Home Blog Page 137

मुजफ्फरनगर दंगों की वजह बने कवाल कांड में सात दोषी करार

0

मुजफ्फरनगर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). वर्ष 2013 में पूरे देश को हिला देने वाले मुजफ्फरनगर दंगों की वजह बने कवाल कांड में अदालत ने सात आरोपितों को दोषी करार दिया है. अब अदालत इस मामले में आठ फरवरी को सजा सुनाएगी.  27 अगस्त 2013 में मुजफ्फरनगर जनपद के कवाल गांव में मलिकपुरा गांव के दो ममेरे भाइयों सचिन व गौरव की हत्या कर दी गई थी. इससे पहले कवाल में लड़कियों के साथ छेड़छाड़ को लेकर शाहनवाज की हत्या हुई थी. इसके बाद ही मुजफ्फरनगर समेत पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दंगे भड़क उठे थे. सचिन व गौरव हत्याकांड का मामला मुजफ्फरनगर केएडीजे 7 की अदालत में चल रहा था.

अधिवक्ता अनिल जिंदल ने बताया कि इस मामले में मृतक गौरव के पिता रविंद्र ने जानसठ कोतवाली में कवाल निवासी मुजस्सिम, मुजम्मिल, नदीम, फुरकान, अफजाल, जहांगीर, इकबाल व शाहनवाज (मृतक) के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था. जबकि मृतक शाहनवाज के पिता सलीम ने दोनों मृतकों सचिन, गौरव और उनके परिजनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था. इस मामले में बनाई गई एसआईटी ने जांच के बाद शाहनवाज हत्याकांड में फाइनल रिपोर्ट दे दी थी और सचिन-गौरव हत्याकांड में पांच लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी. इस मामले की सुनवाई एडीजे 7 हिमांशु भटनागर की अदालत में चल रही है.

बुधवार को अदालत ने सातों आरोपितों को दोषी करार दिया. पांच आरोपी मुजस्सिम, मुजम्मिल, फुरकान, नदीम व जहांगीर जेल में बंद हैं. जबकि अफजाल व इकबाल जमानत पर बाहर हैं. अदालत इस मामले में आठ फरवरी को फैसला सुनाएगी.

http://udaipurkiran.in/hindi

बावड़ी में फांसी पर लटकी मिली युवक की लाश

0

रतलाम, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). जिले के नामली थाने के ग्राम सेमलिया में बुधवार सुबह उस वक्त हडकंप मच गया जब एक युवक की लाश गांव के ही एक बावड़ी में फांसी के फंदे पर लटकी मिली. पुलिस शव को बरामद कर मौत के कारणों की जांच में जुट गई है.

जानकारी के अनुसार सेमलिया निवासी नरेन्द्र पिता नरेश उम्र 19 वर्ष की लाश बुधवार सुबह सेमलिया नेगडदा रोड़ स्थित एक प्राचीन बावडी में फांसी के फंदे पर लटकी मिली. बताया जाता है कि युवक अपने खेत पर बने मकान पर सोता था. सूचना मिलते ही नामली थाना पुलिस और एफएसएल अधिकारी अतुल मित्तल मौके पर पहुंचे. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. ग्रामीणों के अनुसार मृतक का बीती रात कुछ लोगों से विवाद होने की बात भी सामने आ रही है. पुलिस जांच के बाद ही मामला पूरी तरह स्पष्ट हो सकेगा.

http://udaipurkiran.in/hindi

छात्रा को मारी थप्पड़, कान में आई दिक्कत, शिकायत पर मामला दर्ज

0

जींद, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). सफीदों के शंकराचार्य कान्वेंट स्कूल में एक अध्यापिका के कथित रूप से छात्रा को थप्पड़ मारने के बाद उसके कान में दिक्कत आ गई है. सफीदों थाना पुलिस ने छात्रा की शिकायत पर स्कूल प्राचार्य तथा अध्यापिका के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

कान्वेंट पब्लिक स्कूल में पढ़ने वाली सफीदों वार्ड नम्बर 16 निवासी अनुष्का ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि गत चार फरवरी को स्कूल में अध्यापिका उषा ने उसको कान पर थप्पड़ मारा, जिसके चलते उसके कान में दिक्कत हो गई. शिकायत करने पर स्कूल प्राचार्य अमित न तो कोई संतोषजनक जवाब दिया और न ही अध्यापिका के खिलाफ कोई कार्रवाई की. बताया जाता है कि छात्रा ने कान का ऑप्रेशन करवाया हुआ था, जिसके चलते यह दिक्कत हुई. सफीदों थाना के जांच अधिकारी महेंद्र सिंह ने बताया कि छात्रा अनुष्का की शिकायत पर प्राचार्य अमित तथा अध्यापिका ऊषा के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

http://udaipurkiran.in/hindi

बस-ट्रैक्टर की टक्कर में 55 घायल

0

मेदिनीपुर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). पश्चिम मेदिनीपुर जिले के 60 नंबर राजमार्ग पर बुधवार को बस और ट्रैक्टर की टक्कर में 55 लोग घायल हो गए. घायलों को मेदिनीपुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया. इस दुर्घटना में बस चालक व खलासी भी घायल हो गये. दुर्घटना के कारण यातायात कुछ देर तक बाधित रही.

घायलों में से 15 लोगों को गंभीर चोटें आई है. अस्पताल सूत्रों के अनुसार घायलों में से कुछ को हल्की चोटें आई थी, जिन्हें प्राथमिक चिकित्सा के बाद छोड़ दिया गया है. बाकी घायलों का इलाज चल रहा है. बस चालक एवं खलासी दोनों की हालत गंभीर बनी हुई है. पुलिस एवं स्थानीय सूत्रों के अनुसार दुर्घटनाग्रस्त बस कसबा-सारंगा रूट की थी. बस कसबा से मेदिनीपुर होते हुए बर्दवान जिले के सारंगा की ओर जा रही थी. उसी समय पश्चिम मेदिनीपुर जिले के 60 नंबर राजमार्ग पर यह दुर्घटना हुई. स्थानीय लोगों ने घायलों को बरामद कर अस्पताल पहुंचाया तथा कोतवाली थाना की पुलिस को खबर दी. सूचना पाकर पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर मौका मुआयना किया.

http://udaipurkiran.in/hindi

बीएचयू कला संकाय में छात्रों के दो गुटों में जमकर मारपीट, तीन घायल

0

वाराणसी,07 फरवरी (उदयपुर किरण). काशी हिन्दू विश्वविद्यालय परिसर में बुधवार को फिर छात्रों के दो गुट आपस में भिड़ गये. मारपीट में तीन छात्र जख्मी हो गये. सूचना पर मौके पर प्राक्टोरियल बोर्ड के जवानों के साथ पुलिस भी पहुंच गई.

सूत्रों ने बताया कि कला संकाय परिसर में इन दिनों चार दिवसीय ‘संस्कृति’ युवा महोत्सव कार्यक्रम चल रहा हैं. कार्यक्रम के दौरान छात्रों के एक गुट ने प्रतिभागियों पर कुछ टिप्पणी कर दी. इससे नाराज छात्रों के गुट आपस में ही भिड़ गये. दोनों गुटों के बीच मारपीट से वहां अफरा-तफरी मच गई. मारपीट में एक छात्र का सिर फुट गया दो अन्य भी घायल हो गये. सूचना पर पहुंचे सुरक्षा कर्मियों ने किसी तरह छात्रों को अलग किया. लंका पुलिस ने छात्रों के दोनो गुटों को समझा बुझा कर मामला शांत कराया. इसके बाद घायल छात्रों को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भेजा गया.

http://udaipurkiran.in/hindi

नियमों का पालन नहीं करने से होते हैं ज्यादातर सड़क हादसे

0

नई दिल्ली, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). अमेरिका जैसे विकसित देशों के मुकाबले भारत में वाहनों की संख्या बहुत कम है लेकिन फिर भी यातायात नियमों का पालन नहीं करने और लापरवाही के कारण मरने वालों की संख्या उन देशों की तुलना में कहीं अधिक है. आंकड़ों के अनुसार भारत में हर साल सड़क हादसों में डेढ़ लाख लोग मारे जाते हैं यानी 400 लोग प्रतिदिन. इसमें से करीब 40 प्रतिशत हादसे के शिकार लोग पैदल यात्री होते हैं. विशेषज्ञों का मानना है कि यातायात के नियमों का सही ढंग से पालन हो तो सड़क हादसों में होने वाली मौतों को कम किया जा सकता है.

इस विषय पर मंगलवार को राजधानी दिल्ली में ‘ऑटोमोबाइल एंड मैन्युफैक्चरर’ द्वारा सेमिनार आयोजित किया गया. ट्रैफिक पुलिस के संयुक्त पुलिस आयुक्त ताज हसन के अनुसार देशभर में सड़क हादसों में मरने वाले लोगों में 40 प्रतिशत राहगीर, 30 प्रतिशत दोपहिया चालक और बाकी 30 प्रतिशत बड़े वाहन चालक होते हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली में तेज रफ्तार वाहन, धीमी रफ्तार के वाहन, पैदल चलने वाले, तांगा, बैलगाड़ी, साइकिल आदि के लिए एक ही सड़क है. ट्रैफिक पुलिस का एक काम सड़क से जाम हटवाना है ताकि वाहन आराम से चलते रहें लेकिन खाली जगह मिलते ही लोगों के वाहन की रफ्तार बढ़ जाती है और इसके साथ ही सड़क हादसों में मरने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ जाती है.

यातायात नियम का पालन करें तो कम होगी घटना

उन्होंने कहा कि अगर लोग खुद यातायात नियम का पालन करे तो इन हादसों की संख्या में कमी लायी जा सकती है. उन्होंने कहा कि दिल्ली की बात करें तो यहां लोग वहीं ट्रैफिक नियम का पालन करते हैं, जहां पुलिसकर्मी खड़ा हो. जहां ट्रैफिक पुलिस कर्मी नहीं दिखता तो लोग यातायात नियमों की धज्जियां उड़ाने में पीछे नहीं हटते हैं. लाल बत्ती जम्प करना, बिना हेलमेट दुपहिया चलाना, बिना सीट बेल्ट के गाड़ी चलाना, जिग-जैक करके गाड़ी चलाना लोगों शौक बन जाता है. दिल्ली के प्रत्येक कोने में ट्रैफिक पुलिस को खड़ा नहीं किया जा सकता. इसलिए लोगों को स्वंय ट्रैफिक नियमों का पालन करना होगा. जिस दिन लोगों ने खुद ट्रैफिक नियमों का पालन करना शुरू कर देंगे, उसी दिन सड़क हादसों में मरने वाले लोगों की संख्या कम होनी शुरू हो जाएगी.

ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार हादसों को लेकर रिसर्च होती रहती है. इस को आधार मानकर रणनीति तैयार कर हादसे कम करने के प्रयास किए जाते हैं. अधिकारी के अनुसार हादसों केा प्रमुख कारण सड़क का खराब होना, सड़क बनाने में इंजीनियरिंग दोष, लाइट की कमी, चालक का सही से प्रशिक्षित नहीं होना, गाड़ी की फिटनेस खराब होना और विभिन्न एजेंसियों के बीच तालमेल की कमी है.

http://udaipurkiran.in/hindi

भाजपा नेता सहित दो घरों से दस लाख की चोरी

0

जौनपुर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). जलालपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत सेहमलपुर गांव में मंगलवार देर रात चोरों ने भाजपा मंडल अध्यक्ष सहित दो घरों से नौ लाख के जेवरात और एक लाख नकदी पर हाथ साफ कर दिया. बुधवार सुबह सूचना पर पहुंची जलालपुर पुलिस तथा डॉग स्क्वायड की टीम ने काफी छानबीन की, लेकिन चोरों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा.

सरकोनी ब्लॉक के भाजपा मंडल अध्यक्ष सभा नारायण पाठक के घर में चोर छत के रास्ते अंदर दाखिल हुए. चोरों ने पाठक की बहू के कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया. इसके बाद अलमारी का ताला तोड़कर उसमें रखे एक लाख नकद व आठ लाख के जेवरात समेट ले गए. सुबह जब भाजपा नेता की बहू ने दरवाजा खोल तो वह नहीं खुला. उसने आवाज देकर बाहर सो रहे परिजनों को बुलाया. परिजन अन्दर गए और बाहर से दरवाजा बंद देखकर दंग रह गए. सिटकनी को खोलकर बहू को बाहर निकाला और बगल के कमरे का ताला टूटा देख परिजनों के होश उड़ गए.

कमरे के अंदर जाने पर पता चला की अलमारी में रखी नकदी और जेवरात गायब हैं. इसकी सूचना मंडल अध्यक्ष ने पुलिस को दी. सूचना मिलते ही इंस्पेक्टर देवतानन्द सिंह मौके पर मय फोर्स के साथ पहुंच गए और डॉग स्क्वॉयड टीम को बुलाया. डाग स्क्वॉयड टीम ने खोजी कुत्ते की मदद से जांच शुरू की. खोजी कुत्ता मंडल मकान के बगल के खेत से होते हुए लगभग 400 मीटर दूर राम दवर यादव की दुकान के पास जाकर रुक गया. पुलिस उसी के आसपास के लोगों पर शक कर रही है.

वहीं, रात में चोरो ने मंडल अध्यक्ष के घर से लगभग 500 मीटर दूर संतोष चौरसिया के घर को निशाना बनाया. चोर चैनल का ताला तोड़कर घर के अंदर घुसे और कमरे में रखी अटैची, बक्सा आदि सामान उठा ले गए. सुबह घर से कुछ ही दूरी पर खेत में खाली बक्सा और अटैची मिली. उसमें रखे एक लाख के जेवरात निकालकर चोर अटैची, बक्सा व कपड़े खेत में छोड़कर भाग गए. पुलिस चोरों को जल्द गिरफ्तार करने का दावा कर रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

अलग-अलग इलाकों में दो युवतियों के साथ दुष्कर्म

0

नई दिल्ली, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). दिल्ली के दो अलग-अलग इलाकों दो युवतियों के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. पुलिस ने दोनों मामलों में केस दर्ज कर लिया है.

पहली घटना द्वारका जिले के नजफगढ़ इलाके की है, जहां 28 वर्षीय महिला परिवार के साथ नजफगढ़ में रहती है. पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित ने बताया कि दोपहर में वह फैक्टरी में काम कर रही थी. इसी बीच फैक्टरी में काम करने वाला एक कर्मचारी आया और उसके साथ जबरन दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया. आरोपित ने फैक्टरी के स्टोर रूम में वारदात को अंजाम दिया. विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी और मौके से फरार हो गया. पीड़ित ने हिम्मत कर मामले की सूचना पुलिस को दी.

दूसरी घटना बाहरी दिल्ली के रनहौला इलाके की है. यहां नौकरी का झांसा देकर एक युवती के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है.पुलिस सूत्रों के अनुसार 28 वर्षीय पीड़िता परिवार के साथ मदनपुर खादर में रहती है. पुलिस को शिकायत में पीड़ित ने बताया कि एक जानकार द्वारा उसे राहुल नामक व्यक्ति का नम्बर मिला. पीड़ित ने राहुल से नौकरी लगवाने की बात कही, जिसपर आरोपित ने उसे रनहौला बुलाया. पीड़ित का आरोप है कि आरोपित के ऑफिस में जाने के बाद उसे पीने के लिये शीतल पेय दिया. उसे पीते ही वह बेहोश हो गई. जब होश आया तो पता चला कि उसके साथ दुष्कर्म हुआ है. आरोपित ने पीड़ित की अश्लील वीडियो भी बनाई. पीड़ित का आरोप है कि आरोपित ब्लैकमेल कर उसके साथ दोबारा दुष्कर्म करने व रुपये की मांग करने लगा. पीड़ित ने हिम्मत कर मामले की सूचना पुलिस को दी.

http://udaipurkiran.in/hindi

परेशान होकर लगाई थी मजदूर ने फांसी, 13 पर केस दर्ज

0

फतेहाबाद, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). रतिया के एक व्यक्ति द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने के मामले में नया मोड़ आया है. उसके भाई ने पुलिस को शिकायत देकर कुछ लोगों पर उसके भाई को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है.

पुलिस ने मृतक के भाई बंती राम निवासी गांव लाली की शिकायत पर सोनी देवी, उसके पति लखविन्द्र सिंह, केवल, हरपाल, सतपाल, सरोज रानी, सर्वजीत कौर, अंगे्रज, हरबंस सिंह, राजूराम, जंट सिंह व नेकीराम के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में केस दर्ज किया है. पुलिस को दी शिकायत में बंतीराम ने बताया कि उसका भाई केवल सिंह मजूदरी का काम करता था. उसने बताया कि गांव की सोनी नामक महिला उसके भाई से मोबाइल पर बात करती थी और उसके साथ ही सरोज रानी भी उसके भाई से बात करने का प्रयास करती थी.

इस बात की जानकारी जब उपरोक्त अन्य लोगों को हुई तो उन्होंने उसके भाई के खिलाफ छेड़छाड़ का झूठा केस दर्ज करवा दिया, जिससे उसका भाई परेशान रहने लगा. केस दर्ज होने के बाद भी सोनी देवी उसके भाई से फोन पर बात करती थी और उसे धमकियां दी जाती थी. इसी को लेकर उसका भाई 4 अप्रैल 2018 को घर से गायब हो गया. 6 अप्रैल को उसका शव पेड़ पर लटका मिला. उसने बताया कि उक्त लोगों से परेशान होकर ही उसके भाई ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया. इस मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

http://udaipurkiran.in/hindi

नेपाल बार्डर से लाई जा रही चरस की बड़ी खेप पुलिस ने पकड़ी

0

झज्जर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). झज्जर पुलिस को लाखों रुपए मूल्य की चरस की एक बड़ी खेप पकडऩे में सफलता हासिल हुई है. चरस का कुल वजन करीब 8 किलो था और इसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में मूल्य लाखों रुपए में आंका गया है. आरोपी को गिरफ्तारी के बाद अदालत में पेश किया गया जहां से आरोपी को चौदह दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. जानकारी अनुसार झज्जर अपराध शाखा को एक गुप्त सूचना मिली थी कि झज्जर गुरूग्राम मार्ग पर एक गाड़ी में एक आरोपी लाखों की चरस नेपाल बार्डर से लेकर आया है और उसे वह सप्लाई करने की फिराक में है.

इसी सूचना के आधार पर पुलिस ने आरोपी को पकडऩे का जाल बिछाया. इसी के चलते अपराध शाखा की एक टीम यहां गुरुग्राम मार्ग पर नाकाबंदी कर वाहनों की निगरानी करने लगी. उसी समय पुलिस को एसएक्स फॉर कार नम्बर डीएल-13 सी-3648 आती दिखाई दी. डे्रन नम्बर 8 के पुल के पास जैसे ही पुलिस की इस टीम ने शक की बिनाह पर उक्त कार को रूकवाया और तलाशी ली गई तो पुलिस को कार से 8 किलोग्राम चरस बरामद हुई. पूछताछ में आरोपी ने इस चरस को नेपाल बार्डर से लाए जाने की बात कबूल की और यह भी स्वीकार किया कि वह इस चरस को बाजार में सप्लाई करने के लिए निकला था. आरोपी की पहचान गांव चिड़ी जिला रोहतक निवासी सत्यनारायण पुत्र रामफल के रूप में हुई है.

बरामद चरस का मौका पर वजन किया गया तो 08 किलो 100 ग्राम पाया गया. तस्करी करके लाई गई चरस के साथ पकड़े गए आरोपी के खिलाफ मादक पदार्थ अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए थाना सदर झज्जर में मामला दर्ज किया गया. भारी मात्रा में चरस के साथ पकड़े गए आरोपी ने प्राथमिक पूछताछ में तीन अन्य मामलों का भी खुलासा किया. आरोपी ने खुलासा करते हुए बताया कि उसके खिलाफ नशीले पदार्थ अधिनियम के तहत हांसी जिला हिसार में मामला दर्ज हुआ था. जिसमें अदालत ने ऊसर दोषी ठहराते हुए उसे 10 साल की सजा सुनाई थी. 3 साल की सजा काटने के पश्चात माननीय पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट से उसे जमानत मिली थी. जो फिलहाल वह उपरोक्त मामले में जमानत पर जेल से बाहर आया हुआ था. इसके अतिरिक्त उसके खिलाफ चरस का एक मामला झज्जर तथा एक मामला रोहतक में भी दर्ज है. वह बरामद की गई चरस की इस खेप को नेपाल बॉर्डर से लाया था और रोहतक की तरफ जा रहा था.

http://udaipurkiran.in/hindi

कार्यपालक सहायक को गोली मारने के मामले में प्राथमिकी दर्ज

0

छपरा,07 फरवरी (उदयपुर किरण). सारण जिले के खैरा थाना क्षेत्र के रामपुर फुटानी बाजार के पास छपरा- मढौरा पथ पर कार्यपालक सहायक को गोली मारने के मामले में अज्ञात अपराधियों के खिलाफ गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज की गयी. इस मामले में घायल का बयान दर्ज करने के लिए खैरा थाना के पुलिस अवर निरीक्षक मिथिलेश कुमार को बुधवार की रात में ही पीएमसीएच पटना भेजा गया था. रात में ही बयान दर्ज कर पुलिस अवर निरीक्षक गुरुवार की सुबह वापस लौटे.

घायल कार्यपालक सहायक निर्भय नारायण सिंह के बयान पर दर्ज की गई प्राथमिकी में कहा गया है कि वह बुधवार की शाम को साढ़े पांच बजे लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी मढौरा अनुमंडल से वापस लौट रहे थे. इसी दौरान फुटानी बाजार के पास अज्ञात अपराधियों ने गोली मार दी. गोली उन्हें पीछे से मारी गई. गोली लगने के बाद वह अपनी बाइक रोकते और पीछे मुड़कर देखते, तब तक अपराधी फरार हो गए और गोली लगने के कारण व बाइक रोकने के बाद सड़क किनारे गिर पड़े. पीछे से मढौरा अनुमंडल में कार्यरत कार्यपालक सहायक राहुल कुमार तथा अर्जुन कुमार भी आ रहे थे और दोनों ने सड़क किनारे खून से लथपथ हालत में निर्भय नारायण सिंह को देखा तो, उठाकर इलाज के लिए छपरा सदर अस्पताल में पहुंचाया.

इस संबंध में पूछे जाने पर पुलिस अधीक्षक हर किशोर राय ने बताया कि घायल कार्यपालक सहायक निर्भय नारायण सिंह के मोबाइल का कॉल डिटेल्स खंगाला जा रहा है. इस घटना के खुलासा होने की संभावना है. फिलहाल घायल का इलाज पीएमसीएच पटना में चल रहा है और उसे रीढ़ की हड्डी में गोली लगी है. गोली हड्डी में फंसी हुई है, जिसका ऑपरेशन आज किए जाने की संभावना है. उसकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है.

http://udaipurkiran.in/hindi

यासीन मलिक को पुलिस ने लिया हिरासत में

0

जम्मू, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). जम्मू-कश्मीर लिबरेशान फ्रंट (जेकेएलएफ) के चेयरमैन तथा अलगाववादी नेता यासीन मलिक को बुधवार को पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया है. राजनीतिक नेताओं को जेलों से रिहा करने को लेकर किए जा रहे प्रदर्शन मार्च के दौरान पुलिस ने यासीन मलिक को हिरासत में लिया है. एक प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार पुलिस ने यासीन मलिक को उनके अवि गुजार कार्यालय के बाहर बड़ी संख्या में समर्थकों के साथ किए जा रहे मार्च के दौरान हिरासत में लिया. यासीन मलिक को कोठीबाग पुलिस थाने ले जाया गया है.
वहीं जाइंट रेजिडेंट लीडरशिप द्वारा बुधवार को राज्य तथा राज्य के बाहर की जेलों में बंद कश्मीरी राजनेताओं को रिहा करने को लेकर धरने प्रदर्शन का आहवान किया था. हिरासत में लिए जाने से पहले मलिक ने संवादाताओं के सामने कहा कि कुछ कैदी दो दशक से जेलों में बंद हैं और उन्हें रिहा नहीं किया जा रहा है. मलिक ने उन्हें रिहा करने की मांग भी की.

http://udaipurkiran.in/hindi

पत्नी ने फेसबुक पर खुद को बताया कुंवारी, हाईकोर्ट पहुंचा पति

0

कोलकाता, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). कलकत्ता हाईकोर्ट में एक अजीबो-गरीब मामला सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया गया है. एक शादीशुदा महिला ने फेसबुक पर खुद को कुंवारी बताया है. उसने वैवाहिक संबंध तलाशने में मदद करनी वाली मेट्रीमोनियल साइट पर भी अपना प्रोफाइल डाला है. इससे भड़के पति ने उच्च न्यायालय से न्याय की गुहार लगाई है. शुक्रवार को अदालत इस मामले की सुनवाई करेगी. कोर्ट ने दोनों पति-पत्नी को न्यायालय में उपस्थित रहने का आदेश दिया है.

नहारूल शेख और उसकी पत्नी बागुईहाटी के रहने वाले हैं. वर्ष 2012 में इन दोनें की शादी हुई थी. नहारूल पेशे से मैकेनिकल इंजीनियर है. नौकरी के सिलसिले में पत्नी और बेटे को लेकर वह त्रिपुरा चला गया पर पत्नी वहां नहीं रहना चाहती थी. वह कोलकाता लौटी आई तो नहारूल ने उसे ससुराल में रहने को कहा. इस पर भी उसने आपत्ति जताई. ऐसे में बागुईआटी में एक फ्लैट लेकर वह रहने लगे. कुछ दिन बाद नहारूल को पत्नी के फेसबुक स्टेट्स और मेट्रीमोनियल साइट पर पोस्ट की गई प्रोफाइल का पता चला तो वह सन्न रह गया. पत्नी ने खुद को कुंवारा बता रखा है. पति-पत्नी के बीच विवाद शुरू हो गया.

बुधवार को नहारूल ने बताया कि पति-पत्नी के रूप में रहने के बावजूद पत्नी ने उसे न केवल धोखा दिया है, बल्कि विभिन्न जरिए से अपने लिए अलग से पति भी तलाशने की कोशिश कर रही है. यह गैरकानूनी है. अंतत: नहारूल ने थाना बागुईआटी में पत्नी के खिलाफ एक शिकायत दर्ज करा दी. अब मामला अदालत में पहुंच गया है. शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई होनी है.

http://udaipurkiran.in/hindi

आतंकियों द्वारा औरंगजेब का अपहरण व हत्या मामले में सेना के तीन जवान हिरासत में, पूछताछ जारी

0

जम्मू, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). जून 2018 में राइफलमैन औरंगजेब के अपहरण और हत्या के मामले में सेना के तीन जवानों को हिरासत में लिया गया है. माना जा रहा है कि तीनों जवानों ने औरंगजेब के अपहरण और हत्या से पूर्व उनके बारे में कुछ जानकारी सोशल मीड़िया पर सांझा कर दी थी जिसके चलते आतंकियों को उनके छुट्टी पर जाने की जानकारी मिल गई थी. सेना की पुलिस तीनों जवानों से इस बारे में पूछताछ कर रही है. हिरासत में लिए गए जवानों की पहचान 44 राष्ट्रीय राइफल्स के आबिद वानी, तजामुल अहमद और आदिल वानी के रूप में की गई है.

मिली जानकारी के अनुसार हिरासत में लिए गए तीनों जवानों ने औरंगजेब के बारे में कुछ जानकारी सोशाल मीड़िया पर सांझा कर दी थी. सोशाल मीड़िया पर औरंगजेब के बारे में जानकारी प्राप्त करने पर ही आतंकियों को औरंगजेब के उपहरण में मदद मिली थी. हिरासत में लिए गए दो सेना के जवान पुलवामा के हैं और एक कुलगाम जिले का निवासी है. उल्लेखनीय है कि जून 2018 में राइफलमैन औरंगजेब पुलवामा से अपने घर पुंछ के लिए निकला था. रास्ते में आतंकियों ने औरंगजेब का उपहरण कर लिया और उसके बाद हत्या कर दी गई थी.

http://udaipurkiran.in/hindi

फंदे से झूलता प्रेमी युगल का शव मिलने से सनसनी

0

बालागढ़, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). हुगली जिले के गुप्तिपाड़ा रेलवे स्टेशन के नजदीक बुधवार सुबह एक झोपड़ी से प्रेमी युगल का फंदे से झूलता हुआ शव बरामद होने से इलाके में सनसनी फैल गयी. मृतकों के नाम नारु वैद्य और राधिका बांसफोर बताये जा रहे हैं.

स्थानीय सूत्रों के अनुसार नारु और राधिका का विवाह अलग-अलग हुआ था. लेकिन दोनों के बीच विवाहोत्तर संबंध बन गया था. इसको लेकर दोनों परिवारों में अक्सर अशांति होती रहती थी. बताया जा रहा है कि चार दिन पहले नारु और राधिका एक-दूसरे के साथ भाग गये थे. वे दोनों मंगलवार को ही इलाके में वापस आये थे. बालागढ़ थाने की पुलिस का अनुमान है कि दोनों ने आत्महत्या की है. बहरहाल, पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है और मामले की जांच में जुटी है.

http://udaipurkiran.in/hindi

मुजफ्फरपुर में मुथूट फाइनेंस की भगवानपुर शाखा से दिनदहाड़े 10 करोड़ का पांच बैग सोना लूटा

0

मुजफ्फरपुर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). सदर थानान्तर्गत भगवानपुर चौक के पास मुथूट फाइनेंस की एक शाखा से बुधवार को दिनदहाड़े करोड़ों रुपये का पांच बैैैग सोना अपराधियों ने लूट लिया. लूटी गई सोने की कीमत 10 करोड़ बतायी जा रही है.

दोपहर करीब बारह बजे के आसपास सभी कर्मचारी अपना-अपना कार्य कर रहे थे. कुछ अपराधी आये और गोल्ड लोन लेने के बहाने कार्यालय में घुस गए. कार्यालय के अंदर आते ही हथियारों के बल पर फाइनेंस कार्मियों के साथ मारपीट करते हुए सभी को बंधक बना मिला. पांच बैग सोना और कुछ कैश लूट कर सभी बाइक पर सवार होकर भाग निकले.

इस बड़ी लूट की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में खलबली मच गई. ज़िला के आलाधिकारी एसएसपी मनोज कुमार, नगर उपाधीक्षक मुकुल रंजन, थानाध्यक्ष सुनील कुमार दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए और मामले की छानबीन की. शहर की नाकेबंदी कर गहन जांच भी कराई जा रही है. सीसीटीवी कैमरा को खंगाला जा रहा है. एसएसपी ने सोने का मूल्य 05 करोड़ रुपये आँका बताया है.

http://udaipurkiran.in/hindi

रंगदारी नहीं देने पर व्यवसायी के पुत्र को मारी गोली, मौत

0

पटना/नवादा, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). गोविंदपुर थाना क्षेत्र के थाली बाजार में रंगदारी नहीं दिए जाने पर अपराधियों ने एक व्यवसायी के पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी. घटना की सूचना मिलने पर मौके पर दल-बल के साथ एसपी पहुंचे.

थाली बाजार के रहने वाले व्यवसायी से अपराधी 10 लाख रुपये रंगदारी की मांग कर रहे थे. व्यवसायी ने 29 जनवरी से मोबाइल पर 10 लाख रुपये की रंगदारी मांगे जाने की शिकायत पुलिस से की थी. इसपर एसपी के आदेश के बाद दो फरवरी को थाना में मामला दर्ज किया गया था. इस बीच मंगलवार रात लगभग एक बजे अपराधियों ने व्यवसायी के घर में घुसकर उसके पुत्र पीयूष को गोली मार दी. पीयूष को गोली सिर में लगी इससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई. पीयूष सातवीं कक्षा का छात्र था और नवादा में रहकर पढ़ाई करता था. एक दिन पहले ही वह घर आया था. घटना की सूचना मिलने पर एसपी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली.

http://udaipurkiran.in/hindi

रोजवैली मामले में ईडी ने दो पुलिस अधिकारियों को भेजा नोटिस

0

कोलकाता, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). सारदा चिटफंड मामले में कोलकाता पुलिस आयुक्त और सीबीआई के बीच चल रहे घमासान के बीच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी मैदान में कूद गई है. ईडी ने करीब 18,000 करोड़ रुपये के रोजवैली चिटफंड घोटाला मामले में कोलकाता पुलिस के दो आईपीएस अधिकारियों को नोटिस भेजा है. उनसे चिटफंड घोटाले की जांच से जुड़े तथ्यों की जानकारी देने को कहा गया है. इन अधिकारियों के नाम हैं, मुरलीधर शर्मा और कल्याण मुखर्जी.

मुरलीधर शर्मा कोलकाता पुलिस के आतंकरोधी दस्ता स्पेशल टास्क फोर्स के उपायुक्त हैं जबकि कल्याण मुखर्जी कोलकाता पुलिस के साउथ ईस्ट डिविजन के उपायुक्त के पद पर तैनात हैं. इन्हें नोटिस भेजकर जल्द से जल्द रोजवैली मामले से जुड़े तथ्य मुहैया कराने के लिए कहा गया है. उल्लेखनीय है कि मुरलीधर शर्मा न सिर्फ कोलकाता बल्कि देशभर के सम्मानित आईपीएस अधिकारियों में शुमार करते हैं. उनके बेहतरीन कार्यों का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पिछले साल अमेरिकी संसद में आतंकवाद रोधी अभियान के बारे में पेश की गई रिपोर्ट में उनकी खूब सराहना हुई थी.

बिहार के बोधगया में हुए ब्लास्ट के मामले में शर्मा की निगरानी में एसटीएफ की टीम ने अब तक नौ आतंकियों को गिरफ्तार किया है. यहां तक कि उन्हीं की खुफिया सूचना पर एनआईए ने लश्कर ए तैयबा के मोस्ट वांटेड आतंकी को केरल से स्वतंत्रता दिवस के समय गिरफ्तार किया था. वह अपने निष्पक्ष कार्रवाई के लिए जाने जाते हैं. राजनीतिक उठापटक के बावजूद उन्होंने आतंक विरोधी अभियान में केंद्रीय एजेंसियों की लगातार मदद और सराहना की है. ऐसे अधिकारी को भी चिटफंड मामले में नोटिस भेजे जाने को लेकर लोग अचंभित हैं. बताया गया है कि रोजवैली मामले की जांच जब चल रही थी तब ये दोनों अधिकारी इस मामले में जांच की निगरानी कर रहे थे. ईडी के मुताबिक, रोजवैली मामले में जांच से संबंधित कुछ जानकारियां इन दोनों अधिकारियों से लेनी है, इसलिए इनसे कुछ दस्तावेज मांगे गए हैं. आवश्यकता पड़ने पर पूछताछ भी होगी.

http://udaipurkiran.in/hindi

छोटी बहन से कहासुनी होने पर एनसीसी कैडेट ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

0

कानपुर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). नौबस्ता थाना क्षेत्र में बुधवार को छोटी बहन से कहासुनी होने पर एनसीसी कैडेट (छात्रा) ने फांसी लगा ली. फांसी पर लटका शव देख परिजनों के होश उड़ गये. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

नौबस्ता स्थित गंगा कॉलोनी में रहने वाले बलबीर सिंह प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड हैं. इनकी बड़ी बेटी विशाखा जनपद के सिविल लाइंस डीजी कॉलेज में एनसीसी कैडेट है, इसके साथ ही वह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी कर रही थी. बुधवार को विशाखा का दिव्यांग छोटी बहन गुड्डन से घरेलू कामकाज को लेकर मामूली कहासुनी हो गई. इस बात को लेकर विशाखा काफी परेशान हो गई और अपने कमरे में चली गई. काफी देर तक बेटी के कमरे से बाहर न आने पर मां सुनीता पहुंची तो बेटी का शव पंखे के कुंडे से दुपट्टे के सहारे लटक रहा था. यह देख उनके पैरों तले जमीन खिसक गई.

मामले की जानकारी परिजनों ने ड्यूटी पर गये पिता व पुलिस को दी. एनसीसी कैडेट के आत्महत्या किये जाने की सूचना पर नौबस्ता थाना पुलिस पहुंची और शव को नीचे उतारा. घटना को लेकर पुलिस ने परिजनों से पूछताछ की. नौबस्ता इंस्पेक्टर समर बहादुर सिंह ने बताया कि घटनास्थल की जांच करने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. प्रथम दृष्टया परिजनों से पूछताछ में बहन से झगड़कर फांसी लगाने की बात सामने आ रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

पत्नी से विवाद के बाद युवक ने गोली मारकर की आत्महत्या

0

एटा, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). जैथरा थाना क्षेत्र के गांव नगला खंगार में पत्नी से विवाद के बाद युवक ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली.
नगला खंगार निवासी देव सिंह (35) पुत्र राम सिंह का मंगलवार देर रात किसी बात को लेकर अपनी पत्नी से विवाद हो गया था. इसी विवाद के चलते उसने देर रात खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली. परिजन पुलिस को बगैर सूचना दिए बुधवार सुबह उसका शव जिला अस्पताल लाए. अस्पताल प्रशासन की सूचना पर आई पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

राहुल गांधी और राबर्ट वाड्रा अपराधीः संबित पात्रा

0

नई दिल्ली, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्षी दल के मुख्यालय के बाहर लगे पोस्टर पर दो अपराधियों की तस्वीर लगी है, जिसमें एक नेशनल हेराल्ड मामले में जमानत पर बाहर है और दूसरे से प्रवर्तन निदेशालय मनी लांड्रिंग के सामने पेश हुआ है. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जमानत पर बाहर हैं तो वहीं वाड्रा मनी लांड्रिंग के मामले में फंसे हैं. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार कांग्रेस पार्टी के एजेंडे में है.

पात्रा ने आरोप लगाया कि वाड्रा की जो 8-9 संपत्तियां लंदन में हैं, उनमें से एक 2009 में पेट्रोलियम डील के लिए कमीशन में मिली थी. इसके शेयर जिनटेक्स कंपनी से स्काइलाइट कंपनी में शेयर किए गए थे. इसके साथ भी उन्होंने यह भी आरोप भी लगाया कि दिल्ली के मालचा मार्ग में भी वाड्रा की एक संपत्ति है, जिसके बारे में कम ही लोगों को पता है. उन्होंने कहा कि ये प्रॉपर्टी जगदीश शर्मा के नाम पर है और वह वाड्रा के करीबी हैं. बाद में इस संपत्ति को एमजीआर-एमजीएफ को दिया गया जो अगस्ता वेस्टलैंड मामले में आरोपित हैं. भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि 2019 की जंग भ्रष्टाचारियों के समूह और पारदर्शी शासन के बीच में होने वाली है.

http://udaipurkiran.in/hindi

रॉबर्ट वाड्रा के करीबी मनोज अरोड़ा की गिरफ्तारी पर 107 फरवरी तक रोक

0

नई दिल्ली, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने रॉबर्ट वाड्रा के करीबी मनोज अरोड़ा की गिरफ्तारी पर लगी रोक 107 फरवरी तक बढ़ा दिया है. पिछले 2 फरवरी को कोर्ट रॉबर्ट वाड्रा की गिरफ्तारी पर भी 107 फरवरी तक अंतरिम रोक लगा दी थी. कोर्ट ने वाड्रा को 07 फरवरी को ईडी के समक्ष पेश होने का निर्देश दिया था. पिछले 11 जनवरी को कोर्ट ने मनोज अरोड़ा को निर्देश दिया था कि वह प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के साथ जांच में सहयोग करें.

ईडी के मुताबिक लंदन में वाड्रा की करीब 1.9 मिलियन ब्रिटिश पाउंड की संपत्ति के लिए दुबई से पैसे का इंतजाम किया गया था. लंदन की ये संपत्ति 12, ब्रायनस्टोन स्क्वायर में स्थित है. इस संपत्ति को संजय भंडारी 1.9 मिलियन ब्रिटिश पाउंड में खरीदी थी और उसे 2010 में 1.9 मिलियन ब्रिटिश पाउंड में ही बेच दी थी. जबकि भंडारी ने 65900 ब्रिटिश पाउंड इसके रेनोवेशन पर खर्च कर चुका है. इसका साफ मतलब है कि उस संपत्ति का असली मालिक भंडारी नहीं था बल्कि रेनोवेशन का खर्च वाड्रा ने वहन किया था.

http://udaipurkiran.in/hindi

कुशीनगर में कच्ची शराब पीने से तीन की मौत

0

कुशीनगर, 07 फरवरी (उदयपुर किरण) (अपडेट). जिले के तरयासुजान थाना क्षेत्र के ग्राम जवहीदयाल में बुधवार की सुबह जहरीली शराब पीने से एक साथ तीन लोगों की मौत हो गई. मौत के बाद अवैध शराब कारोबार बंद कराने को लेकर ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिये भेजा है.

ग्रामीणों ने शवों को रोककर जमकर हंगामा किया. प्रशासन इसे स्वाभाविक मौत बता रहा था. लेकिन ग्रामीणों का तेवर देख शवों को पाेस्टमार्टम के लिए भेजने पर ग्रामीण शांत हुए. एक शव का मंगलवार की रात ही परिजनों ने दाह संस्कार कर दिया था. मरने वाले सभी अलग-अलग परिवार के सदस्य हैं. बताया जा रहा है कि डेबा निषाद (65), हीरालाल निषाद (35) और अवध (50) मजदूरी का कार्य करते थे.

रोज की तरह मंगलवार की शाम काम से लौटे तो गांव के समीप ईंट-भट्ठों पर बनने वाली कच्ची शराब पीने चले गए. घर लौटे तो सभी की हालत अचानक खराब हो गई और उल्टी होने लगी. परिजन इन्हें अस्पताल ले गए, जहां तीनों की मौत हो गई. भूखल के शव काे परिजनों ने रात में जला दिया. जब यह खबर गांव में फैली तो पूरा गांव सुबह इकट्ठा हो गया और डेबा व हीरालाल के शव को गांव में रोक लिया.
पुलिस क्षेत्राधिकारी आरके तिवारी व एसडीएम बीके प्रसाद मौके पर पहुंचे. अधिकारियों ने इनकी मौत स्वाभाविक बताई तो महिलाएं हंगामा करने लगीं. इस पर पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने निर्देश दिया कि दोनों शवों का पोस्टमार्टम कराया जाए. एसपी ने बताया कि रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का असली कारण पता चलेगा.

http://udaipurkiran.in/hindi

करण जौहर के खिलाफ दर्ज हुआ केस

0

मुंबई, 07 फरवरी, (उदयपुर किरण). करण जौहर के टीवी शो काफी विद करण में पहले भी कई बार विवाद हुए हैं, लेकिन भारतीय क्रिकेट टीम के दो खिलाड़ियों हार्दिक पांड्या और के एल राहुल वाले एपीसोड़ से जुड़ा विवाद शांत होने का नाम नहीं ले रहा है और अब ये मामला अदालत तक जा पंहुचा है. मिली जानकारी के अनुसार, राजस्थान के जोधपुर की स्थानीय अदालत में करण जौहर के साथ साथ इन दोनों क्रिकेटरों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है. इस एपीसोड़ के दौरान इन दोनों क्रिकेटरों पर कथित तौर पर महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणियों के आरोप हैं. इन टिप्पणियों की गूंज

मीडिया में हुई, तो भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने सख्त कदम उठाते हुए इन दोनों क्रिकेटरों को टीम से बाहर कर दिया. बाद में पंड्या द्वारा माफी मांगने पर उनकी टीम में वापसी हो चुकी है. करण जौहर भी इस पूरे विवाद पर खेद व्यक्त कर चुके हैं. करण जौहर इससे पहले अपनी फिल्म ऐ दिल है मुश्किल में पाक कलाकारों को लेकर विवादों में घिरे थे, तो उनके खिलाफ अदालतों में कई मामले दर्ज हुए थे. जोधपुर में दर्ज हुए केस को लेकर करण जौहर की टीम की ओर से कोई प्रतिक्रिया व्यक्त करने से मना कर दिया गया है. टीम का कहना है कि अदालत का नोटिस आने के बाद ही कानूनी पहलूओं को देखा जाएगा.

http://udaipurkiran.in/hindi

सीआरपीएफ जवान ने खुद को मारी गोली, मौत

0

लातेहार/रांची, 07 फरवरी (उदयपुर किरण). लातेहार जिले के हेरहंज स्थित सीआरपीएफ कैंप में 11 वीं बटालियन के एक जवान डीके रावत ने बुधवार को अपने रायफल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली. पुलिस सूत्रों के अनुसार मृतक जवान डीके रावत कुछ देर पहले ही अपनी ड्यूटी से लौटकर अपने कमरा में गया था और उसके बाद उसने अपने गले पर राइफल सटाकर फायरिंग कर आत्महत्या कर ली.

गोली नीचे से ऊपर सिर की ओर से निकल गई. आनन-फानन में उसे बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया है जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. गोली की आवाज सुनकर अन्य सीआरपीएफ के जवान दौड़ते हुए रूम में पहुंचे जहां देखा कि डीके रावत को गोली लगी है और पूरा कमरे में खून फैला हुआ है. इसके बाद सभी जवान मिलकर उसे बालूमाथ स्वास्थ्य केंद्र में लेकर गये, जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. वह मूल रूप से यूपी का रहने वाला था. बताया जा रहा है कि छुट्टी नहीं मिलने के कारण जवान परेशान रहता था. हालांकि पूरे मामले की जांच पुलिस और सीआरपीएफ के वरीय अधिकारी कर रहे हैं.

http://udaipurkiran.in/hindi

नाबालिग से दुष्कर्म, सात माह की गर्भवती, आरोपित फरार

0

शिमला, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). जिला शिमला के रामपुर थाना क्षेत्र में 14 साल की नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है. पुलिस को इस वारदात के बारे में तब पता लगा, जब पीड़ित सात महीने के गर्भ के साथ अस्पताल में दाखिल हुई. आरोपित के खिलाफ रेप व पोक्सो एक्ट के तहत रामपुर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. फिलहाल आरोपित पुलिस गिरफ्त से बाहर है.

प्राप्त जानकारी अनुसार पीड़िता झारखंड की मूल निवासी है और रामपुर में परिवार संग रह रही है. पीड़िता के माता-पिता रामपुर में कई सालों से मजदूरी करते हैं. पीड़िता को हवस का शिकार बनाने वाला आरोपित भी प्रवासी है और वारदात के बाद से फरार चल रहा है. उसके झारखंड व बिहार भागने की आशंका है और उसे पकड़ने के लिए पुलिस द्वारा दबिश दी जा रही है.

रामपुर के उप पुलिस अधीक्षक अभिमन्यु वर्मा ने बुधवार को बताया कि कल देर शाम उन्हें अस्पताल की तरफ से सूचना आई, तब पता लगा कि एक 14 साल की लड़की सात माह के गर्भ के साथ दाखिल हुई है. लड़की व उसके परिजनों के बयान पर एक आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. जो फिलहाल फरार है. उन्होंने कहा कि इस सम्बंध में आईपीसी की धारा 376 व पोक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

लाइफ इंश्योरेंस की आड़ में SBI एसबीआई के दो कर्मचारियों ने किया लाखों का घोटाला

0

व्यक्तिगत ऋण लेने वालों के खाते से उड़ाए लाखों रुपए, दोस्तों व रिश्तेदारों के नाम के खातों में कर दिए ट्रांसफर

बाड़मेर. शहर की एसबीआई मुख्य ब्रांच व एसबीआई शिव रोड शाखा में कार्य करने वाले दो कर्मचारियों ने व्यक्तिगत ऋण लेने वालों के खातों से करीब 12 लाख रुपए का घोटाला कर दिया. जब लोगों को बीमा पॉलिसी नहीं मिली और उनके खाते से प्रीमियम राशि कट गई तब यह मामला सामने आया. उपभोक्ताओं ने जब बैंक प्रबंधन से इसकी शिकायत की और बैंक प्रबंधन ने जांच की तो गबन करना सामने आया.

एसबीआई में कार्यरत बीडीएम सिकंदर उर्फ सतीश व दुर्गेश त्रिपाठी ने लाखों रुपए फर्जी तरीके से अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के खातों में हस्तांतरित कर घोटाला किया. मामले में दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है. मामले का अनुसंधान जारी है. अन्य लोगों से भी पूछताछ की जा रही है. केवलदास, अनुसंधान अधिकारी व सहायक उपनिरीक्षक

गौरतलब है कि बैंकों की ओर से दिए जाने वाले व्यक्तिगत ऋण के दौरान एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस की तरफ से उनका बीमा भी किया जाता है. इसके लिए लोन देने के दौरान प्रीमियम राशि का चैक लिया जाता है. सिकंदर व दुर्गेश ने इन्हीं चैकों का दुरुपयोग कर ऋण उपभोक्ताओं के खातों से राशि अपने रिश्तेदारों व दोस्तों के खातों में हस्तांतरित कर ली और बीमा पॉलिसी नहीं करवाई. उपभोक्ताओं को जब बीमा नहीं होने की जानकारी मिली तब यह मामला सामने आया.
दोस्तों व अपने रिश्तेदारों के खाते में जमा करवा दिए पैसे
सिकंदर उर्फ सतीश व दुर्गेश त्रिपाठी ने प्रीमियम राशि के चैक भरकर अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के खातों में जमा करवा दिए. करीब 12 लाख रुपए का घोटाला किया. पुलिस ने इन मामलों में हवन कंवर व ईश्वरलाल गर्ग को भी गिरफ्तार किया. इन दोनों लोगों के खातेे में पैसे जमा करवाए गए थे. दोनों खाताधारकों को जमानत मिल चुकी है.

http://udaipurkiran.in/hindi

ऑन ड्यूटी पुलिसकर्मी नहीं पहन सकेंगे जींस व टी-शर्ट

0

पाली. पुलिसकर्मी अब निर्धारित वर्दी और शूज में ही दिखेंगे. ड्यूटी के दौरान जींस, टीशर्ट और स्पोर्ट्स शूज पहनने पर रोक लगा दी गई है. पुलिस महानिदेशक की ओर से जारी आदेश में निर्देशित किया गया है कि कोई पुलिसकर्मी ड्यूटी के दौरान तय वर्दी के अलावा कपड़े और जूते पहने नहीं मिलना चाहिए. आदेश में जिला एसपी कार्यालय में कार्यरत कर्मचारी बुधवार को छोड़कर कार्य दिवस में वर्दी पहनेंगे. अवहेलना करने पर पुलिसकर्मी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. पुलिस मुख्यालय से आदेश मिलने के बाद सीकर एसपी में सभी थानों और कार्यालयों में इसकी पालना के लिए निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही आरएसी के अधिकारी कर्मचारी फील्ड ड्यूटी में पूरी समय वर्दी में रहेंगे. आदेश में निर्देशित किया गया है कि पुलिसकर्मी द्वारा रात्रि के समय ड्यूटी के दौरान रिफलेक्टर जैकेट, यूनिफाॅर्म जैकेट पहनने के बाद उनकी नेम प्लेट, रेंक एवं बैज छुप जाते हैं. ऐसे में पुलिसकर्मी नेम प्लेट, बैज और रेंक वर्दी के ऊपर लगाए, जिससे उनकी पहचान नहीं छुपे.

http://udaipurkiran.in/hindi

महिला काॅलेज की छात्रा की फेसबुक आईडी हैक कर अपलोड किए अश्लील फोटो

0

डूंगरपुर. शहर के राजकीय कॉलेज की छात्रसंघ कार्यकारिणी से जुड़ी एक पदाधिकारी की फेसबुक आईडी हैक कर अश्लील फोटो अपलोड किए हैं. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के पास शिकायत पहुंचने के बाद कोतवाली पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. छात्रसंघ कार्यकारिणी की पदाधिकारी ने पुलिस को लिखे पत्र में बताया कि मेरे नाम से फेसबुक आईडी बनी हुई है. इसे किसी अज्ञात व्यक्ति ने हैक कर लिया है. मेरा पुराना डाटा डिलीट कर अज्ञात व्यक्ति ने चार फरवरी को दोपहर 2.11 बजे 14 अश्लील फोटो अपलोड किए. उसी दिन 2.18 बजे अश्लील प्रोफाइल फोटो लगा रखा है. आरोपी की इस हरकत से मेरी छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहा है. इससे मैं मानसिक रूप से काफी परेशान हूं.

छात्रसंघ के पदाधिकारी ने आईटी एक्ट व साइबर क्राइम के तहत मामला दर्ज कराने की मांग की है. समाज एवं सोशल मीडिया पर मेरी छवि को क्षति पहुंची है. अज्ञात व्यक्ति के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की मांग की है. थानाधिकारी चांदमल ने बताया कि शिकायत मिलते ही जांच शुरू कर दी है. जल्द ही फेसबुक आईडी के साथ छेड़छाड़ करने वाले को गिरफ्त में लिया जाएगा. दूसरी ओर छात्रसंघ में इस बात को लेकर रोष व्याप्त है. गौरतलब है कि जिले में साइबर क्राइम के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. इसको लेकर लगातार कार्रवाई की मांग बढ़ती जा रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

दूल्हे की बिंदोली के दौरान दुल्हन भागी, पुलिस ने नाकाबंदी कर दस्तयाब किया

0

उदयपुर. जिले के सराड़ा कस्‍बे में एक तरफ दुल्हा नवजीवन में प्रवेश के सपने संजोए उल्लासित मन से घोड़ी पर सवार हुआ. डीजे रिमिक्स की धुन पर सगे-संबंधी नाच रहे थे. सब लोग शादी में मस्त थे. पूरे गांव में धूमधाम से बिंदोली निकल गई, लेकिन बिंदोली लौट कर घर पहुंची और पता लगा जिससे शादी होने वाली है वह दुल्हन घर से गायब है तो सब के होश उड़ गए. बाद में पुलिस ने नाकाबंदी कर युवती सुखेर से दस्तयाब किया. उसके द्वारा शादी नहीं करने की मंशा पर उसे माता-पिता के सुपुर्द कर दिया. घटना सराड़ा थाना के चावंड कस्बे की है.

चावंड निवासी भरत जैन की शादी फिरोजाबाद (उत्तरप्रदेश) की रहने वाली ममता पुत्री पवन कुमार जैन से तय हुई. दूल्हे के पिता महेंद्र जैन का अपने किसी परिचित के माध्यम से ममता व उसके माता-पिता से संपर्क हुआ. रिश्ते की बात तय हुई. दुल्हन ममता अपने माता-पिता के साथ पहले दो बार दूल्हे के घर भी आई. महेंद्र जैन ने अपने बेटे की शादी की सारी तैयारियां कर दी. रिश्तेदारों व परिचितों को शादी में बुलाया. दुल्हन ममता अपने माता-पिता, प्रतापगढ़ जिले के धमोत्तर में रहने वाली बहन व बहनोई सहित कई रिश्तेदारों के साथ जैन धर्मशाला में ठहरी हुई थी. जहां से किसी को बताए बिना मंगलवार शाम करीब आठ बजे गायब हो गई. बिन्दोली दूल्हा-दुल्हन की साथ में निकालनी थी, लेकिन दुल्हन के मना करने पर अकेले दूल्हे की ही निकाली. बिंदोली के घर पहुंचने के बाद जैसे ही दुल्हन के गायब होने की खबर मिली, हर कोई सकते में आ गया.

http://udaipurkiran.in/hindi

अनबन पर पीहर में रह रही पत्नी ने पति को बुलवाकर पेड़ से बंधवाया, 10 घंटे तक पीटा, आधी रात पुलिस ने छुड़ाया

0

प्रतापगढ़. जिले के सालमगढ़ थाना क्षेत्र के पिंगथली गांव में छह महीने से पीहर में रह रही पत्नी को लेने अाए दामाद को ससुराल वालों ने 10 घंटे से भी ज्यादा समय तक पेड़ से बांधकर मारपीट की. मामले की भनक लगने पर पहुंचे बड़े भाई को भी ससुराल वालों ने बंधक बना लिया. देर रात पौने दो बजे सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को चंगुल से छुड़ाया और थाने लेकर आए. पीड़ित युवक की नामजद रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने उसके काका ससुर सहित सालों के खिलाफ मामला दर्ज किया.

सालमगढ़ थानाधिकारी बुद्धाराम विश्नोई ने बताया कि पिंगथली गांव से रात डेढ़ बजे पुलिस को सूचना मिली कि गांव के ही एक घर में ही किसी युवक को बांधकर मारपीट की जा रही है. थाने से एएसआई शिशुपाल सिंह सिसोदिया मय जाप्ता 15 मिनट बाद पिंगथली पहुंच गए. वहां गांव के ही हकरू मीणा के घर के आंगन में पेड़ से बंधा हुआ युवक मिला, जिसे पुलिसकर्मियों ने छुड़वाया और अपने साथ थाने लेकर पहुंचे. अरनोद थानांतर्गत दीवाला निवासी गोपाल कुमार पुत्र जीवाराम मीणा नाम के इस युवक ने अपने काका ससुर सहित दो सालाें के खिलाफ नामजद रिपोर्ट देते हुए मारपीट सहित बंधक बनाए जाने का मामला दर्ज करवाया. पुलिस ने तीन नामजद काका ससुर नाथूलाल, दो साले शिवालाल और बद्री लाल सहित आधा दर्जन अन्य लोगों को आरोपी बनाया.

http://udaipurkiran.in/hindi

मुत्तूट में 6 करोड़ की डकैती, 465 लोगों के जेवर रखे थे

0

मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर में बुधवार को अपराधियों ने मुत्तूट फाइनेंस कंपनी के दफ्तर में घुसकर 6 करोड़ से ज्यादा की डकैती की वारदात को अंजाम दिया. अपराधी पिस्टल के दम पर 5 बैगों में गहने और दो लाख रुपए कैश लेकर फरार हो गए. वारदात सदर थाने से 50 मीटर की दूरी पर हुई. लॉकर में 465 ग्राहकों का करीब 9.50 करोड़ रुपए का सोना रखा हुआ था.

http://udaipurkiran.in/hindi

सरकार ने कहा- 2018 में एयरपोर्ट पर चोरी की 58 घटनाएं हुईं, दिल्ली नंबर-1

0

नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार ने बुधवार को संसद में एक सवाल के जवाब में बताया कि देश के विभिन्न एयरपोर्ट पर पिछले साल चोरी की 54 घटनाएं हुईं. इनमें सबसे ज्यादा 28 घटनाएं दिल्ली एयरपोर्ट पर हुईं. नागरी विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने में राज्यसभा को यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि 2018 में देश के विभिन्न हवाई अड्डों पर चोरी के 54 मामले दर्ज किए गए. जबकि 2017 में 59 और 2016 में 64 ऐसे मामले दर्ज किए गए. सिन्हा ने बताया कि 2018 में दिल्ली हवाई अड्डे पर चोरी की 28, मुंबई में 18 और हैदराबाद में पांच घटनाएं हुईं. उन्होंने कहा कि 2017 में दिल्ली हवाई अड्डे पर चोरी की 34 घटनाएं जबकि मुंबई में 10 और हैदराबाद में 15 घटनाएं हुईं. इसी प्रकार 2016 में दिल्ली हवाई अड्डे पर ऐसी 34, मुंबई में 17 और हैदराबाद में 11 घटनाएं हुईं.

http://udaipurkiran.in/hindi

रॉबर्ट वाड्रा के समर्थन में उतरी ममता, कहा-‘हम संगठित हैं’

0

कोलकाता, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में आरोपित सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के समर्थन में अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उतर गई हैं. बुधवार को दिल्ली के प्रवर्तन निदेशालय (‍ईडी) दफ्तर में वाड्रा से हुई पूछताछ के बारे में प्रतिक्रिया के लिए जब ममता से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह सब कुछ राजनीतिक पूर्वाग्रह में किया जा रहा है. इसके खिलाफ हम सारे लोग संगठित हैं. ममता ने कहा कि चुनाव पूर्व सभी विपक्षी पार्टियां इसे लेकर चुनाव आयोग से मिलेंगी और केंद्रीय एजेंसियों के जरिए विपक्षी नेताओं को परेशान किए जाने की साजिश का जिक्र करेंगी.

बुधवार को राज्य सचिवालय में पत्रकारों से बात करते हुए ममता ने कहा कि राजनीतिक कारणों से दुर्भावनापूर्ण आपराधिक मुकदमा चलाया जा रहा है. कोई गंभीर मामला नहीं है. कुछ भी नहीं है. बस हम सभी को एक साथ नोटिस भेज रहे हैं. इसलिए हम एक साथ खड़े हैं, हम एकजुट हैं, हम साथ हैं. हम साथ चलेंगे. उन्होंने कहा कि यह जान बूझकर किया जा रहा है. सभी विपक्षी दल एकजुट हैं. हम इस पर चुनाव आयोग से मिलेंगे. चुनाव से ठीक पहले, सरकार की समाप्ति से पहले, वे हर विपक्षी नेताओं को नोटिस कैसे भेज सकते हैं?

रॉबर्ट वाड्रा के मामले का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि ये सिर्फ धोखाधड़ी के मामले हैं और वे तथाकथित बड़ी साजिश का पर्दाफाश करने के बहाने नोटिस भेज रहे हैं. हम एक साथ खड़े हैं. हम एकत्रित हैं. हम एक साथ काम करेंगे. ममता ने कहा कि वह एकजुट विपक्ष की बैठक के लिए 13-14 फरवरी को दिल्ली में रहेंगी.

उल्लेखनीय है कि चिटफंड मामले में साक्ष्यों को मिटाने के आरोपित कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के खिलाफ सीबीआई कार्रवाई को लेकर ममता तीन दिनों तक धरने पर बैठी थीं और मंगलवार रात ही अपना धरना खत्म किया है.

http://udaipurkiran.in/hindi

भगवा रंग का कुर्ता पहनने पर दरोगा लाइन हाजिर

0

हमीरपुर, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). जिले के कोतवाली में तैनात एक दरोगा का भगवा रंग का कुर्ता पहने वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद बुधवार के दिन पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने बड़ी कार्रवाई की है. दरोगा को लाइन हाजिर कर मामले की जांच के आदेश किये गये हैं.

राठ कोतवाली में तैनात उपनिरीक्षक रामआसरे त्रिपाठी के भगवा रंग का कुर्ता पहनने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था. ये उपनिरीक्षक अपने गले में विशेष पार्टी का चिन्ह भी पहने था. वायरल वीडियो को संज्ञान में लेकर पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने उसे लाइन हाजिर कर दिया है. पूरे मामले की जांच के आदेश भी किये गये हैं. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उपनिरीक्षक रामआसरे त्रिपाठी ने सेवा नियमावली का उल्लंघन किया है. मामले की जांच के आदेश दिये गये हैं.

http://udaipurkiran.in/hindi

पोती का बलात्कारी और दादी का हत्या गिरफ्तार

0

गुना, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). जिले के चांचौड़ा थानातंर्गत पोती का बलात्कारी एवं दादी का हत्यारा गिरफ्तार हो गया है. आरोपी को एक बाबा के भेष में पकड़ा गया है. एसपी राहुल कुमार लोढ़ा के मुताबिक बीनागंज में 11 अप्रैल 2014 को आरोपी ओम प्रकाश पुत्र हरिनारायण मीणा एक बच्ची के साथ ज्यादती का प्रयास कर रहा था, इसी दौरान उसकी दादी आ गई.

जब उन्होने अपनी पोती को बचाने का प्रयास किया तो आरोपी ने उन पर जानलेवा हमला कर दिया. जिससे दादी गंभीर रुप से घायल हो गईं. बाद में उनकी दौराने उपचार मौत हो गई. एसपी ने बताया कि घटना में आरोपी ओम प्रकाश को पुलिस ने 12 अप्रैल 2014 को गिरफ्तार कर लिया था और 2015 में उसे जमानत मिल गई थी. जिसके बाद आरोपी ने जान से मारने की धमकी देते हुए पीडि़त परिवार पर राजीनामा का दवाब बनाया. इस मामले में भी उस पर केस दर्ज हुआ था. इसी बीच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिलने पर आरोपी ओम प्रकाश को गिरफ्तार कर लिया गया. बुधवार को पुलिस ने बताया कि आरोपी पुलिस से बचने के लिए बाबा का भेष बदलकर घूम रहा था. इस बीच उसने विभिन्न शहरों में फरारी काटी.उसके पास से एक 12 बोर का देसी कट्टा व एक जिंदा कारतूस भी बरामद हुआ है.

http://udaipurkiran.in/hindi

शक्ति मिल गैंगरेप मामले में सरकार को अब और समय नहीं-हाईकोर्ट

0

मुंबई, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). बुधवार को न्यायाधीश भूषण धर्माधिकारी और न्यायाधीश रेवती मोहित-डेरे की खंडपीठ ने शक्ति मिल गैंगरेप मामले में राज्य को फटाकर लगाते हुए कहा कि शक्ति मिल गैंगरेप मामले में सरकार को और समय नहीं दिया जाएगा. आगामी 20 फरवरी से कानून में किए गए सुधार को दी गई चुनौती की सुनवाई निश्चित की जाएगी. वर्ष 2014 से यह मामला प्रलंबित है. पहले ही सरकार को बहुत समय दिया जा चुका है. यह मामला कई वर्र्षों से प्रलंबित होने के कारण फांसी की सुनवाई भी प्रलंबित है. इसलिए अब अधिक समय नहीं दिया जा सकता है.

मुंबई सत्र न्यायालय ने दिसंबर 2014 में इस मामले के दोषियों को फांसी की सजा दी है. दोषियों ने निर्भया मामले के बाद कानून में हुए नए सुधार को चुनौती दी है. इससे संबंधित सुनवाई तत्काल कर,मामले का फैसला जल्द से हो इसके लिए राज्य सरकार को प्रयत्न करना चाहिए, परंतु ऐसा नहीं हुआ. इस मामले को लेकर खंडपीठ ने सरकार को फटकार लगाई.

http://udaipurkiran.in/hindi

गांव गढ़ी टिकोला में पांच शिकारी दबोचे गए, सात मृत पशु मिले

0

गिरफ्तार पांचों शिकारियों को विशेष पर्यावरण अदालत, कुरुक्षेत्र में करेंगे पेश

सोनीपत, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). वन्य प्राणी टीम ने बुधवार की सुबह सोनीपत के गांव गढ़ी टिकोला के पास में पांच शिकारियों को गिरफ्तार कर लिया. इन शिकारियों के पास से सात मृत जानवरों और शिकार में प्रयोग किए जाने वाले यंत्र भी बरामद किए गए. गिरफ्तार शिकारियों को 7 फरवरी को विशेष पर्यावरण अदालत कुरुक्षेत्र में पेश किया जाएगा.

डिवीजनल वाइल्ड लाइफ ऑफिसर रोहतक दीपक अलावादी ने बताया कि बुधवार की सुबह वन्य प्राणी रक्षक नवीन को मिली सूचना के आधार पर रोहतक के वन्य प्राणी निरीक्षक जयभगवान शर्मा व वन्य प्राणी रक्षक देवेंद्र, सोनीपत के वन्य प्राणी निरीक्षक सत्यपाल तथा वन्य प्राणी रक्षक नवीन व नीरज की टीम ने गांव गढ़ी टिकोला की सीमा में नाकाबंदी कर शिकारियों को पकड़ लिया. इन लोगों के पास से शिकार किये गये सात मृत जानवर मिले. इनमें पांच बीजू तथा एक जंगली बिल्ली और एक जंगली खरगोश शामिल हैं. इनके पास से शिकार के लिए प्रयोग किये जाने वाले कड़की, भाला व अन्य सहायक उपकरण भी बरामद किये.

अलावादी ने बताया कि गिरफ्तार किये जाने वाले सभी शिकारी मुरथल, सोनीपत में आरके कालोनी के निवासी हैं, जिनमें अकरम, नरेश नाथ, राजेश नाथ तथा राकेश नाथ और अमर नाथ शामिल हैं. अलावादी ने बताया कि इन शिकारियों को वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है. इन्हें आज हवालात में रखा जाएगा तथा अगली सुबह कुरुक्षेत्र स्थित विशेष पर्यावरण अदालत में पेश किया जाएगा.

http://udaipurkiran.in/hindi

स्कूल में छात्र की हत्या का खुलासा, बदला लेने के लिए मारा था चाकू, छात्र गिरफ्तार

0

फतेहाबाद, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). गांव जाण्डली कलां के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में सोमवार को एक छात्र पर चाकू से हमला कर हत्या करने के मामले में पुलिस ने आरोपित छात्र अंकुश को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने आरोपित को बुधवार को अदालत में पेश किया जहां से उसे बाल सुधार गृह हिसार भेज दिया गया है. पुलिस की जांच में खुलासा हुआ कि छात्र बिन्टू की हत्या एक षडयंत्र के तहत की गई थी.

इस मामले में पुलिस षडयंत्र रचने वाले तीन अन्य युवकों से भी पूछताछ कर रही है. इनमें युवकों में एक युवक स्कूल में नहीं पढ़ता जबकि हत्या आरोपित सहित तीन छात्र इस योजना में शामिल थे. घटना के तीन दिन पहले स्कूल के पीछे इन बच्चों ने बिन्टू को सबक सिखाने की रणनीति तैयार की थी. क्योंकि बिन्टू व उसके गुट के छात्र अंकुश के साथ मारपीट करते थे, जिसका बदला लेने के लिए रणनीति तैयार की गई थी. उसी के चलते सोमवार को 12वीं कक्षा के छात्र बिन्टू की चाकू मारकर हत्या कर दी गई. उपरोक्त षडयंत्र में स्कूल के दो छात्र व एक गांव का युवक शामिल था. बिन्टूू को सबक सिखाने के लिए हमलावर गुट के एक अन्य छात्र ने अपने घर से मुर्गा काटने वाला चाकू हत्या आरोपित को मुहैया करवाया था. पुलिस ने उपरोक्त तीन अन्य बच्चों को पूछताछ के लिए थाने में बुलाया.

पुलिस हिरासत में लिए गए दसवीं कक्षा के छात्र अंकुश ने बताया कि बिन्टू व उसके आधा दर्जन से अधिक साथी छात्र प्रताड़ित करते थे और मारपीट करके उसे जातिसूचक गालियां भी देते थे. मारपीट करने वालों को सबक सिखाने के लिए अपने स्कूल के तीन व गांव के एक युवक का सहारा लिया. उसने बताया कि सोमवार को भी उसे पीटने के लिए बिन्टू स्कूल से बाहर ले जा रहा था तभी उसने चाकू से हमला कर दिया. छात्र ने कहा कि उसका इरादा हत्या करना नहीं था, बल्कि मारपीट न करे इसलिए दबदबा बनाना था.

http://udaipurkiran.in/hindi

कैबिनेट : अनियमित जमा योजनाओं को दंडनीय अपराध बनाने वाले विधेयक में संशोधन को मंजूरी

0

नई दिल्ली, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). केन्द्र सरकार ने अनियमित जमा व बचत योजनाओं को गैर-कानूनी बनाने वाले विधेयक में संशोधन को मंजूरी दे दी. सरकार का कहना है कि विधेयक के माध्यम से ऐसी योजनाओं को लाना और उसका प्रचार करना दंडनीय अपराध होगा.
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को ‘बैनिंग ऑफ अनरेगुलेटिड डिपोजिट स्कीम बिल-2018’ में संशोधन को मंजूरी दी.

मंत्रिमंडल के फैसलों की जानकारी देते हुए केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि केन्द्र सरकार ने 18 जुलाई, 2018 को इस विधेयक को संसद में पेश किया था. इसके बाद इसे स्थाई समिति को भेजा गया. इस पर वित्त से जुड़ी स्थाई समिति ने 3 जनवरी को अपनी रिपोर्ट भेजी थी. इसे कैबिनेट ने आज मंजूरी दे दी. प्रसाद ने कहा कि इस कानून की खास बात है कि अनियमित जमा योजना पूरी तरह गैर-कानूनी होंगी. ऐसी योजनाओं को लाना दंडनीय अपराध होगा. उस पर भारी जुर्माना होगा. स्थाई समिति ने अपनी रिपोर्ट में इसके प्रावधानों को अधिक स्पष्ट बनाने का सुझाव दिया था. इन सुझावों के आधार पर कॉलम तीन और पांच में बदलाव को मंजूरी दी गई है.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि विधेयक के कानून बनने के बाद अनियमित जमा योजना का विज्ञापन करने वाले के भी खिलाफ कार्रवाई होगी. नियमित जमा योजनाओं से जुड़ा एक ऑनलाइन डाटा बेस तैयार किया जाएगा. फ्री लाइसेंसिंग नहीं होगी. दोषी व्यक्ति की संपत्ति बेचकर जमाकर्ताओं का पैसा लौटाया जाएगा. उन्होंने बताया कि सीबीआई ने पिछले चार सालों के दौरान इससे जुड़े 166 मामले दर्ज किए हैं. सबसे ज्यादा बंगाल और ओडिशा में है.

http://udaipurkiran.in/hindi

आरबीआई में करेंसी घोटाला, कोर्ट एसआईटी से कराए जांचः उटगी

0

मुंबई, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). बुधवार को मुंबई पत्रकार संघ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में आरटीआई फोरम के सदस्य़ विश्वास उटगी ने आऱोप लगाया कि भारतीय रिजर्व बैंक में करेंसी स्कैम चल रहा है. उन्होंने कहा कि आरबीआई के करेंसी स्कैम की जांच के लिए एसआईटी को सौंपनी चाहिए.

उटगी ने बताया कि नोटबंदी के बाद देश के किसानों, मजदूरों, रिटेलर्स व होलसेल मार्केट के कारोबारियों की कमर टूट गई. देश की अर्थ व्यवस्था चौपट हो गई. कई छोटे व लघु उद्योग नोटबंदी के दौरान बंद हो गए और 2 करोड़ लोगों का रोजगार छिन गया. लेकिन कालाधन का प्रवाह नहीं रुक पाया है. इसके अलावा 40 विभिन्न कॉर्पोरेट डिफॉल्टर कंपनियों के पास बैंकों के 9 हजार करोड़ रुपये फंस गए. बैंकों ने इस रकम की वसूली नहीं की और एनपीए घोषित कर दिया. इससे जीडीपी प्रभावित हुई है.

बुधवार को मुंबई मराठी पत्रकार संघ में आयोजित पत्रकार परिषद में आरटीआई फोरम के सदस्य़ विश्वास उटगी ने इस मामले की जांच कराने की मांग की है. उन्होंने इसके लिए विशेष जांच दल (एसआयटी) गठित करने की मांग भी की है. उटगी ने बताया कि वह जल्द ही उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करेंगे. बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मार्च 2018 में जो रिपोर्ट पेश की थी, उसमें 1 हजार एवं 500 रुपये की 100 करोड़ रुपये से अधिक नोट अर्थात 1,41,13,50,00,00,000/- (1,41,13,50 करोड़ करोड़) मूल्य के नोट चलन में होने की बात कही गई थी. नोटबंदी के बाद केंद्रीय बैंक की ओर से बताया गया कि उसके पास 1,52,80,00,00,00,000/- (15 ट्रिलियन 280 बिलियन रुपये) बैंकिंग प्रणाली के जरिए जमा हो चुके हैं. आरबीआई की सालाना रिपोर्ट में 500 और 1000 रुपये के नोटों के जमा होने की जो रिपोर्ट दी गई है, उसमें 11,66,50,00,00,000/- (एक ट्रिलियन 166 बिलियन 500 मिलियन रुपये) अतिरिक्त पाए गए हैं. आरटीआई फोरम ने आऱोप लगाया कि नवंबर 2016 में नोटाबंदी का निर्णय लेने के बावजूद इतने बड़े पैमाने पर नोटों के चलन में रहने का मतलब है कि बड़े पैमाने पर काला धन जमा कराया गया है.

आरटीआई फोरम के सदस्य़ उटगी ने बताया कि आरबीआई ने मार्च 2016 में एक रिपोर्ट पेश की थी, जिसमें एक हजार रुपये के कुल 6 हजार 326 अरब नोटों (6,32,60,00,000) के चलन में होने की बात कही गई थी. उसी साल नवंबर 2016 में सरकार ने नोटबंदी का निर्णय लिया. आरबीआई के पास बड़े पैमाने में नोट वापस लौट आई थी. आरबीआई ने मार्च 2017 में जो रिपोर्ट जारी की, उसमें बाजार में एक हजार रुपये मूल्य के कुल 89 अरब नोट (8,90,00,000) चलन में रहने की बात कही गई. नोट बदलने की अवधि मार्च 2017 तक बढ़ाए जाने के बाद विदेशों में रहनेवाले नागरिकों की ओर से भी नोट जमा कराई गई. आरबीआई की ओर से मार्च 2018 में जो रिपोर्ट पेश की थी, उसमें 1 हजार एवं 500 रुपये की 100 करोड़ रुपये से अधिक नोट अर्थात 1 लाख 24 हजार 400 करोड़ मूल्य के नोट चलन में होने की बात कही गई. इसमें से एक हजार रुपये के कुल 66 अरब नोटों के चलन में होने की बात स्पष्ट हुई.

उटगी ने आरोप लगाया कि 66 हजार अरब मूल्य के एक हजार रुपये के नोटों की कोई जानकारी आरबीआई को देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में संसदीय समिति को आरबीआई और केंद्र सरकार से सवाल पूछना चाहिए. आरटीआई फोरम ने कहा है कि वह जल्द ही उच्च न्यायालय के साथ ही सर्वोच्च न्यायालय में भी याचिका दायर कर मामले की एसआईटी जांच कराने की मांग करेंगे. उन्होंने कहा कि आरबीआई के निर्देशों पर ही नोटों की छपाई होती है. बाजार में उपलब्ध नोटों की जानकारी आरबीआई के पास होती है. नोटबंदी के बाद 99.30 फीसदी रकम बैंकों में जमा कराई जा चुकी है. ऐसा दावा सरकार एवं आरबीआई की ओर से किय़ा गया था.

http://udaipurkiran.in/hindi

बेटी के सामने महिला को चाकू घोंपकर मार डाला

0

नई दिल्ली, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). बाहरी जिले के नांगलोई इलाके में बुधवार शाम एक महिला की उसी की बेटी के सामने युवक ने घर में घुसकर चाकू से कई वार कर निर्मम हत्या कर दी. वारदात के बाद आरोपित मौके पर से फरार हो गया. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए नजदीकी अस्पताल के शवगृह में सुरक्षित रखवा दिया है. गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंपा जाएगा. पुलिस महिला की बेटी से आरोपित के बारे में पता करने की कोशिश कर रही है, जो वारदात के बाद से काफी डरी हुई है.

शुरुआती जांच में पुलिस मामले को आपसी रंजिश और अवैध संबधों को लेकर भी देख रही है. पुलिस ने लूट की आशंका से साफ तौर पर इनकार किया है. पुलिस ने महिला का मोबाइल फोन भी जब्त किया है, जिसकी कॉल डिटेल को खंगाला जा रहा है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपित को पहले से ही पता था कि महिला घर में अपनी बेटी के साथ ही है. इससे लगता है कि आरोपित महिला को पहले से ही जानता था.

बाहरी जिले के एडिशनल डीसीपी राजेन्द्र सिंह सागर के अनुसार मृतक महिला माधुरी (45) परिवार के साथ नांगलोई इलाके में भूतों वाली गली में किराये के मकान पर परिवार के साथ रहती थी. वह करीब 15 दिन पहले ही मकान में रहने के लिए आई थी. उसका पति दया शंकर प्राइवेट नौकरी करता है. उसकी एक 11 साल की बेटी है. पीसीआर को बुधवार को माधुरी की हत्या करने की सूचना मिली. पुलिस मौके पर पहुंची. माधुरी के गर्दन आदि पर तीन से चार वार चाकू से किये हुए थे. माधुरी की बेटी से पता चला है कि वह अपनी मां के साथ घर में थी. इस बीच एक युवक आया. जिसके हाथ में चाकू था. उसने मां से कुछ बात की. कहासुनी के बीच युवक ने उसकी मां को एक के बाद एक कई चाकू मारे थे.

आरोपित खून से सना चाकू जेब में रखकर फरार हो गया था. उसकी मां खून से लथपथ हालत में फर्श पर गिर गई थी. परिवार वालों ने मौके पर पहुंचकर पीसीआर कॉल की. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर माधुरी को खून से लथपथ हालत में अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने माधुरी को मृत घोषित कर दिया. वारदात के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर आरोपित की पहचान करने की कोशिश की जा रही है. आरोपित पहले भी घर आया था. या फिर उसको पहले देखा गया था. माधुरी की बेटी से पता लगाने की कोशिश की जा रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

पोस्टमार्टम हाउस से शव बदलने से हंगामा

0

बागपत, 06 फरवरी, (उदयपुर किरण). बागपत के जिला अस्पताल में बुधवार को कोतवाली पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की ओर से बड़ी लापरवाही देखने को मिली. पोस्टमार्टम हाउस से मृतक का शव को बदल दिया गया. इसके बाद मृतक के परिजनों हंगामा खड़ा कर दिया. कोतवाली पुलिस व स्वास्थ्य विभाग ने एक बार शव का शिनाख्त कराने के बाद परिजनों को शव सौंपते हुए दूसरी बार शव को देखना उचित तक नहीं समझा. लिहाजा, मृतक के परिजनों को अन्य शव को सौंप दिया गया. इसका पता चलते ही परिजनों व ग्रामीणों ने पोस्टमार्टम हाउस पर हंगामा कर दिए. सीओ, बागपत कोतवाली व रमाला थाना पुलिस का घेराव करते हुए उनका उन्हीं का शव सौंपने की मांग पर अड़ गए. बिना शव के जाने से इंकार कर दिया.

बिजनौर के महमूदपुर निवासी मनोज त्यागी पुत्र रामप्रसाद बागपत चीनी मिल में नौकरी करता था और सोमवार को उसका शव नौरोजपुर रोड पर मिला था. इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था. दूसरी ओर मंगलवार को भभीसा निवासी अशोक पुत्र रणधीर की रमाला गांव के पास सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी और वह शामली से बड़ौत आ रहा था. रमाला थाना पुलिस ने शव का पंचनामा भरने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था लेकिन शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका था. यह दोनों शव पोस्टमार्टम में रखे हुए थे लेकिन किसी को अंदाजा नहीं था कि स्वास्थ्य विभाग व कोतवाली पुलिस इतनी बड़ी लापरवाह भी हो सकती है कि वह शव को बदलने में कोई देर नहीं करते है. पुलिस ने चौकीदार को हिरासत में लेकर कोतवाली ले आई.

http://udaipurkiran.in/hindi

सेना में भर्ती के नाम पर ठगी, विजिलेंस ने एक को किया गिरफ्तार

0

ऊना, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). सेना में भर्ती करवाने के नाम पर हिमाचल व पंजाब के युवकों से कथित तौर पर लाखों रुपयों की धनराशि ऐंठने वाले एक ठग को विजिलेंस टीम ने ऊना के रक्कड़ कालोनी में धर-दबोचा है. आरोपी युवक की पहचान हरियाणा के करनाल निवासी संजीव कुमार के रुप में हुई है. उक्त युवक के कब्जे से अलग-अलग राशि के सात-आठ चेक बरामद किए गए है. वहीं विजिलेंस टीम ने उसके कब्जे से पालमपुर में हुई भर्ती में पास करवाने की एवज में एक शिकायतकर्ता द्वारा दिए गए 2.40 लाख रुपए के चेक व 10 हजार रुपए नकद राशि भी बरामद की है.

जानकारी के अनुसार उक्त ठग हिमाचल व पंजाब के युवाओं को सेना में भर्ती करवाने के लिए पैसे ऐंठने का काम कर रहा था. उक्त युवक प्रदेश के कई युवाओं से इस संंबंध में संपर्क भी कर चुका था तथा उन्हें पैसे लेकर सेना में भर्ती करवाने का आश्वासन दे रहा था. आरोपी युवक ने पालमपुर सेना भर्ती के एक अभ्यर्थी को अढाई लाख रुपए में भर्ती करवाने का आश्वासन दिया और पैसों की मांग की. जिस पर उक्त अभ्यर्थी ने विजिलेंस टीम से संपर्क किया. जिस पर धर्मशाला व ऊना विजिलेंस टीमों ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए युवक को रक्कड़ कालोनी में ट्रैप किया. विजिलेंस आई-20 कार में रक्कड़ पहुंचे युवक ने शिकायकर्ता अभ्यर्थी से 2.40 लाख रुपए का चेक व 10 हजार रुपए नकद लिए. इसके साथ ही विजिलेंस टीम ने आरोपी युवक को हिरासत में ले लिया.

एएसपी विजिलेंस सागर चंद ने कहा कि सेना में भर्ती के नाम पर उगाही करने वाले एक युवक को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. उसे 2.40 लाख रुपए का चेक व 10 हजार रुपए नकदी लेते हुए पकड़ा है. इस दौरान युवक से कुछ अन्य अभ्यर्थियों से जुटाए गए चेक भी बरामद किए है. आरोपी के विरुद्ध भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की आधार 7(ए) के तहत मामला दर्ज किया गया है. आरोपी युवक को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा. उन्उोंने कहा कि जांच के दौरान ही इस पूरे मामले की सच्चाई सामने आएगी. उन्होंने कहा कि फिलहाल इस पूरे प्रकरण में सेना के किसी अधिकारी या अन्य व्यक्ति की संलिप्तता के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है. जांच के बाद ही सभी तथ्य सामने आ पाएगी.

http://udaipurkiran.in/hindi

पटियाला में हादसे में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत

0

चंडीगढ़, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). पटियाला में नाभा-भादसों रोड पर हुए सड़क हादसे में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई. पटियाला के गांव बींबड़ निवासी गुरदीप सिंह अपनी पत्नी बेबी और सात वर्षीय बच्चे जशन के साथ विवाह समारोह से घर लौट रहे थे.

जब नाभा रोड पर स्थित गांव कैदपुर पहुंचे तब सामने से तेज गति में कार चालक ने तीनों को टक्कर मारकर नीचे गिरा दिया, जिससे गुरदीप सिंह और बेबी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि सात वर्षीय बच्चे जशन ने स्थानीय अस्पताल में दम तोड़ दिया. पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु सिविल अस्पताल भिजवा दिए हैं. पुलिस ने अज्ञात कार चालक खिलाफ केस दर्ज करके आगे की जांच शुरू कर दी है.

http://udaipurkiran.in/hindi

हाथरस: बस पलटले से गर्भवती महिला व बच्ची की मौत

0

हाथरस, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). जनपद के चंदपा कोतवाली इलाके में बुधवार की रात में सड़क दुर्घटना में गर्भवती महिला और उसकी तीन वर्षीय बच्ची की मौत हो गई. राष्ट्रीय राजमार्ग-93 पर गांव नगला थान सिंह के निकट चार धाम यात्रा के लिए निकले श्रद्धालुओं से भरी बस जब सोरों से मध्य प्रदेश के गुना जा रही थी. इसी दौरान राजमार्ग बस पलट गई. इससे बस के बराबर चल रही मोटरसाइकिल पर सवार गांव कुंवरपुर के रहने वाले रवि का परिवार भी दब गया.

बस के नीचे दबने से रवि की गर्भवती पत्नी आरती और तीन वर्षीय पुत्री भूमि की मौत हो गई. हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दबे हुए लोगों को बस के नीचे से निकाला और जिला अस्पताल पहुंचाया. हादसे में पांच गंभीर रूप से घायलों को एसएन मेडिकल कॉलेज आगरा रेफर कर दिया, वहीं जिला अस्पताल में एक दर्जन घायलों का उपचार चल रहा है. सड़क हादसे से आक्रोशित ग्रामीणों ने बस को हटाने आई क्रेन चालक की पिटाई कर पुलिस और मीडियाकर्मियों पर भी पथराव किया.

मौके पर पहुंचे प्रशासन के आला-अधिकारियों ने जैसे-तैसे ग्रामीणों को समझाया. साथ दुर्घटनाग्रस्त बस को सड़क से हटवाकर आवागमन सुचारु कराया. एडीएम रेखा सुमन ने बताया कि हादसे में गर्भवती महिला और उसकी बच्ची और उसके गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हुई है. जिला अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात महावीर सिंह ने बताया कि पांच गंभीर घायलों को प्राथमिक उपचार देने के बाद रेफर कर दिया गया है. अन्य घायलों का उपचार किया जा रहा है.

http://udaipurkiran.in/hindi

6 .73 करोड़ रुपये के सोने के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

0

कोलकाता, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से सटे हावड़ा जिले में 19.92 किलोग्राम विदेशी सोने के बिस्कुट के साथ दो तस्करों को केंद्रीय खुफिया राजस्व ब्यूरो (डीआरआई) की टीम ने गिरफ्तार किया है. सीमा पार से सोने को लाकर हावड़ा में एक दूसरे के बीच आदान-प्रदान करने में जुटे दोनों तस्करों को डीआरआई की टीम ने चारों तरफ से घेर कर दबोचा है.

हालांकि जांच एजेंसी की ओर से तस्करों के नाम का खुलासा नहीं किया गया है. बुधवार की शाम डीआरआई के पूर्वी क्षेत्रीय उप निदेशक पार्थ प्रतिम बसु ने इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इन्हें मंगलवार को ही पकड़ा गया था. बसु ने बताया कि सोना तस्करी के एक संगठित गिरोह के बारे में पुख्ता सूचना मिली थी जिसके बाद डीआरआई की टीम हावड़ा जिले में स्थित एक संदिग्ध फ्लैट को घेरकर पहले से ही खड़ी थी. जैसे ही एक तस्कर ने दूसरे के हाथ में सोने से भरा बैग सौंपा, डीआरआई की टीम ने दोनों को धर दबोचा.तलाशी लेने पर उसमें से 19.92 किलोग्राम विदेशी सोने के बिस्कुट बरामद हुए हैं. भारतीय बाजार में इसकी कीमत करीब 6.73 करोड़ रुपये है.

प्राथमिक जांच में पता चला है कि एक सिंडिकेट मणिपुर में भारत-म्यांमार सीमा के माध्यम से म्यांमार से भारत में विदेशी सोने की भारी मात्रा में तस्करी करने और इसे पश्चिम बंगाल भेजने में सक्रिय रूप से लगा हुआ है. इसी पुख्ता सूचना के आधार पर तस्कर की पहचान सुनिश्चित की गई थी और जब वह सोना लेने वाले को सौंप रहा था तभी उसे दबोच लिया गया. इसमें से एक तस्कर ने कुछ सोने के बिस्किट अपने घर के अंदर बिस्तर के नीचे भी छिपा कर रखा था. इनके पास से बरामद किए गए सोने के बिस्कुट की कुल संख्या 120 है. यह सैंडल, बैग और गद्दे में अच्छी तरह से छुपा हुआ था.

इस जब्ती के साथ, चालू वित्त वर्ष में, पश्चिम बंगाल और उत्तर-पूर्वी राज्यों में फैले इस क्षेत्र में, डीआरआई ने लगभग 415 किलोग्राम सोना जब्त किया है. सोने और सोने के आभूषणों का मूल्य 130 करोड़ रुपये के करीब है. जब्त किए गए सोने की तस्करी बांग्लादेश, म्यांमार, नेपाल, भूटान और चीन के साथ लगी सीमा से किया गया था. 

http://udaipurkiran.in/hindi

बलात्कार के आरोप में शेकाप नेता गिरफ्तार

0

मुंबई, 06 फरवरी(उदयपुर किरण). लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर बलात्कार करने के मामले में शेतकरी कामगार पक्ष (शेकाप) केरला सेल के अध्यक्ष को एनआरआई पुलिस ने गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपी के लैपटॉप से अभी तक 560 महिलाओं के अश्लील वीडिया और फोटो बरामद किए गए हैं.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, गिरफ्तार आरोपी का नाम श्रीराग कमलासनन उर्फ़ श्री है. नवी मुंबई के उलवा परिसर में रहने वाला श्रीराग शेकाप का केरला सेल का अध्यक्ष है. उलवा में रहने वाली एक महिला की पहचान श्रीराग से एक रियल इस्टेट के काम के दौरान हुआ था. वर्ष 2017 में श्रीराग ने उस महिला को अपने कार्यालय में बुलाया था. श्रीराग ने उसे उलवा में नौकरी करने का ऑफर दिया. उलवा में ही उस महिला के बेटे का स्कूल भी था. इसके लिए महिला ने उसकी बात मान ली और रियल इस्टेट का व्यवसाय शुरू कर दिया. श्रीराम ने महिला के साथ शादी करने का झांसा देकर नजदीकी बढ़ाई और एक दिन महिला के साथ बलात्कार कर दिया. महिला ने जब घटना की शिकायत करने की बात कही, तो उसने मारपीट की और उसके बच्चे का अपहरण करने की धमकी दी.

महिला ने डर गई लेकिन श्रीराम ने कई अन्य महिलाओं के साथ भी जबर्दस्ती की थी. पीड़ित महिला को इस बीच खबर लगी कि श्रीराम ने कई दूसरी महिलाओं को भी धोखा दिया है और शारीरिक शोषण किया है. इसके बाद उसने 4 फरवरी को एनआरआई पुलिस स्टेशन में श्रीराम के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने मंगलवार को उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने उसे पुलिस रिमांड में भेज दिया. हालांकि आरोपी शेकाप नेता श्रीराग के परिवार वालों ने कहा कि उनके बेटे को फंसाया जा रहा है. राजकीय षडयंत्र के तहत फंसाया गया है.

http://udaipurkiran.in/hindi

नौकरी के नाम पर युवती से ठगे सवा पांच लाख रुपये

0

जयपुर, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). एक युवती को ऑनलाइन नौकरी का आवेदन करना उस समय भारी पड़ गया जब कम्पनी ने रजिस्ट्रेशन सहित कई प्रकिया के नाम पर उससे खाते में सवा पांच लाख रुपये से अधिक राशि जमा करवा ली.

रुपये मिलने के बाद भी जब पीड़िता की नौकरी नहीं लगी तो इस धोखाधड़ी के चलते बुधवार को साईबर थाने पहुंची और मामला दर्ज करवाया. जांच अधिकारी उपनिरीक्षक उर्मिला ने बताया कि ममता (28) निवासी रंगोली गार्डन ने मामला दर्ज करवाया कि उसने एक नवम्बर 2018 को फास्ट नौकरी डाट कॉम पर नौकरी के लिए आवेदन किया था. जिसके बाद कम्पनी की तरफ से मैसेज आया कि रजिस्ट्रेशन, कोर्स, ट्रेनिंग सहित अन्य प्रकिया के नाम पर बताए गए खाते में कई बार में पांच लाख 38 हजार रुपये की राशि जमा करवा दी.

http://udaipurkiran.in/hindi

नकबजन गिरोह का खुलासा, 19 वारदातें कबूली

0

अजमेर, 06 फरवरी (उदयपुर किरण). अजमेर जिला पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए जिला स्तरीय नकबजन गिरोह का खुलासा करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया, जबकि इनके दो अन्य साथी बालकों को निरुद्ध किया गया. अब तक की पुलिस पूछताछ में आरोपितों ने करीब 19 स्थानों पर वारदातों को अंजाम देना कबूल किया है. पुलिस आरोपितों से अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ कर रही है. जिला पुलिस अधीक्षक कुवंर राष्ट्रदीप ने बताया कि शहर एवं जिले में बढ़ती चोरी की वारदातों पर अकुंश लगाने के लिए एएसपी सरिता सिंह के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया.

आज साईबर सैल प्रभारी विजय सिंह उपनिरीक्षक को मुखबिर से सूचना मिली की शहर में हो रही चोरी, नकबजनी, लूट की वारदातों में संजय नगर निवासी रोशन व नितेश उर्फ सोन्टी कोटडा निवासी अपने साथियों के साथ मिलकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. सूचना पर साईबर सैल टीम ने क्रिश्चियनगंज थाना पुलिस के साथ मिलकर चाणक्य स्मारक के पास पंचशील नगर से शातिर नकबजन राहुल पुत्र गोविन्द बैरवा महेन्दीपुर बालाजी बालाघाट भंडारी जिला दौसा हाल किरायेदार रीजनल काॅलेज के पास बैरवा बस्ती, रोशन पुत्र मोहन लाल रेगर निासी संजय नगर चौराहा अम्बा काॅलोनी नागफणी रोड गंज अजमेर व नितेश उर्फ सोन्टी पुत्र सज्जन सिंह शेखावत आजाद नगर कोटड़ा निवासी को गिरफ्तार किया गया व दो अन्य विधि विरुद्ध सघंर्षरत बालकों को निरुद्ध किया गया. इस गैंग द्वारा शहर के विभिन्न थाना इलाकों में 19 चोरी की वारदात की गई थी.

इस गैंग के अन्य आरोपित फिलहाल फरार हैं, जिन की पुलिस तलाश कर रही है. यह गैंग सूने मकानों में रैकी कर वारदात को अंजाम देते थे. पुलिस ने तीनों आरोपितोें को कोर्ट में पेश किया है, जहां से उन्हें पुलिस रिमांड दिया गया है, इन आरोपितों से और भी वारदात खुलने की संभावना है. तरीका वारदात एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि सभी वारदातें राहुल पुत्र गोविन्द व रोशन पुत्र मोेहन लाल व नितेश उर्फ सोन्टी शेखावत व दो अन्य विधि से संघर्षरत बालकों द्वारा दिन व देर रात के समय मोटरसाइकिलों पर रैकी कर सूने मकानों में वारदातो को अंजाम देते हैं.

http://udaipurkiran.in/hindi