आंख बंद डिब्बा गायब वाली कहावत चरितार्थ हो गयी.ग्राहक बनकर दुकान पर आयी दो महिलाओं ने दुकानदार को झांसा देकर करीब दो सौ ग्राम सोने के जेवर से भरी डिब्बी चुरा ली और रफूचक्कर हो गई.चोरी गए जेवरात का बाजार मूल्य सात लाख रुपए बताया जा रहा है.पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

जानकारी के अनुसार मनेर बस्ती रोड चौराहा निवासी संतोष कुमार का मनेर गर्ल्स स्कूल के पास गणपति ज्वेलर्स नाम से सोने चांदी की दुकान है.सोमवार को शाम चार बजे के करीब दो महिलाएं गहने खरीदने के लिये दुकान पर आईं एवं जेवर दिखाने के लिये बोला.दुकानदार संतोष सोने के जेवर से भरी डिब्बी अलमीरा से निकलकर ग्राहक को दिखाने लगा.इस बीच दोनों महिलाओं ने नजरें बचाकर डिब्बी को छुपा लिया एवं यह कहकर कि कपड़ा खरीदकर आते हैं, दुकान से चली गईं.जब दुकानदार ने जेवर वाली डिब्बी वापस अलमीरा में रखने के लिए खोजी तो डिब्बी गायब थी.आसपास के सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला गया लेकिन कुछ पता नहीं चल सका.इस संबंध में थाना प्रभारी प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि सूचना मिली है.मामले की छानबीन की जा रही है.

https://udaipurkiran.in/hindi

मध्यप्रदेश में आचार संहिता लागू होने के बाद से तीन करोड़ की नकदी जब्त

0

भोपाल, 25 मार्च (उदयपुर किरण). मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने के बाद से अब तक तीन करोड़ रुपये से अधिक की नकदी जब्त हो चुकी है. वहीं, पौने तीन करोड़ रुपये की अवैध शराब पकड़ी गई है. यह जानकारी सोमवार को प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने मीडिया को दी.

भोपाल स्थित निर्वाचन कार्यालय में हुई प्रेसवार्ता में निर्वाचन आयोग के सीईओ कांताराव ने बताया कि लोकसभा चुनाव के लिए 10 मार्च को आचार संहिता लागू होने के बाद पुलिस और फ्लाइंग स्वायड टीमों द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें नकदी, अवैध शराब और मादक पदार्थों की धरपकड़ करते हुए बैनर-पोस्टर हटाने का काम भी किया जा रहा है. प्रदेश में अब तक तीन करोड़ रुपये से अधिक की नकदी, पौने तीन करोड़ की एक लाख 17 हजार 215 लीटर अवैध शराब जब्त की गई है. इसके अलावा 14 लाख रुपये के मादक पदार्थ और सवा करोड़ रुपये से ज्यादा के वाहन और हथियार भी जब्त किए गए हैं. उन्होंने बताया कि शांतिपूर्ण मतदान संपन्न होने तक यह अभियान निरंतर जारी रहेगा.

उन्होंने बताया कि युवाओं के नाम मतदाता सूची में जोडऩे का काम अभी जारी है. नाम जुड़वाने का काम नामांकन दाखिले के अंतिम दिन से दस दिन पहले तक चलेगा. अभी तक नाम जोडऩे के लिए 3.64 लाख, हटाने के 71 हजार 875, संशोधन के लिए एक लाख 46 हजार और विधानसभा क्षेत्र में निवास परिवर्तन के लिए 25 हजार 806 आवेदन मिले हैं. एक अप्रैल से सभी जिलों में मतदाता परिचय पत्र उपलब्ध कराने के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा.

राजनीतिक दलों ने 323 शिकायतें की

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि एक जनवरी से अभी तक तीन हजार 715 शिकायतें मिली हैं. इनमें से तीन हजार 73 का निराकरण भी हो चुका है. राजनीतिक दलों से 323 शिकायतें मिली थीं, इनमें सिर्फ 57 ही कार्रवाई के लिए बची हैं.

https://udaipurkiran.in/hindi

अधिवक्ताओं ने सपा नेता राम गोपाल पर सीजीएम कोर्ट में दर्ज कराया परिवाद

0

कानपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राम गोपाल यादव के पुलवामा आतंकी हमले पर विवादित बयान के बाद अधिवक्ताओं ने सोमवार को कानपुर न्यायाल में परिवाद दाखिल किया है. परिवाद दाखिल करते हुए सपा नेता पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की गई है. सपा नेता के खिलाफ दाखिल परिवाद मामले में कोर्ट ने सुनवाई के लिए अप्रैल की तारीख दी है.

कानपुर जनपद के स्पेशल सीजीएम न्यायाल में सोमवार को अधिवक्ता रविकांत व आनंदशंकर जायसवाल ने सपा नेता राम गोपाल यादव के खिलाफ परिवाद दाखिल किया. 156/3 के तहत दाखिल परिवाद में अधिवक्ताओं ने बताया कि राम गोपाल यादव ने बीती 23 मार्च को अपने भाषण में यह बयान दिया था कि पुलवामा में वोट के लिए जवान मार दिए गए. जब केंद्र की भाजपा सरकार हटेगी तो इस मामले की जांच कराई जाएगी, जिसमें बड़े-बड़े लोग फसेंगे. राजनीति के लिए देश के जवानों के प्रति इस तरह का बयान देना कतई उचित नहीं है. इसके चलते ही सपा नेता के खिलाफ परिवाद दाखिल किया गया है. संयुक्त वार्ता में अधिवक्ताओं ने बताया कि न्यायालय ने मामले में 10 अप्रैल को सुनवाई की तारीख निहित की है. सुनवाई के बाद मुकदमा दर्ज करने का फैसला कोर्ट लेगा.

https://udaipurkiran.in/hindi

दूसरी जगह शादी तय होने पर प्रेमी ने प्रेमिका को मारी गोली

0

गाजियाबाद, 25 मार्च (उदयपुर किरण). ट्रॉनिका सिटी थाना क्षेत्र की एक काॅलोनी में सोमवार को सिरफिरे आशिक ने प्रेमिका की शादी तय होने से क्षुब्ध होकर उसे गोली मार दी. गनीमत रही कि गोली उसके दाहिने हाथ में जा लगी. परिजनों ने घायल को उपचार के लिये दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया है. पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक, ट्रॉनिका सिटी क्षेत्र की एक काॅलोनी में धीरज परिवार के साथ रहता है. उसका काॅलोनी में ही रहने वाली एक लड़की से पढ़ाई के समय से प्रेम प्रसंग था. कुछ समय पूर्व उसे पता चला कि लड़की के परिजनों ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी है. जिस पर नाराज प्रेमी सोमवार को उसके घर जा पहुंचा. युवती के परिजनों ने बताया कि उस समय उनकी पुत्री घर पर खाना बना रही थी. धीरज ने परिजनों के समक्ष शादी का प्रस्ताव रखा.  परिजनों के इनकार करने पर वह बाथरूम में चला गया. वहां से निकल कर वापस आया तो उसने प्रेमिका के माता-पिता और दो बहनों को कमरे में बंद कर दिया. इसके बाद प्रेमिका पर फायरिंग कर दी. गनीमत रही कि गोली उसके दाहिने हाथ में जा लगी. घटना को अंजाम देने के बाद उसने भागने का प्रयास किया. लेकिन गोली की आवाज सुनकर आस-पास के लोग एकत्र हो गए और परिजनोंं को मुक्त कराया.

घटना की सूचना पुलिस को दी गई. सूचना पर पहुंची पुलिस ने जब आरोपी को गिरफ्तार करने का प्रयास किया तो उसने अपने सीने पर तमंचा रखकर गोली मारने की धमकी दी. जिस पर पुलिस ने प्रेमी के परिजनोंं व काॅलोनी के लोगों की मदद से करीब सवा घंटे बाद हमलावर आरोपी को दबोचा. ट्रॉनिका सिटी थाना प्रभारी सुभाष कुमार सिंह ने बताया कि घायल युवती के परिजनों की शिकायत पर आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है.

https://udaipurkiran.in/hindi

गुवाहाटी सीसुब फ्रंटियर मुख्यालय में पीयूष मोर्डिया ने संभाला महानिरीक्षक का कार्यभार

0

गुवाहटी, 23 मार्च (उदयपुर किरण). पीयूष मोर्डिया ने सोमवार को राजधानी गुवाहाटी के पाटगांव स्थित सीमा सुरक्षा बल (सीसुब) के गुवाहाटी फ्रंटियर मुख्यालय में महानिरीक्षक राकेश अग्रवाल से पदभार ग्रहण किया. फ्रंटियर मुख्यालय मोर्डिया का पहला दिन था.

राजस्थान के अजमेर में जन्मे पीयूष ने फायनेंस में एमबीए किया है. वे भापुसे के यूपी कैडर 1998 बैच के एक अनुभवी पुलिस अधिकारी हैं. सेवा के शुरूआती दिनों में इन्होंने राज्य पुलिस में कई महत्वपूर्ण पदों को संभाला है. उसके बाद उन्होंने सीसुब को ज्वान किया और सेक्टर मुख्यालय बीकानेर के उपमहानिरीक्षक पद पर और उसके बाद बल मुख्यालय में उपमहानिरीक्षक गोपनीय के पद पर आसीन रहे.

उनकी सराहनीय सेवा के लिये प्रेसीडेंट पुलिस मेडल फार मेरीटोरियस सर्विस से सम्मानित किया गया है और उन्हें कई बार महानिदेशक प्रशस्ति पत्र से भी सम्मानित किया गया है. कार्यभार संभालने के बाद सीमा पार अपराधों को रोकने और दोनों सीमा रक्षक बलों के बीच सौहार्दपूर्ण संबंधों को मजबूत करने के लिये प्रभावी सीमा प्रबंधन की आवश्यकता पर मोर्डिया ने जोर दिया. उन्होंने कहा कि जवानों के कल्याण के लिये जो भी आवश्यक कदम होंगे वे उठाये जायेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि हमे सीमा पर निवास कर रहे लोगों के दिलों में जगह बनाकर अपने कर्तव्यों का निर्वहन करना है.

https://udaipurkiran.in/hindi

लोकसभा चुनाव: अब तक कुल 104 करोड़ रुपये जब्त

0

लखनऊ, 25 मार्च (उदयपुर किरण). भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता के अनुपालन में प्रचार सामग्रियों को हटाने के लिए चलाये जा रहे अभियान के तहत अब तक कुल 25,61,411 वाॅल राइटिंग, पोस्टर्स, बैनर्स आदि सार्वजनिक एवं निजी स्थानों से हटा दिये गये हैं या ढक दिये गये हैं.

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने सोमवार को बताया कि आयकर, नारकोटिक्स, पुलिस तथा आबकारी द्वारा की गयी कार्यवाही में अब तक कुल 104 करोड़ रुपये की जब्ती की गई है, जिसमें पुलिस एवं आयकर विभाग द्वारा 8.26 करोड़ रूपये की नगदी तथा नारकोटिक्स एवं पुलिस द्वारा कुल 14.68 करोड़ रुपये की गांजा, स्मैक तथा चरस आदि की जब्ती की गई. आबकारी विभाग द्वारा 8,05,941 लीटर मदिरा जब्त की गई हैं.

इसके साथ ही पूरे प्रदेश में जिला प्रशासन द्वारा अब तक सार्वजनिक स्थानों से वाॅल राइटिंग के 1,28,160 पोस्टर्स 9,52,375 बैनर्स 4,48,350 तथा अन्य मामलों में 4,55,469 प्रचार-प्रसार से सम्बन्धित सामग्रियों को हटा दिया गया है. इसी तरह से निजी स्थानों से वाॅल राइटिंग के 70,337 पोस्टर्स 2,53,248 बैनर्स 1,55,493 अन्य मामलों में 97,979 प्रचार-प्रसार से सम्बन्धित सामग्री हटा दिये गये हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि कानून व्यवस्था के तहत अब तक 5,87,711 लाइसेन्सी शस्त्र जमा कराये गये हैं तथा 332 लोगों के लाइसेन्स निरस्त किये गये हैं. इसके अलावा निरोधात्मक कार्यवाही के तहत 12,74,779 लोगों को पाबन्द किया गया है तथा 10,933 लोगों पर गैर जमानती वारन्ट तामिला कराया गया है. उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 4037.32 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री, 4,551 कारतूस, 2,729 बम बरामद किये गये हैं.

https://udaipurkiran.in/hindi

पत्नी की बात से आहत होकर पति ने फांसी लगाकर जान दी

0

शाहजहांपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). रोजा थाना क्षेत्र में पत्नी की बातों से आहत होकर एक युवक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की छानबीन में जुट गई है.

रोजा थाना क्षेत्र के गांव शाहगंज निवासी खन्ना (23) की शादी चार साल पूर्व इसी क्षेत्र के गांव नेकरामपुर निवासी धनेश्वरी देवी से हुई थी. शादी के बाद कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक रहा. लेकिन उसके बाद धनेश्वरी अपने मायके वापस चली गई. कई बार युवक पत्नी को विदा कराने गया जहां विदा को लेकर दम्पति के बीच कई बार झगड़े भी हुए, लेकिन वो नहीं आई. रविवार को युवक मोहम्मदी थाना के गांव विजपरी निवासी बहनोई महेश को लेकर ससुराल पहुंचा और पत्नी को साथ में चलने के लिए कहा. इस बात दम्पति के बीच विवाद शुरू हो गया. विवाद बढ़ने पर धनेश्वरी ने अपने पति खन्ना को अपना दुपट्टा देते हुए कहा कि अगर बात वाले हो, तो अपना मुंह मत दिखाना. यह बात खन्ना को चुभ गई और वो बहनोई के साथ वापस अपने घर आ गया. जहां देर रात युवक ने गांव के बाहर जाकर एक खेत में लगे बिजली के खम्बे पर पत्नी के दुपट्टे का फंदा बनाकर फांसी लगा ली. सोमवार सुबह ग्रामीणों ने युवक के शव को लटका देखा. मौके पर काफी भीड़ लग गई. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है.

https://udaipurkiran.in/hindi

बीटीसी छात्रा लापता, परिजनों ने जताई अपहरण की आशंका

0

कुशीनगर,25 मार्च (उदयपुर किरण). कॉलेज से सोमवार शाम को बीटीसी की छात्रा स्कूल से लौटते समय लापता हो गई. छात्रा की स्कूटी स्कूल से कुछ दूरी पर नहर किनारे पड़ी मिली. छात्रा के अपहरण की आशंका जताई जा रही. एसपी समेत महकमे के आला अधिकारी मौके पर पहुंच घटना को उजागर करने में लग गए है. एसपी ने 24 घण्टे के भीतर छात्रा की बरामदगी का भरोसा परिजनों को दिया है.

पटहेरवा थाना क्षेत्र के बनकटा बाजार के निवासी निवासी ओमप्रकाश जायसवाल की 23 वर्षीय लड़की सिम्मी विकास खंड के भठही स्थित एक महाविद्यालय में बीटीसी की छात्रा है. रोज की भांति सुबह नौ बजे पढ़ने के लिए महाविद्यालय पहुचीं. दिन के दो बजे के आसपास उसी गांव का युवक किसी काम से बनकटा से भठही के तरफ जा रहा था कि विद्यालय से कुछ दूर पहले भठही शुक्ल गांव के पास नहर के किनारे एक स्कूटी गिरी पड़ी थी. उस युवक की नजर स्कूटी के नम्बर के तरफ गया तो उसने उसके पिता को फोन कर इसकी जानकारी दिया. मौके पर पंहुचे उसके पिता ने पहले उसे खोजने का प्रयास किया, लेकिन जब वह नहीं मिली तो उसने किसी अनहोनी की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचना दिया. कुछ ही देर बाद पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र, उपजिलाधिकारी तमकुहीराज अरविंद कुमार, सीओ राणा महेंद्र प्रताप सिंह मय फोर्स पहुंच कर घटना की जानकारी लिये. परिजनों को आश्वस्त किया कि पुलिस अपना कार्य कर रही है और मुझे पूरा भरोसा है कि 24 घंटे के अन्दर लड़की बरामद कर ली जायेगी. घटना को लेकर कई तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं. प्रभारी निरीक्षक पटहेरवा आनन्द कुमार गुप्त ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला प्रेम प्रपंच का लग रहा है लेकिन जांच में जो भी तथ्य सामने आएगा उसके अनुसार कार्यवाही किया जायेगा.

https://udaipurkiran.in/hindi

140 किलो गांजा के साथ तीन गिरफ्तार

0

जगदलपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). दरभा थाना क्षेत्र के कामानार पुलिस चौकी के पास से पुलिस ने एक सफेद रंग की कार में छुपाकर रखे 140 किलो गांजा जब्त किया है. इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है.

मामले की जानकारी देते हुए दरभा थाना प्रभारी लालजी सिन्हा ने बताया कि, पुलिस को सूचना मिली कि एक सफेद रंग की मारुति सुजुकी में सवार तीन लोग संदिग्ध सामान लेकर तोंगपाल की ओर से जगदलपुर की तरफ जा रहे है. सूचना मिलते ही पुलिस ने कामानार चौकी के पास आने जाने वाले वाहनों की जांच शुरू कर दी. जांच के दौरान ही पुलिस ने बिना नंबर वाली एक सफेद रंग की कार को रोककर उसकी तलाशी लेना शुरू किया. तलाशी के दौरान पुलिस ने कार के पीछे वाली सीट में छुपाकर रखे 12 पैकेट में लगभग 140 किलो गांजा जप्त करने में सफलता हांसिल की है. कार में सवार गोपाल नायक (38), बैधनाथ मांझी (34) और मोरकन्द धुर्वा (38) सभी निवासी कालाहांडी (ओडिसा) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जब्त गांजा की कीमत करीब 8 लाख रुपये आंकी गई है. थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी अवैध गांजा को ओडिसा से मध्यप्रदेश लेकर जाने की फिराक में थे. पुलिस ने सभी आरोपित के खिलाफ एनडीपीसी एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध कर रिमांड में लिया है.

https://udaipurkiran.in/hindi

पास्को एक्ट में युवक को सात साल की सजा

0

झज्जर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). नाबालिग से दुराचार करने के मामले में झज्जर-कोसली मार्ग पर स्थित एक गांव निवासी मोनू को झज्जर की जिला अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश शशि चौहान की अदालत ने सात साल की कैद व 20 हजार रुपये का जुर्माना भरने की सजा सुनाई है. जुर्माना न भरने की स्थिति में उसे छह माह की सजा अलग से भुगतनी पड़ेगी. आरोपित के खिलाफ पुलिस ने धारा 354 डी, 384 व 506 के तहत मामला दर्ज किया था. सोमवार को उसे जेल भेज दिया गया. आरोपित के खिलाफ यह मामला 2015 में जिला पुलिस ने दर्ज किया था.

https://udaipurkiran.in/hindi

थिनर छिड़क कर युवक ने लगाई आग, मौत

0

कुरुक्षेत्र, 25 मार्च (उदयपुर किरण). पिहोवा में पुराने बाजार के साथ लगती बढ़ी चढ़ाई पर रहने वाले एक युवक ने अपने ऊपर थिनर छिड़क कर आग लगा ली. इससे वह बुरी तरह झुलस गया. झुलसे युवक को उसके परिजनों द्वारा सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां पर उसकी नाजुक हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के पश्चात कुरुक्षेत्र रेफर कर दिया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई.

सिटी चौकी इंचार्ज जगबीर सिंह ने बताया कि उन्हें रविवार रात सूचना मिली थी कि बड़ी चढ़ाई पर बसंत निवासी प्रतापगढ़ (यू.पी.) वर्षों से पिहोवा में रहकर पेन्ट करने का काम करता था. वह नशे का आदि था. बीती रात किसी बात को लेकर परिजनों के साथ कहासुनी हुई थी. इसी के चलते अपने ऊपर थिनर छिड़क कर उसने आग लगा ली. शोर सुनकर तुरंत परिजन कमरे से बाहर आए और बसंत को लेकर सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे. यहाँ के डाक्टरों ने गंभीर हालत को देखते हुए कुरुक्षेत्र रेफर कर दिया, जहाँ उसकी मौत हो गयी. पुलिस ने मृतक बसंत की पत्नी वंदना के बयान पर मामला दर्ज कर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंप दिया.

https://udaipurkiran.in/hindi

महिला पार्षद पति पर लगा छेड़छाड़ का आरोप

0

कोरिया, 25 मार्च (उदयपुर किरण). महिला पार्षद के पति पर एक विवाहिता ने सोमवार को छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए मामले की शिकायत सिटी कोतवाली में दर्ज कराया है. फिलहाल पार्षद पति पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. वहीं पिड़िता ने मामले में पुलिस पर अपराध दर्ज करने में आनाकानी का भी आरोप लगाते हुए बताया है कि आरोपित राजनीतिक रसुखदार होने के कारण काफी दबाव बनाने की कोशिश लगातार कर रहा था. मामला मिडिया कर्मियों के जानकारी में आने पर कोतवाली पुलिस ने पार्षद पति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

मिली जानकारी के अनुसार बैकुण्ठपुर नगर पालिका क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 12 के भाजपा की महिला पार्षद का पति प्रमोद गुप्ता उर्फ कुक्कू ने होली के अगले दिन 22 मार्च की दोपहर रंग खेलने के बाद प्रेमाबाग की 36 वर्षीय विवाहिता को घर छोड़ने के बहाने अपनी स्कूटर में बैठाकर को ले जाने लगा. रास्ते में छेड़छाड़ की नीयत से आरोपी पार्षद पति ने महिला का हाथ पकड़ लिया, जिसका महिला ने विरोध किया. इसके बाद भी पार्षद पति बदनियती से विवाहिता से छेड़छाड़ करता रहा. विवाहिता किसी तरह घर पहुंची, उस वक्त उसका पति बाहर गया हुआ था. 24 मार्च की रात्रि को जब पीड़िता का पति घर वापस लौटा तो महिला ने इसकी पूरी जानकारी उसे दी. जिसके बाद 25 मार्च की सुबह पीड़िता ने इसकी सूचना सिटी कोतवाली में दर्ज कराई. जहां पुलिस ने आरोपी प्रमोद गुप्ता के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर लिया है. आरोपी पार्षद पति अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

https://udaipurkiran.in/hindi

नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 10 साल की कैद

0

सोनीपत, 25 मार्च (उदयपुर किरण). सोनीपत में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डाॅ. सुनीता ग्रोवर की अदालत ने सोमवार को 12 साल की बच्ची से दुष्कर्म करने के मामले में लड़की के पड़ोसी को दोषी करार दिया और 10 साल कैद की सजा सुनायी. साथ ही 26 हजार रुपये जुर्माने की सजा भी दी है. जुर्माना न देने पर दस माह अतिरिक्त कैद भुगतनी होगी.

उल्लेखनीय है कि 27 जून, 2018 को एक व्यक्ति ने गन्नौर थाना पुलिस को बताया था कि उसकी 12 वर्षीय बेटी 25 जून, 2018 की रात को पड़ोसी के घर सोने के लिए गई थी. दोनों परिवारों में काफी मेलजोल होने के चलते उन्होंने बेटी को पड़ोसी के घर जाने दिया. रात को उसके पड़ोसी ने बच्ची के साथ दुष्कर्म कर दिया. डर से बच्ची आरोपित के घर से बाहर निकलकर मंदिर में जाकर छुप गई थी. जब उनकी बच्ची घर नहीं पहुंची तो वह पड़ोसी के घर उसे बुलाने के लिए गए. तब आरोपित भी घर पर नहीं मिला.
परिजनों को बच्ची ने बताया था कि पड़ोसी अशोक ने उसके साथ दुष्कर्म किया है. इस पर परिजनों ने आरोपित को घर पर बुलाया. आरोपित ने उनके घर आकर मामले की शिकायत पुलिस को देेने की स्थिति में आत्महत्या करने की धमकी दे दी और भाग गया. इसके बाद पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया था और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया था.

https://udaipurkiran.in/hindi

आयकर विभाग ने जब्त किए डेढ़ करोड़ रुपये

0

गुवाहाटी, 25 मार्च (उदयपुर किरण). आयकर विभाग ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पूर्वोत्तर राज्यों के विभिन्न इलाकों से गत एक सप्ताह में करीब 1.50 करोड रुपये जब्त किए. आयकर विभाग ने लोकसभा चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए कालेधन के इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए अभियान तेज कर दिया है.

राज्य सरकारों के विभिन्न विभागों जैसे सीआईएसएफ, बैंक और विभिन्न सरकारी एजेंसियों के साथ मिलकर कालेधन के इस्तेमाल पर नकेल कसने के लिए कड़ी कार्रवाई की जा रही है. इस अभियान में पूर्वोत्तर के सात राज्यों के 112 जिलों को शामिल किया गया है. पूर्वोत्तर राज्यों की राजधानी में आयकर विभाग में अपना नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है. आयकर विभाग सभी हवाई अड्डों पर भी सक्रिय रूप से निगरानी कर रहा है.

https://udaipurkiran.in/hindi

सड़क हादसे में महिला की मौत, तीन घायल

0

जम्मू 25 मार्च (उदयपुर किरण). जम्मू के मीरा साहिब इलाके में एक आटो पलट गया जिसके चलते आटो में सवार एक महिला की मौत हो गई जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए. जानकारी के अनुसार एक आटो मीरा साहिब की तरफ जा रहा था. इस दौरान सिंबल मोड के पास अचानक संतुलन बिगड गया जिससे वह संभाल नहीं पाया और आटो पलट गया. जिस कारण आटो में सवार महिला समेत चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में ले जाया गया. अस्पताल में डाक्टरों ने जांच के दौरान एक महिला को मृत घोषित कर दिया. मृतक की पहचान खुरशीद बैगम पत्नी मोहम्मद शफी निवासी दवलैड व घायलों की पहचान मुश्ताक, रुबिना तथा असलम निवासी दवलैड के रूप में हुई है. पुलिस ने इस संदर्भ में मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरु कर दी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

हथियारबंद बदमाशों ने बंधक बनाकर की लूट

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). मुंडका इलाके में हथियारबंद नकाबपोश बदमाशों ने एक गोदाम पर धावा बोलकर ट्रांसपोर्टर को बंधक बनाकर गोदाम में रखे 25 लाख रुपये लूट लिए. पुलिस ने पीड़ित के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस वारदात स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में लगी है. मामले की जांच का जिम्मा मुंडका पुलिस और स्पेशल स्टॉफ को सौंपा गया है.

पुलिस ने बताया कि सोमवार शाम पीसीआर को मुंडका इलाके में 25 लाख रुपये की लूट होने की सूचना मिली. पीड़ित ट्रांसपोर्टर संजू ने बताया कि उसकी उड़ान नाम से ट्रांसपोर्ट कंपनी है. वह वारदात के वक्त गोदाम में बने ऑफिस में बैठा था. अचानक चार से पांच नकाबपोश ऑफिस में जबरन घुसे, जिनके हाथों में पिस्टल आदि हथियार थे. उनके कुछ साथी गोदाम के बाहर बाइक पर सवार थे. वह बदमाशों को देखकर कुछ समझ पाता. बदमाशों ने उसको गोली मारने की धमकी देकर वहीं बंधक बना लिया. बदमाशों ने उसकी अलमारी में रखे 25 लाख रुपये लूट लिए.

पुलिस ने वारदात स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज कब्जे में ले ली है. पुलिस का कहना है कि जिस तरह से बदमाशों ने ऑफिस में घुसकर एक ही जगह पर हाथ मारकर 25 लाख रुपये लूटे हैं. उससे लगता है बदमाशों को पैसे किस स्थान पर है उसकी पूरी जानकारी थी.

https://udaipurkiran.in/hindi

बाइक सवार बदमाशों ने युवक को मारी गोली

0

नई दिल्ली, 25 मार्च (उदयपुर किरण). द्वारका जिले के नजफगढ़ इलाके स्थित फर्नीचर मार्केट स्थित इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम में बाइक सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. इस दौरान शोरूम में काम कर रहे एक सेल्समैन के पेट में गोली लग गई. आनन-फानन में उसे द्वारका के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताया है. उधर बदमाश वारदात को अंजाम देने के बाद मैनेजर को 50 लाख की रंगदारी मांगते हुए हुए मौके से फरार हो गए. फिलहाल नजफगढ़ थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पुलिस के अनुसार पीड़ित की पहचान नवीन चौहान(32) के रूप में हुई है. वह नजफगढ़ इलाके में ही अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ रहता है. नवीन नजफगढ़ स्थित एक निजी इलेक्टॉनिक्स शोरूम में सेल्समैन का काम करता है. रोजाना की तरह नवीन व अन्य कर्मचारी शोरूम में ग्राहकों को अटेंड कर रहा था. सोमवार शाम करीब 7ः20 बजे बाइक सवार दो बदमाश शोरूम के दूसरे तरफ सड़क पर आए और दो फायरिंग कर दी. बदमाशों ने वारदात को अंजाम देने के बाद ये कहते हुए फरार हो गए कि अगर शोरूम चलाना है तो 50 लाख देना पड़ेगा.

पुलिस ने बताया कि एक गोली शीशे में जबकि एक गोली नवीन को पेट में लगी. आनन-फानन में लोगों ने नवीन को लहूलुहान हालत में पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां से उसे द्वारका के एक निजी अस्पताल में रेफर कर दिया. फिलहाल डॉक्टरों ने उसकी हालत खतरे से बाहर बताया है. पुलिस ने बताया कि बदमाशों ने मुंह पर कपड़ा लपेटा हुआ था. वारदात के बाद बदमाश ट्रैफिक के विपरित नांगलोई रोड की तरफ फरार हो गए. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

https://udaipurkiran.in/hindi

करोड़ों की हेरोइन के साथ विदेशी महिला गिरफ्तार

0

चंडीगढ़, 25 मार्च (उदयपुर किरण). पंजाब के लुधियाना की थाना सदर खन्ना की पुलिस ने सोमवार शाम नाकाबंदी कर करोड़ों की हेरोइन के साथ एक विदेशी महिला को गिरफ्तार किया है. खन्ना पुलिस अब तक 23 विदेशी नागरिकों को नशीले पदार्थ के साथ गिरफ्तार कर चुकी है. एसएसपी ध्रुव दहिया ने बताया कि एएसआई सखुबीर सिंह की पुलिस पार्टी ने प्रिसटीन मॉल के समक्ष नाकाबंदी की हुई थी. उसी समय सामने से आ रही विदेशी महिला पुलिस की टीम को देख कर पीछे की तरफ भागने का प्रयास करने लगी. जब पुलिस ने उसे रोक कर तलाशी ली तो उसके हाथ में पकड़े पैकेट से सात सौ ग्राम हेरोइन बरामद हुई, जिसकी कीमत करोड़ों रुपये बताई जाती है. पुलिस पूछताछ में विदेशी महिला जनादा ने बताया कि वह इस समय दिल्ली में किराए के मकान में रहती है. वहां के एक नाइजीरियन से मिलकर हेरोइन की सप्लाई करने का काम करती है. आज यह हेरोइन अमृतसर में सप्लाई करने जा रही थी. पुलिस ने उसके खिलाफ मामला दर्ज करके आगे की जांच शुरू कर दी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

पत्नी की हत्या कर शव को शौचालय की टंकी में छुपाया

0

गोपालगंज,25मार्च (उदयपुर किरण). दूसरी महिला के प्रेम में उलझा एक पति ने पत्नी की हत्या कर दी और साक्ष्य मिटाने के लिए शव को शौचालय की टंकी में छुपा दिया. पुलिस ने सोमवार को शव बरामद किया है.इसके बाद पूरे गांव में सनसनी फ़ैल गई. घटना विजयीपुर थाना के सुदामाचक गांव की है.मिली जानकारी के अनुसार उसी थाना के मिश्र बंधौरा गांव के वृजराज कुशवाहा की पुत्री सीता कुमारी की शादी वर्ष 2002 में सुदामाचक गांव के मनोज कुशवाहा के साथ हुई थी. शादी के बाद से उसकी पत्नी के साथ अनबन शुरू हो गया.लेकिन सीता के मायके वाले बार-बार पंचायती के माध्यम से मामला को सलटा देते थे.ग्रामीणों ने बताया कि चार वर्ष पूर्व उसने दूूूूसरी महिला से शादी कर ली थी.उसके बाद पत्नी और उसके मायके के प्रतिकार के बाद उसने दूसरी पत्नी कोछोड़ दिया.वह खाड़ी देश में नौकरी करने चला गया. जहां से छह दिन पूर्व वह घर लौटा और होली के दो दिनों बाद रात में उसकी गला दबाकर हत्या कर दी. विदेश से 19 मार्च को आने के बाद वह तीन दिनों तक पत्नी से मिलजुल कर रहा.पति के अनुसार 23 मार्च की आधी रात दोनों के बीच झगड़ा हुआ और उसके बाद पति ने 36 वर्षीय सीता देवी की गला घोंट कर हत्या कर दी.तथा शव घर के पीछे शौचालय के टंकी में छुपा दिया. हत्या का षड्यंत्र रचने के पूर्व वह 23 मार्च को विजयीपुर पुलिस को एक आवेदन देकर पत्नी पर यह आरोप लगाया था कि दो लाख दस हजार रुपया और गहना लेकर फरार हो गई है. जिसकी जांच पुलिस अभी कर ही रही थी तब तक सीता के मायके वाले भी उसके लापता होने का आवेदन थाना को दिया. मायके के आवेदन के बाद थानाध्यक्ष ने मामले को गंभीरता से लिया, तथा उसके घर पंहुच कर पति से पूछताछ शुरू की. पुलिस के पूछताछ में हत्यारा पति उलझता चल गया. जांच के क्रम में एक सिपाही को शक हुआ कि शौचालय की टंकी के किनारे पानी गिरा हुआ है. तो उसने एक डंडे से शौचालय का ढक्कन हटाना शुरू किया.जिसमे एक बोरा में कुछ रखा हुआ दिखा.जब बोरा बाहर निकाला तो उसमेंसे महिला का शव निकला.

https://udaipurkiran.in/hindi

मुंबई पुल हादसा: नीरज कुमार देसाई की पुलिस हिरासत बढ़ी

0

मुंबई, 25 मार्च (उदयपुर किरण). मुंबई के सीएसटीएम स्टेशन के पास हुए हिमालय पुल हादसे के बाद गिरफ्तार स्ट्रक्चरल ऑडिटर नीरज कुमार देसाई की पुलिस हिरासत सोमवार मुंबई सत्र न्यायालय ने 28 मार्च तक बढ़ा दी. इससे पहले मुंबई सत्र न्यायालय ने नीरज कुमार को 25 मार्च तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया था. नीरज पर पुल के बारे में गलत स्ट्रक्चरल ऑडिट रिपोर्ट देने का आरोप है.

उल्लेखनीय है कि 14 मार्च शाम 7.20 पर हुए पुल हादसे में छह लोगों ने मौत हुई थी, जबकि 31 लोग घायल हुए थे. मामले की जांच में बीएमसी ने अपने दो अभियंताओं को निलंबित किया था और तीन लोगों के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे. पुल की मरम्मत करने वाले ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करते हुए ठेकेदार के खिलाफ गलत रिपोर्ट देने की एफआईआर दर्ज कराई थी. इसके बाद आजाद मैदान पुलिस ने 18 मार्च को नीरज कुमार देसाई को गिरफ्तार किया था. सोमवार को नीरज को मुंबई के सत्र न्यायालय में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने उसे 28 मार्च तक पुलिस हिरासत में भेज दिया.

लगभग दो वर्ष पहले महाड में एक पुल गिरा था. इसके बाद बीएमसी ने अपने सभी पुलों का विविध कंपनियों से स्ट्रक्चरल ऑडिट करवाया था. इसके तहत हिमालयन पुल के स्ट्रक्चरल ऑडिट के लिए डी. डीदेसाई कंपनी को ठेका दिया गया था. बीएमसी का कहना था कि छह महीने पहले कंपनी ने हमें लिखित में दिया कि यह पुल मजबूत है इसे रिपेयरिंग की आवश्यकता नहीं है.

https://udaipurkiran.in/hindi

आईएसआई एजेंट चार दिन की पुलिस रिमांड पर

0

जयपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). जयपुर पुलिस ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट को प्रोडक्शन वारंट पर दिल्ली से गिरफ्तार किया है. राजस्थान के एडीजी (इंटेलीजेंस) उमेश मिश्रा ने सोमवार को बताया कि इटेलीजेंस पुलिस ने आईएसआई के एजेंट मोहम्मद परवेज को प्रोडक्शन वारंट पर दिल्ली से गिरफ्तार किया है. उसको न्यायालय में पेश कर चार दिन की रिमांड पर लिया गया है. दिल्ली के चांदनी महल निवासी परवेज को एनआईए ने टेरर फंडिंग एवं अन्य राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में संलिप्तता के आरोप में गिरफ्तार किया था.

परवेज पिछले 18 वर्षों में 17 बार पाकिस्तान की यात्रा कर चुका है. पाकिस्तान जाने वाले कई एजेंटों और ऑपरेटरों को वह वीजा का प्रबंध करता था. उसको इस कार्य के लिए आईएसआई फंडिंग भी करती थी. जैसलमेर के मिलट्री स्टेशन में पिछले दिनों सेना की गोपनीय जानकारी लीक करने के आरोप में पकड़े गए जवान सोमबीर के मामले में भी परवेज की चार दिनों की रिमांड को इंटेलीजेंस पुलिस की बड़ी कामयाबी मानी जा रही है. परवेज दिल्ली स्थित पाकिस्तानी दूतावास से लोगों को जल्दी वीजा दिलवाने का आश्वासन देकर पासपोर्ट, फोटो तथा रुपये लेता था. इसके बाद लोगों के पासपोर्ट एवं फोटो के आधार पर फर्जी तरीके से सिम कार्ड, मोबाइल सिम विक्रेता रिटेलरों से मिलीभगत कर जारी करवाता था. सिमों को एक्टीवेट कराने के बाद मोबाइल नंबर पाकिस्तानी हैंडलिंग ऑपरेटरों को शेयर कर वाट्सएप डाउनलोड कर गोपनीय कोड भी शेयर करता था. इन भारतीय मोबाइल नम्ब‍रों पर पीआईओ से छद्म नाम से वाट्सअप संचालित कर सेना के जवानों से दोस्ती कर सामरिक महत्व की गोपनीय सूचनाएं प्राप्त की जा रही थीं.

https://udaipurkiran.in/hindi

सगाई टूटने से नाराज होकर हत्या कर सबूत मिटाने के लिए शव को दफनाया

0

अजमेर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). शहर के अलवर गेट पुलिस थाना क्षेत्र में युवक की हत्या कर सबूत नष्ट करने की गरज से शव को जमीन में दफनाने के मामले में पुलिस ने पांच दोस्तों को पकड़ लिया है. आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने गड्ढा खुदवाकर शव को बरामद कर लिया. मृतक के संबंध में एक माह पहले गुमशुदगी दर्ज हुई थी. तब से पुलिस युवक की तलाश में थी. युवक को आखिरी बार जिन दोस्तोें के साथ देखा गया था आखिर हत्या की गुत्थी भी उन्हीं से खुली.

सगाई टूटने से नाराज होकर नितेश नामक युवक ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर मंगेतर के भाई पंकज कोली की हत्या कर दी. धोला भाटा क्षेत्र में रहने वाला पंकज कोली 25 फरवरी से लापता था, जिसकी रिपोर्ट परिजनों ने 28 फरवरी को अलवर गेट थाने में दर्ज करवाई और हत्या की आशंका जताई. मृतक पंकज के भाई पूरण सिंह ने बताया कि आरोपित नितेश के साथ कुछ समय पहले उसकी बहन की सगाई हुई थी लेकिन गलत आचरण के चलते सगाई तोड़ दी गई जिसके बाद नितेश आए दिन झगड़ा करता रहता था और पिछले दिनों बहन की सगाई किसी अन्य युवक के साथ होने पर उसने अपने बदमाश दोस्तों के साथ मिलकर पंकज को मौत के घाट उतार दिया.

पुलिस ने गुमशुदगी और हत्या की आशंका को ध्यान में रखकर तफ्तीश शुरू की और इस मामले में आदतन चोरी के मामले में सामने आने वाले पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया. जिनमें से नितेश, नयन, मीर, कालू, सन्नी शामिल थे. उनसे गहनता से पूछताछ में सामने आया कि इस हत्याकांड में वह भी शामिल हैं और उन्होंने पंकज की गला घोटकर हत्या की और कल्याणीपुरा रेलवे फाटक के नजदीक जमीन में दफना दिया. इस दौरान उन्होंने शव पर नमक के साथ साथ अन्य चीजें भी डाली, जिससे की बदबू न फैले. पुलिस ने गहनता से जांच करते हुए मौका मुआयना किया, जहां शव बरामद कर आरोपियों को गिरफ्तार किया. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

राजस्‍थान में अतिक्रमण को लेकर कलेक्टर- वकील आमने सामने

0

झुंझुनू, 25 मार्च (उदयपुर किरण). झुंझुनू कलेक्टर ऑफिस में अब जिला कलेक्टर रवि जैन और वकील आमने-सामने हो गए है. दरअसल कलेक्टर की गाड़ी के पोर्च से ऑफिस तक के रास्ते में आने वाले बरामदे में वकीलों ने अपने टेबल कुर्सी लगा रखी है. इन वकीलों के पास कई बार परिवादियों की भीड़ होने से रास्ता पूरी तरह से जाम हो जाता है, जिससे ना केवल कलेक्टर के जाने के लिए, बल्कि अन्य कार्मिकों, अधिकारियों और परिवादियों के आने-जाने में भी समस्या होती है. कलेक्टर रवि जैन ने इस समस्या के समाधान को लेकर ना केवल जिला जज, बल्कि वकीलों से बातचीत की. इसके बाद नोटिस जारी किया गया तो इस रास्ते से कई वकीलों ने अपने टेबल कुर्सी हटा ली. जिसके बाद इसकी मरम्मत का काम भी शुरू करवा दिया गया.

लेकिन आज अचानक एक-दो वकीलों फिर से टेबल कुर्सी लगाई तो कलेक्टर रवि जैन ने उन्हें टोका. इसके बाद मामला बिगड़ गई और वकीलों ने इस मामले में कलेक्टर पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाते हुए आपात बैठक बुलाई और कहा कि वे कलेक्टर के खिलाफ आंदोलन करेंगे. इधर, कलेक्टर ने वास्तविक समस्या की बात बताते हुए कहा कि वकील इस सुविधा को बनाए रखने में सहयोग देने की बजाय आंदोलन की धमकियां दे रहे है जो सही नहीं है. मामले की गंभीरता को देखते हुए नगर परिषद ने पुलिस जाब्ते की मौजूदगी में कई वकीलों के टेबल कुर्सी भी हटाए और फिर से बरामदे में मरम्मत का काम शुरू किया. जिला कलेक्टर रवि जैन ने बताया कि बरामदे में इस तरह से टेबल कुर्सी लगी हुई है कि आम आदमी भी उनके पास आ-जा नहीं सकता. जबकि अब चुनावों में उनके ऑफिस में ना केवल गहमागहमी रहेगी, बल्कि ईवीएम मशीनें व अन्य सामग्री भी आएंगी. ऐसे में इस क्षेत्र को संवेदनशील एरिया में समझा जा सकता है, इसलिए पहले जिला जज के अलावा वकीलों से बातचीत की गई थी. साथ ही बरामदे की मरम्मत का काम भी चल रहा है.वहीं बरामदे के हालात यह है कि बरामदे में बिजली के तार भी खुले हुए पड़े है. जिनसे कभी भी हादसा हो सकता है.

जब इसके बारे में बातचीत की गई तो वकील समझने की बजाय आंदोलन की धमकी दे रहे हैं. बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय ओला ने कहा है कि सोमवार को जो कलेक्टर ने कार्रवाई की है. उसके खिलाफ निंदा प्रस्ताव लिया गया है. साथ ही पैन डाउन किया गया है, यदि कलेक्टर ने अपने रवैये में सुधार नहीं किया तो यह आंदोलन राज्य स्तर पर ले जाया जाएगा.साथ ही कलेक्टर के कोर्ट के बहिष्कार के निर्णय लिए जाने के अलावा पूरे प्रदेश के वकील, अपने परिवार सहित चुनावों का बहिष्कार का भी निर्णय ले सकते हैं. वकीलों द्वारा कलेक्टर ऑफिस जाने वाले रास्ते पर रखे गए टेबल कुर्सी के विरोध में अब जिले के अधिकारी और कलेक्ट्रेट कर्मचारी भी आ गए है. दिन में जहां वकीलों ने नारेबाजी कर कलेक्टर की कार्रवाई का विरोध किया. वहीं शाम को कलेक्टर के जरिए जिला एवं सेशन न्यायाधीश के नाम अधिकारियों और मंत्रालयिक कर्मचारियों ने भी अलग-अलग ज्ञापन दिए. जिसमें उन्होंने कलेक्टर ऑफिस जाने की पीड़ा बताते हुए कहा है कि कलेक्टर ऑफिस जाने वाले रास्ते को सुगम बनाया जाए. ताकि ना केवल अधिकारी और कर्मचारी, बल्कि आमजन भी राहत महसूस कर सके.

https://udaipurkiran.in/hindi

महिला कांस्टेबल का आपत्तिजनक वीडियो बनाया

0

जोधपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). कमिश्नरेट पुलिस की एक महिला कांस्टेबल का आपत्तिजनक वीडियो बनाए जाने का मामला सामने आया है. इसने शास्त्रीनगर थाने में तीन चार लोगों के खिलाफ नाजमद रिपोर्ट दी है. इस वीडियो को वाट्सअप पर डाले जाने की बात भी बताई है. पुलिस ने आईटी एक्ट में प्रकरण दर्ज कर तफ्तीश आरंभ की है.

शास्त्रीनगर पुलिस ने बताया कि सरकारी क्वार्टर में रहने वाली एक महिला कांस्टेबल ने यह रिपोर्ट दी. इसमें बताया कि सियागों की ढाणी कोजा निवासी हड़मान पुत्र हरलाल और उसके दो तीन साथियों ने उसका एक वीडियो बनाकर वाट्सअप पर वायरल कर दिया. इससे उसे मानसिक हानि पहुंचने के साथ परेशानी का सामना करना पड़ा है. पुलिस ने आईटी एक्ट में मामला दर्ज किया है.

https://udaipurkiran.in/hindi

AGUSTA WESTLAND CASE: ईडी को अभियोजन में मदद करेगा आरोपित राजीव सक्सेना

0
Agusta westland case- Rajeev saxena

-पटियाला हाउस कोर्ट ने राजीव सक्सेना को दी सरकारी गवाह बनने की अनुमति

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला मामले में आरोपित और दुबई की यूएचवाई नामक कंपनी के निदेशक राजीव सक्सेना ईडी को अभियोजन में मदद करेगा. दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने राजीव सक्सेना को सरकारी गवाह बनने की अनुमति दे दी है.

इस मामले में राजीव सक्सेना को कोर्ट माफ कर सकती है और अगर राजीव सक्सेना को दोषी पाती है तो बहुत कम सजा होगी. पिछले 14 मार्च को ईडी ने राजीव सक्सेना की सरकारी गवाह बनने की अर्जी का समर्थन किया था.

सुनवाई के दौरान ईडी की ओर से स्पेशल पब्लिक प्रॉसिक्युटर डीपी सिंह ने कहा था कि राजीव सक्सेना का सरकारी गवाह बनना हमारे लिए मददगार साबित होगा. वे एक महत्वपूर्ण गवाह होंगे. यही वजह है कि हम राजीव सक्सेना के सरकारी गवाह बनने की अर्जी का समर्थन कर रहे हैं.

इसलिए उन्हें माफ कर दिया जाए. कोर्ट ने पिछले 6 मार्च को राजीव सक्सेना का बयान दर्ज किया था. राजीव सक्सेना के बयान दर्ज होने के बाद स्पेशल जज अरविंद कुमार ने ईडी से जवाब तलब किया था.

पिछले 28 फरवरी को राजीव सक्सेना ने स्पेशल जज अरविंद कुमार को बताया था कि सरकारी गवाह बनने के लिए उस पर कोई दबाव नहीं है. इसके लिए उसे कोई पेशकश भी नहीं की गई है और न ही वह ऐसा चाहता है.

राजीव सक्सेना ने कहा कि उसने सरकारी गवाह बनने का फैसला काफी सोच विचार के बाद लिया है. उसके बयान दर्ज होने के बाद प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) ने कहा कि वो इस मामले पर अपना दवाब दाखिल करेंगे.

उसके बाद स्पेशल कोर्ट ने एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल के समक्ष आज बयान दर्ज कराने का निर्देश दिया था. पिछले 25 फरवरी को कोर्ट ने राजीव सक्सेना को नियमित जमानत दी थी.

राजीव सक्सेना ने स्वास्थ्य वजहों से जमानत की मांग की थी. पिछले 14 फरवरी को कोर्ट ने राजीव सक्सेना को अंतरिम जमानत दी थी. पिछले 12 फरवरी को कोर्ट ने राजीव सक्सेना को 18 फरवरी तक की न्यायिक हिरासत में भेजा था.

कोर्ट ने राजीव सक्सेना का एम्स में मेडिकल परीक्षण कराने का आदेश दिया था. सुनवाई के दौरान राजीव सक्सेना ने कहा कि उसे ल्युकेमिया की बीमारी है. उसे अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत है.

पिछले 31 जनवरी को कोर्ट ने राजीव सक्सेना को ईडी हिरासत में भेजा था. राजीव सक्सेना को प्रत्यर्पित कर 31 जनवरी को भारत लाया गया था जिसके बाद प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) ने 31 जनवरी की सुबह ही गिरफ्तार किया था.

राजीव सक्सेना की पत्नी शिवानी सक्सेना को पटियाला हाउस कोर्ट ने पिछले 11 जनवरी को 15 दिनों के लिए दुबई जाने की अनुमति दी थी. ईडी ने शिवानी को 17 जुलाई 2017 को चेन्नई से गिरफ्तार किया था.

शिवानी मैट्रिक्स होल्डिंग्स के अलावा दुबई की यूएचवाई नामक कंपनी की भी डायरेक्टर है. रिश्वत देने के लिए अगस्ता वेस्टलैंड से जो 58 मिलियन यूरो की जो रकम आई थी वो दो तीन कंपनियों से होकर आई थी. इन कंपनियों में शिवानी की यूएचवाई और मैट्रिक्स होल्डिंग भी शामिल थीं. राजीव और शिवानी को ईडी ने पटियाला हाउस कोर्ट में मनी लाउंड्रिंग के मामले में आरोपित बनाया है.

https://udaipurkiran.in/hindi

भूखण्ड विवाद में खाप पंचायत ने पांच परिवारों को किया समाज से बहिष्कृत

0

भीलवाड़ा, 25 मार्च (उदयपुर किरण). भीलवाड़ा जिले में आधुनिक दौर में भी अशिक्षा के चलते खाप पंचायतों के बोझ तले दबकर कुछ परिवार टूट रहे हैं. खाप पंचायतों के पंच-पटेलों के फैसलों से परेशान लोग अब कोर्ट और पुलिस की शरण जा रहे हैं. ऐसा ही एक मामला माण्डल तहसील के आरजियां ग्राम पंचायत के कीर खेड़ा ग्राम में सामने आया जहां एक परिवार के भूखण्ड विवाद में बीच पड़े पंच-पटेलों और खाप पंचायतों का फैसला नहीं माना तो पांच परिवारों को खाप पंचायत ने पांच साल के लिए समाज से बहिष्कृत कर उनका हुक्का-पानी बंद कर दिया. यही नहीं परिवार पर खाप पंचायत ने एक लाख रुपये का अर्थदण्ड भी लगाया.

खाप पंचायत इस मामले में अपना फैसला परिवार पर लाद रहा है जबकि उस मामले में पहले ही भूखण्ड का विवाद कोर्ट में विचाराधीन है. आरजिया ग्राम पंचायत के कीर खेड़ा में रहने वाले बंशीलाल कीर का उसके चेचरे भाईयों के साथ भूखण्ड का विवाद करीब एक दशक से चल रहा है. इसी भूखण्ड के विवाद को लेकर भीलवाड़ा तहसीलदार ने अपना फैसला बंशीलाल के पक्ष में सुना दिया. जिसके खिलाफ उसका चेचरा भाई ने जिला मजिस्ट्रेट कोर्ट में निगरानी दायर कर रखी है. इसी बीच चचेरे भाई ने यह मामला कीर समाज के पंचों के सामने रखा. 27 फरवरी को कीर खेड़ा माता जी मन्दिर के बाहर जाति पंचायत बैठी और पंचों ने विचार-विमर्श के बाद देर रात फैसला सुना दिया. तुगलकी फरमान सुनाते हुए खाप पंचायत ने यह विवादित भूखण्ड चचेरे भाई को देने का फरमान बंशीलाल का सुनाया.

बंशीलाल ने जब इस पर आनकानी की तो पंच-पटेलों ने सर्वसम्मत्ति से बंशीलाल सहित उसके पांचों भाइयों को समाज से बाहर कर दिया और उनका हुक्का-पानी बन्द करते हुए पूरे समाज को पाबन्द कर दिया कि उससे कोई भी सम्बन्ध नहीं रखे. पीड़ित परिवार की बहू केशीबाई कीर का कहना है कि पंचों ने हमारे पीहर पक्ष पर भी पाबन्दी लगा दी है कि यदि वह हमें अपने घर बुलाएंगे तो उन पर 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जायेगा. इसके कारण अब हम अपने पीहर भी नहीं जा रहे है. इस मामले में माण्डल थाना चौकी प्रभारी राजेश कुमार ने सोमवार को कहा कि पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है और जांच जारी है.

https://udaipurkiran.in/hindi

देश की सबसे सुरक्षित जेल जोधपुर विचाराधीन बंदियों के पास मिले मोबाइल

0

जोधपुर, 25 मार्च (उदयपुर किरण). केंंद्रीय कारागाह में तलाशी में विचाराधीन दो बंदियों के पास से मोबाइल बरामद हुए है. दोनों मोबाइल जब्त कर पुलिस ने तफ्तीश आरंभ की है. रातानाडा थाने में इस बाबत मामला दर्ज किया गया है. रातानाडा पुलिस ने बताया कि केंद्रीय कारागाह में इन दिनों तलाशी अभियान चल रहा है. वार्ड नंबर सात के विचाराधीन बंदी 9 ब्लॉक कुड़ी भगतासनी निवासी संजय उर्फ लंबू पुत्र हरिशचंद सिंधी एवं कुड़ी भगतासनी त्रिवेणी नगर निवासी राहुल गुर्जर उर्फ दीपक पुत्र कालूराम के पास से तलाशी में दो मोबाइल बरामद किए गए. जेल प्रहरी माधवानंद शर्मा की तरफ से रातानाडा पुलिस थाने में इस बाबत मामला दर्ज करवाया गया. अनुसंधान किया जा रहा है.

https://udaipurkiran.in/hindi